मेंटल हेल्थ को नुकसान पहुंचा रही है किसी की रूडनेस, तो जानिए रूड व्यक्ति से कैसे डील करना है

बहुत बार ऐसा होता है कि अन्य लोग आपसे मिस बिहेव, गलत तरीके से बात करना और आपका अपमान करते हैं। अगर आप भी ऐसे रूड लोगो से घिरे हैं, तो ये उपाय आपकी समस्या को हल कर सकते हैं।
rude logon ko aise karein deal
रूड लोग अगर आपको परेशान कर रहे हैं, तो इस तरह से करें उन्हें डील। चित्र : अडोबी स्टॉक
ज्योति सोही Published: 11 Aug 2023, 08:00 pm IST
  • 141

ऐसा माना जाता है कि अगर आप पॉज़िटिव हैं, तो हर ओर प्यार नज़र आने लगेगा। अगर आपके विचार निगेटिव हैं, तो हर व्यक्ति रूड लगने लगता है। बहुत बार ऐसा भी होता है कि चाहे घर हो या वर्कस्टेशन अन्य लोग आपसे मिस बिहेव, गलत तरीके से बात करना और आपका अपमान करते हैं। ऐसे में लोग अधिकतर मायूस, परेशान और अकेला महसूस करने लगते हैं। आप अंदर ही अंदर टूटने और बिखरने लगते हैं। वे लोग जो रूड या नकारात्मक व्यवहार (negative behaviour) करते हैं। अक्सर भूल जाते हैं कि कोई व्यक्ति उनसे किस कदर अटैच है और उनकी कही बातें, दूसरे लोगों को किस हद तक प्रभावित कर सकती है। अगर आप भी ऐसे में ही कुछ रूड यानी असभ्य लोगो से घिरे हैं, तो ये आसान उपाय आपकी समस्या को हल कर सकते हैं (How to deal with rude people)

राजकीय मेडिकल कालेज हल्द्वानी में मनोवैज्ञानिक डॉ युवराज पंत बताते हैं कि रूड व्यक्ति के व्यवहार को खुद पर किसी भी तरीके से हावी न होने दें। चाहे सामने वाला व्यक्ति कैसा भी व्यवहार करें। मगर आप अपने व्यवहार में दयालुता बनाए रखें। इसके अलावा अगर आप सामने वाले व्यक्ति की सोच से सहमत नहीं है। तब भी आप उनसे सभ्यता से ही पेश आएं। इससे उस व्यक्ति के अंदर भी आपको बदलाव महसूस होने लगेंगे। रूड व्यक्ति आपसे जैसा भी व्यवहार करता है। उसे वहीं भूल जाएं और उसे लंबे वक्त तक याद रखे। इसका प्रभाव आपकी मेंटल हेल्थ (mental health) पर भी दिखने लगता है।

रूड लोग अगर आपको परेशान कर रहे हैं, तो इस तरह से करें उन्हें डील

1 कुछ देर मौन रहें

कोई व्यक्ति जो बात बात पर आपसे गलत व्यवहार करता है। साथ ही आपको नीचा दिखाने का प्रयास करता है। ऐसी स्थिति से बचने के लिए आप कुछ देर तक शांत रहें और अपनी फीलिग्स पर काबू रखें। इससे सिचुएशन को आप आसानी से हैंडल कर पाएंगे। साथ ही किसी प्रकार के मतभेद से भी बच जाएंगे। दरअसल,दूसरा व्यक्ति किसी भी कारण से परेशान रह सकता है। ऐसे में उससे उलझने की बजाय उसे समझने का प्रयास करें।

Arrogant logon ki nishaaniyan
हेल्दी फ्रेंडशिप में परस्पर सम्मान भी महत्वपूर्ण है। कई बार आपको कंट्रोलिंग बिहेवियर वाले दोस्त मिल सकते हैं। चित्र : एडोबी स्टॉक

2 बाउंड्री सेट कर लें

अगर आपका बॉस या अन्य लोग आपसे गलत व्यवहार कर रहे हैं, तो उन्हें पलटकर जवाब देने की बजाय वहां से चले जाएं। कुछ देर सोचें और मेसेज व कॉल के ज़रिए समस्या को सुलझाने का प्रयास करें। अगर आप भी अपने व्यवहार में रूडनेस लाएंगे, तो मामला ज्यादा बिगड़ सकता है। ऐसे में एक दायरा बना लें। वे लोग जो व्यवहार से रूड है। उनसे बातचीत सीमित रखें और अपनी पर्सनल बातें उनसे शेयर करने से बचें। वे कई बार उन चीजों का भी फायदा उठाने लगते हैं।

3 ऐसे लोगों को अवॉइड करें

इनके साथ उठने बैठने से लेकर खाना खाने तक परहेज़ करे। दरअसल, रूड व्यक्ति हर जगह आपको गलत साबित करने का निरंतर प्रयास करता रहेगा। रूडनेस का कारण जैलेसी, मेंटल प्रोब्लम या आपका सॉफ्ट व्यवहार भी हो सकता है। ऐसे में रूड लोग दूसरों को दबाने का प्रयास करते रहते हैं। आप नए दोस्त बना लें और इन लोगों के सामने आने से बचें। दूरी मेंटेन करने की कोशिश करते रहें।

4 विनम्र रहें

अगर आपके व्यवहार में नम्रता रहेगी, तो ऐसे लोग अपनी इगो को भुलाकर आपका समर्थन अवश्य करेंगे। इसके लिए दूसरे व्यक्ति के कटु शब्द सुनने के बाद भी मूड को चिल रखें और अन्य लोगों के साथ नॉर्मल व्यवहार करें। अगर आप किसी भी बात पर चिल्लाती है या गुस्सा होती है, तो इसका फायदा दूसरा व्यक्ति उठाने लगता है। उसको आपको गलत साबित करने का कोई भी मौका देने से बचें।

5 बातचीत करें

आपसी मिसअंडरस्टैण्डिंग को दूर करने के लिए आपको उस व्यक्ति से बात करनी चाहिए, जो लंबे वक्त से आपसे गलत व्यवहार कर रहा है। समस्या को पहचानें और फिर उस मुद्दे पर बातचीत करें। इससे आप उस व्यक्ति की मन की स्थिति को जांच पाएंगे। साथ ही आप इस बात को भी बेहतर तरीके से समझ सकेंगे कि उसकी आपसे क्या अपेक्षाएं हैं। कुछ देर की बातचीत समस्या का हल निकाल सकती है।

friend ke prati asuraksha
आपसी मिडअंडरस्टैण्डिंग को दूर करने के लिए आपको उस व्यक्ति से बात करनी चाहिए, जो लंबे वक्त से आपसे गलत व्यवहार कर रहा है। चित्र: शटरस्टॉक

6 अपना बेस्ट दें

चाहे कोई व्यक्ति कैसा भी व्यवहार करें उसका असर आपके काम पर नहीं दिखना चाहिए। आपको हर स्टेप पर अपना बेस्ट देना चाहिए। कई बार दूसरे लोगों की बातें हमें डिमॉरलाइज़ करने लगती है। ऐसे में उनसे बचें और अपने काम पर पूरी तरह से फोक्स बनाए रखें।

ये भी पढ़ें- बार-बार बीमार पड़ना हो सकता है बर्नआउट का संकेत, जानिए आपको इससे कैसे बचना है

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
  • 141
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख