प्रोटीन और हाई फाइबर है रागी, इन स्टेप्स को फॉलो कर घर पर बनाएं हेल्दी रागी पास्ता

व्यंजनों में आटे, मैदे और बेसन का इस्तेमाल किया जाता है, मगर रागी से तैयार व्यंजन आपकी सेहत को बेहद फायदा पहुंचाते हैं। जानते हैं कैसे करें रागी के आटे से पास्ता तैयार और उसे बनाने की विधियां भी
Ragi se kaise karein pasta tayaar
रागी से तैयार पास्ता न केवल बच्चों की छोटी छोटी भूख का इंतजाम करता है बल्कि इससे शरीर को पोषक तत्वों की प्राप्ति भी होने लगती है। चित्र : अडोबीस्टाॅक
ज्योति सोही Updated: 4 May 2024, 02:08 pm IST
  • 140
Preparation Time
Preparation Time 30 mins
Cook Time
Cook Time 21 mins
Total Time
Total Time 50 mins
Serves
Serves 3

हर व्यक्ति आहार में कुछ नए पन की खोज करता है। खाने में नयापन लाने के लिए न केवल नई रेसिपीज़ को ट्राइ करना चाहिए बल्कि कुछ नए इंग्रीडिएंटस की मदद से भी डाइट को पौष्टिक और टेस्टी बनाया जा सकता है। यूं तो व्यंजनों में आटे, मैदे और बेसन का इस्तेमाल किया जाता है, मगर रागी से तैयार व्यंजन आपकी सेहत को बेहद फायदा पहुंचाते हैं। ऐसे में रागी से तैयार पास्ता न केवल बच्चों की छोटी छोटी भूख का इंतजाम करता है बल्कि इससे शरीर को पोषक तत्वों की प्राप्ति भी होने लगती है। जानते हैं कैसे करें रागी के आटे से पास्ता तैयार और उसे बनाने की विधियां भी।

एक्सपर्ट से जानें रागी के आटे के फायदे (Ragi flour benefits)

1. वेटलॉस में मददगार

इस बारे में डायटीशियन डॉ अदिति शर्मा बताती हैं कि रागी में डाइटरी फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसे आहार में शामिल करने से बार बार भूख लगने की समस्या हल हो जाती है। इस शरीर में जमा अतिरिक्त कैलोरीज़ की समस्या हल होने लगती है। इसमें पाए जाने वाले टिप्टोफन अमीनो एसिड की मदद से एपिटाइट नियंत्रित होने लगता है। इससे वेटलॉस में मदद मिलती है।

2. प्रोटीन रिच है

आहार में रागी के आटे को सम्मिलित करने से शरीर को एल्यूसिनिन प्रोटीन की प्राप्ति होती है। रागी प्रोटीन का मुख्य स्त्रोत है। इससे मसल्स बिल्डिंग में मदद मिलती है। इसके अलावा शरीर एक्टिव और फिट बना रहता है। साथ ही हड्डियों में होने वाले दर्द और ऐंठन से भी राहत मिलने लगती है।

ragi benefits
रागी कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम और पोटेशियम से भरपूर है। चित्र- अडोबी स्टॉक

3. डायबिटीज़ को करे नियंत्रित

शरीर करे डायबिटीज़ के खतरे से बचाने वाले पॉलीफेनोल्स की उच्च मात्रा रागी में पाई जाती है। इसके अलावा लो ग्लाइसेमिक इंडैक्स होने से भी ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित बना रहता है। इस ग्लूटन फ्री आहार से डाइजेशन इंप्रूव होता है। साथ ही शरीर ग्लूटन एलर्जी से भी बचा रहता है।

4. एंटी एजिंग है

एंटीऑक्सीडेंटस की मात्रा से भरपूर रागी न केवल शरीर को रोगों से मुक्त रखने में मदद करती है। वहीं इसमें मौजूद मेथियोनीन और लाइसिन जैसे अमीनो एसिड की मात्रा न केवल हेयरलॉस से बचाने में मदद करती है बल्कि इससे त्वचा पर बढ़ने वाले रैशिज, एजिंग और डेड स्किन सेल्स की समस्या से मुक्ति मिलती है। नियमित रूप से इसका सेवन करने से प्रीमेच्योग ग्रे हेयर की समस्या भी दूर होती है।

Jaanein ragi flour ke fayde
रागी में डाइटरी फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसे बाहार में शामिल करने से बार बार भूख लगने की समस्या हल हो जाती है।

कैसे करें रागी के आटे से पास्ता तैयार (Ragi flour pasta steps)

रागी पास्ता बनाने के लिए हमें चाहिए

रागी का आटा 1 कप
पानी 1 गिलास
वेजिटेबल ऑयल 1 चम्मच
नमक स्वादानुसार

इन स्टेप्स को फॉलो कर घर पर बनाएं रागी पास्ता (How to make ragi pasta at home)

  • सबसे पहले एक पैन लें और उसमें 1 गिलास पानी डालें। पानी का हल्का गर्म होने दें और धीमी आंच पर रखें।
  • उबलते हुए पानी में 1 चम्मच वेजिटेबल ऑयल डालें और स्वादानुसार नमक को भी मिला दें।
  • जब पानी उबलने लगे, तो उसमें रागी का आटा डाल दें। अब गैस को तुरंत ही बंद कर दें और बर्तन को गैस से उतार लें।
  • किसी बड़े चम्मच या कलछी की मदद से आटे को पूरी तरह से मिक्स कर लें और बर्तन के आसपास लगे आटे को इकट्ठा करें।
  • आटा जब पूरी तरह से मिक्स हो जाए, तो उसे 10 मिनट के लिए छोड़ दें और उसके बाद उसे खुले बर्तन में निकालकर गूंथें।
  • पानी की मदद से आटे को 5 से 7 मिनट तक गूंथे और मुलायम डो तैयार कर लें। ध्यान रखें इसमें कोई लम्प्स न रहे।
  • अब आटे को मोल्ड में डालने से पहले उसी शेप में तैयार कर लें, ताकि उससे पास्ता बनने में आसानी हो।
  • पहले से ग्रीस किए हुए मोल्ड में आटे को डाल दें और एक ग्रीस की हुई प्लेट में एक एक कर आटे को पास्ता का आकार देते चलें।
  • अब तैयार पास्ता को 10 से 12 मिनट के लिए स्टीम करें और स्टीम के दौरान बर्तन को ढ़क दें।
  • तैयार पास्ता में अपनी मनपंसद सब्जियां मिलाकर पकाएं और बच्चों को हेल्दी पास्ता रेसिपी सर्व करें।

ये भी पढ़ें- खीरे का सलाद खाकर हो चुके हैं बोर, तो ट्राई करें खीरे की ये 3 रेसिपी

  • 140
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख