फॉलो
वैलनेस
स्टोर

विंटर ब्लूज की शिकार हैं? इन आसान तरीकों से करें अपना मूड बेहतर

Updated on: 24 December 2020, 13:05pm IST
विंटर ब्लूज एक वास्तविकता है और साइंस भी इसकी पुष्टि कर चुका है। अगर आप भी विंटर ब्लूज अनुभव कर रही हैं, तो इन आसान टिप्स की मदद से मूड करें बेहतर।
विदुषी शुक्‍ला
  • 91 Likes
ये 5 उपाय करेंगे विंटर ब्‍लूज से बचने में आपकी मदद। चित्र- शटरस्टॉक।

विंटर ब्लूज का अर्थ है वह डिप्रेशन की भावना जो सर्दियों में हमें अक्सर घेरे रहती है। सर्दियों में दुख, तनाव या चिड़चिड़ापन महसूस होता है क्योंकि हमारा शरीर SAD से गुजर रहा होता है। SAD यानी सीजनल एफक्टिव डिसऑर्डर सर्दियों में आपके खराब मूड के लिए जिम्मेदार है।
मेन्टल हेल्थ इंस्टीट्यूट के रिसर्च पेपर में प्रकाशित शोध के अनुसार सर्दियों में धूप की कमी के कारण आपके शरीर में हैप्पी हॉर्मोन्स कम होते हैं। और आपको मूड खराब होने की शिकायत होती है।

इसके इलाज के रूप में फोटोथेरेपी यानी रोशनी की मदद से शरीर में हॉर्मोनल संतुलन बनाने की प्रक्रिया का इस्तेमाल होता है। लेकिन ये हैं कुछ आसान तरीके जिनसे आप खुद ही विंटर ब्लूज के लक्षणों से राहत पा सकती हैं।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

ये भी पढ़ें- जानिए क्‍यों साल के अंत में आप ज्‍यादा उदास रहने लगती हैं? यहां हैं बचाव के उपाय

1. जल्दी सो कर उठें

सुबह जल्दी उठना एक ऐसी आदत है जिसके लिए हम सभी मम्मी से डांट सुन चुके होंगे, लेकिन फिर भी ये बहुत मुश्किल लगता है। लेकिन आपको ये सुनकर हैरानी नहीं होनी चाहिए कि सुबह जल्दी उठना आपकी आधी समस्याओं का हल है। खासकर सर्दियों में जल्दी उठने से आप खुद को विंटर ब्लूज से बचा सकती हैं। जल्दी उठने से दिन लम्बा लगता है और आपको रोशनी में ज्यादा घण्टे बिताने को मिल जाते हैं।

2. धूप में जरूर बैठें

धूप के महत्व पर जितना जोर दिया जाए कम है। सर्दियों में धूप मिलना जितना मुश्किल होता है उतना ही जरूरी भी। धूप शरीर मे मौजूद मेलाटोनिन को तोड़ती है और हैप्पी हॉर्मोन्स को बढ़ावा देती है। धूप में निकलकर आप ज्यादा एक्टिव महसूस करती हैं, जो SAD को खत्म करने के लिए आवश्यक है।

क्‍यों जरूरी है आपके लिए हर रोज सुबह 15 मिनट धूप में बैठना।चित्र- शटरस्टॉक।

3. डार्क चॉकलेट खाएं

डार्क चॉकलेट में पोलीफेनॉल्स होते हैं, जो एंडोर्फि‍न्‍स को बढ़ावा देते हैं। एंडोर्फि‍न्‍स फील गुड हॉर्मोन होता है जो आपका मूड अच्छा करने में सहायक है। हर दिन डार्क चॉकलेट का एक छोटा टुकड़ा आपको एंटीऑक्सीडेंट भी देगा और आपका मूड भी चंगा रहेगा।

4. हर दिन छोटे गोल्स तय करें और उन्हें पूरा करें

सुबह उठते ही अपना बेड बनाएं, चेहरा स्क्रब करें या बालों में मास्क लगाएं, अपनी अलमारी को व्यवस्थित करें, आधी पढ़ी किताब को पूरा करें और अपने लिए टेस्टी सूप बनाएं। दैनिक आधार पर इस तरह के छोटे-छोटे काम तय करें। इनकी लिस्ट बनाएं और जो काम होता जाए उसे टिक करते जाएं।
इससे आपको प्रोडक्टिव महसूस होगा और आपको ऐसा नहीं लगेगा कि अपने दिन भर कुछ नहीं किया। ये आपके मन मे सन्तुष्टि की भावना पैदा करेगा।

हर दिन छोटे गोल्स तय करें और उन्हें पूरा करें। चित्र- शटरस्टॉक।

5. व्यायाम करें

आप जितना एक्टिव रहेंगी, उतनी खुश रहेंगी। एक्सरसाइज एक और ऐसा तरीका है जिससे आप शरीर में हैप्पी हॉर्मोन्स को बढ़ा सकती हैं। व्यायाम करने से डोपामीन हॉर्मोन निकलता है जो आपके मूड पर सकारात्मक प्रभाव डालता है।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।