दूध और मखाना की ये खास रेसिपी फास्टिंग के दौरान कर सकती है वेट लॉस और शुगर कंट्रोल 

मखाना को यदि दूध के साथ खाया जाए, तो इसका फायदा दूना हो जाता है। फास्टिंग के दौरान डायबिटिक और वेट लॉस की योजना बना चुकी महिलाएं भी ले सकती हैं बिना शुगर वाली दूध मखाना की ख़ास रेसिपी।
Makhane ko dudh mei daalkar khaane se iska poshan badh jaata hai
मखाने को दूध में भिगोकर खाने से शरीर और हड्डियों को मजबूती मिलती है। चित्र : शटर स्टॉक
स्मिता सिंह Updated: 23 Oct 2023, 09:13 am IST
  • 127

मखाना (Fox Nuts) पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसलिए इसकी खूब खपत होती है। पूरे देश में मखाने की खपत का 85 प्रतिशत मिथिला से आता है। इसलिए यहां उगने वाले मखाने को मिथिला मखाना (Mithila Makhaan) कहा जाता है। हाल में इसे केंद्र सरकार द्वारा जीओगरेफिकल इंडीकेशन (GI) भी दिया गया। मिथिलांचल में मखाने को दूध में भिगोकर या दूध के साथ भी खाया जाता है। इसके पीछे यह कारण बताया जाता है कि इससे शरीर और हड्डियों को मजबूती मिलती है। यदि आप नवरात्र में फास्ट रख रही हैं, तो मखाना और दूध की बिना शुगर वाली रेसिपी (without Sugar Makhana Milk Recipe) आजमा सकती हैं।

क्यों खाया जाता है दूध के साथ मखाना (Fox Nuts with Milk)

जर्नल ऑफ़ प्लांट न्यूट्रिशन में प्रकाशित शोध आलेख के अनुसार, मखाना कैल्शियम, प्रोटीन से भरपूर होता है। इसमें जिंक, मैग्नीशियम और आयरन भी होता है। मखाना एंटीऑक्सिडेंट और कुछ अमीनो एसिड की उपस्थिति के कारण रिंकल और एजिंग पर भी कारगर होता है। इसमें एंटी-एजिंग गुण होते हैं। साथ ही इसमें एंटीबैक्टीरियल, एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं ।

जब मखाने को दूध में भिगोकर कुछ घंटे के लिए रखा जाता है, तो इसका फायदा दोगुना हो जाता है। इसलिए दूध में भिगोया मखाना बच्चों, युवा और बुजुर्गों को भी दिया जा सकता है। इंडियन जर्नल ऑफ़ आयुर्वेद रिसर्च के अनुसार, मखाना मेल सेक्सुअल हेल्थ के लिए भी बढ़िया है। यह शुक्राणु की क्वालिटी और मात्रा को भी बढ़ा देता है। मखाना दूध को दिन में दो बार भी लिया जा सकता है।

मखाना और दूध की बिना शुगर वाली रेसिपी (without Sugar Makhana Milk Recipe)

इन सामग्रियों की पड़ेगी जरूरत  

1 कप मखाना, 2 कप दूध

यदि आप वीगन डाइट लेती हैं, तो काऊ मिल्क (Cow Milk) के स्थान पर बादाम दूध (Almond Milk) या काजू दूध (Cashew Milk) का प्रयोग कर सकती हैं।

4-6 पीस, बादाम, 2-4 पीस काजू, 4 पीस खजूर, 6-7 पिश्ता के दाने। पानी में इन्हें कुछ घंटों के लिए भिगो दें। 1 टेबलस्पून किशमिश भी लें।

यहां है हड्डियों को मजबूती और वेट कंट्रोल करने वाली रेसिपी (without Sugar Makhana Milk Recipe)

मखाना को हल्का घी में या बिना घी के भून लें। इसे मिक्सी में दरदरा पीस लें।

2 कप दूध जब उबलने लगे, तो इसमें मखाने और केसर स्ट्रेंड को डाल दें। 5 मिनट बाद किशमिश को छोड़ कर सभी ड्राई फ्रूट्स को कूटकर डाल दें। 1 मिनट चलाने के बाद किशमिश डाल कर फ्लेम बंद कर दें। इलायची पाउडर डालकर थोड़ी देर के लिए ढंक कर छोड़ दें। आपका हेल्दी और टेस्टी मखाना दूध रेसिपी तैयार है। खजूर और किशमिश रेसिपी में नेचुरल मीठापन ला देते हैं।

नवरात्रों में घटाएं वजन। चित्र: शटरस्टॉक
जब मखाने को दूध में भिगोकर कुछ घंटे के लिए रखा जाता है, तो इसका फायदा दोगुना हो जाता है। चित्र: शटरस्टॉक

आम दिनों में भी सूखे भूने और पिसे मखाने के 1 चम्मच को दूध के साथ मिक्स कर परिवार के सभी लोग सेवन कर सकते हैं

यहां हैं मखाने के फायदे (Fox Nuts Benefits)

पोषक तत्व से भरपूर  

100 ग्राम मखाना लगभग 347 कैलोरी एनर्जी देता है। मखाने में करीब 9.7 ग्राम प्रोटीन और 14.5 ग्राम फाइबर होता है। यह कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटैशियम और फॉस्फोरस भी स्रोत है। यह वजन घटाने में मदद कर सकता है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

डायबिटीज और हार्ट के मरीज के लिए फायदेमंद 

इसमें सैचुरेटेड फैट कम होता है। यह गुड फैट का स्रोत है। इसलिए यह मधुमेह रोगियों और हृदय रोगियों के लिए बहुत अच्छा स्नैक फूड है

ग्लूटेन फ्री होने के कारण डायबिटीज के रोगी के लिए मखाना फायदेमंद है । चित्र : शटर स्टॉक

ग्लूटेन फ्री 

यह ग्लूटेन मुक्त भी है।  ग्लूटेन से एलर्जी वाले के लिए यह फायदेमंद है।  मखाने एंटी-एजिंग भोजन के रूप में भी काम आते हैं, क्योंकि इनमें एंटी-ऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में होते हैं।

यह भी पढ़ें :- क्या आप भी बिना भूख के खाना खाती हैं? तो इन 4 स्वास्थ्य जोखिमों के लिए हमेशा रहें तैयार

  • 127
लेखक के बारे में

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।...और पढ़ें

अगला लेख