Hurt feelings : ये 4 चीजें बनती हैं किसी रिश्ते में आपके आहत होने का कारण, जानिए इस स्थिति से उबरने के उपाय

रिश्ते में बढ़ती शिकायतें और ओवरलोडिड अपेक्षाओं समेत कई चीजें स्पेशल बॉन्ड को क्रिएट करने के रास्ते में अड़चन पैदा करती हैं। जानते हैं वो कारण, जो भावनाओं को कर देते हैं आहत।

relationship ko nuksaan pahuncha skti hai relationship mei obsession
जानते हैं वो कौन से कारण हैं, जो भावनाओं को आहत कर देते हैं। चित्र : शटरस्टॉक
ज्योति सोही Published: 4 Nov 2023, 15:30 pm IST
  • 141

रिश्ते में प्यार और आर्कषण को बनाए रखने के लिए दो लोगों का साथ चलना ज़रूरी है। कई बार टॉक्सिक बिहेवियर रिलेशनशिप को कमज़ोर बना देता है, जिससे एक दूसरे की फीजिंग्स हर्ट होने लगती है और दूरी बनने लगती है। रिश्ते में लगातार बढ़ती शिकायतें और ओवरलोडिड अपेक्षाओं समेत कई चीजें स्पेशल बॉन्ड को क्रिएट करने के रास्ते में अड़चन पैदा करती हैं। इससे रिलेशन में आप कंफर्टेबल महसूस नहीं कर पाते हैं। जानते हैं वो कौन से कारण हैं, जो भावनाओं को आहत कर देते हैं और एक मज़बूत रिलेशनशिप को बनाने के लिए इन टिप्स को करें फॉलो (over hurt feelings in a relationship)।

रिश्तों में भावनाएं आहत कैसे होने लगती हैं (How feelings start getting hurt in relationship)

इस बारे में मन स्थली की फाउंडर डायरेक्टर और सीनियर साइकेटरिस्ट डॉ ज्योति कपूर का कहना है कि अपने पार्टनर के प्रति प्रेम की भावनाएं रखने के बावजूद जब आपको इग्नोरेंस और दूसरों के सामने कम आंका जाता है। तो इससे किसी भी व्यक्ति की भावनाएं आहत होने लगती हैं। हांलाकि ये सब कुछ गलत इंटेंशन या स्वार्थ के कारण नहीं किया जाता है। मगर फिर भी इससे आपसी मिसअंडरस्टैण्डिंग, तनाव व झगड़े बढ़ने लगते हैं। बिना किसी रियलाइजे़शेन के होने वाली छोटी छोटी बातें, दो लोगों के मध्य संघर्ष का कारण साबित होती है। अलग अलग लाइफस्टाइल और रहन सहन से मिलने वाले दो लोगों को एक दूसरे को समझने में वक्त लगता है। ऐसे में उन्हें आपसी समझदारी से चीजों को सुलझा लेना आवश्यक है।

Rishton mei galatfehmi kaise dur karein
जानते हैं कि किन आसान तरीकों से रिश्तों में बढ़ने वाले मतभेद दूर किए जा सकते हैं। चित्र :एडॉबीस्टॉक

जानते हैं रिलेशनशिप में फीलिंग्स हर्ट होने के कुछ सामान्य कारण (common reasons for feeling hurt in a relationship)

1. मनमुटाव को पूरी तरह से न सुलझा पाना

बार बार होने वाले झगड़े दिल में मौजूद पुरानी गलतफहमियों का कारण होते हैं। अगर आपको अपने पार्टनर से किसी भी प्रकार की परेशानी है या उसकी किसी बात से आप परेशान रहते हैं, तो उसी वक्त उस प्रॉबल्म को सॉल्व कर लें। उसके लिए हर छोटी बात पर एक दूसरे को नीचा दिखाना किसी भी समस्या का हल नहीं हो सकता है।

2. बात करने से कतराते रहना

सोशल मीडिया के इस दौर में एक साथ एक कमरे में बैठकर भी दो लोग आपस में बातचीत करने से ज्यादा अपने मोबाइल या लेपटॉप में एगेंज रहना पसंद करते हैं। इसी कारण कम्यूनिकेशन गैप बढ़ता है और छोटी छोटी बातों पर तनाव की नौबत आ जाती है। अगर आप अपने पार्टनर के लिए समय नहीं निकालेंगे और किसी भी विषय पर आपसी सहमति से आगे नहीं बढेगे, तो आपकी तकरार का होना लाज़मी है।

3. अपनी बाउन्ड्री सेट करके रखना

बातें शेयर करने से लेकर दोस्तों के साथ घूमने फिरने तक अगर आपने कुछ बाउन्ड्रीज़ सेट कर ली हैं, तो इससे दो लोगों के बीच रिश्ता सीमित होने लगता है। आप अपनी पर्सनल लाइफ को पति से भी शेयर नहीं करती हैं। चीजों को छुपाने लगते हैं और अपने फैसले खुद लेने लगती हैं। ये सब चीजें रिश्ते में आपसी कनेक्शन को कमज़ोर कर देती हैं।

4. वादों को पूरा न करना

पार्टनर से अगर कोई भी वादा करते हैं, तो उसे पूरा करना आपकी प्राथमिकता है। इससे बॉन्ड मज़बूत होने लगता है। अगर आप किए गए प्रॉमिस को किसी कारण पूरा नहीं करते हैं, तो आप अपने पार्टनर का विश्वास धीरे धीरे खो देते हैं। रिलेशनशिप को बिल्ड करने के लिए सोच समझकर वादे करें। इस तरह का व्यवहार पार्टनर को हर्ट कर सकता है।

रिलेशनशिप में फीलिंग्स हर्ट होने की समस्या को इस तरह से करें हल

1. हर्ट होने का कारण ढूंढे

खुद को हील करने के लिए सबसे पहले इस बात को समझें कि आप किस कारण से हर्ट हुए हैं। कारण तलाशने के बाद उस पर चिंतन करें। साथ ही ये भी आंकलन करें कि आपका एक स्टेप कितने लोगों के जीवन को नुकसान पहुंचा सकता है। अगर आप किसी पार्टी में हैं, तो रिएक्शन से बचें। अगर आप छोटे मनमुटाव के कारण सेपरेट होने का फैसला ले रहे हैं। तो उस पर भी गौर करें और अपने पार्टनर से बातचीत करें।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

2.लाइफ के हैप्पी मूमेंट्स के बारे में सोचें

छोटी सी गलतफहमी से अगर आपका मन हर्ट हुआ हैं, तो कुछ देर मौन धारण कर लें। उन हेल्दी मूमेंटस को याद करें। जो आपने अपने पार्टनर के साथ गुज़ारे। इसके अलावा प्रेजेंट की सिचुएशन को भी ख्याल में रखें। कई बार पार्टनर किसी तनाव में होने के कारण आपकी भावनाओं को ठेस पहुंच सकती हैं।

Romantic dating tips se relation ko banayein healthy
रिलेशनशिप में फीलिंग्स हर्ट होने की समस्या को इस तरह से करें हल। चित्र- अडोबी स्टॉक

3. पास्ट को साथ लेकर न चलें

अतीत के पन्नों को हर बार खोलकर उस पर चर्चा करना ज़रूरी नहीं है। पुरानी बातों को छोड़कर आगे बढ़े और समस्या को सुलझाने में विश्वास रखें। चीजों को पकड़कर रखने से परेशानियां बढ़ने लगती है। जो आपके रिश्ते को धीरे धीरे कमज़ोर कर देता है।

4. पार्टनर की मेंटल हेल्थ का आंकलन करें

कई बार आपका पार्टनर किसी तनाव से होकर गुज़रता है, जिससे कभी कभार उनका ओवररिएक्ट करना आपके लिए परेशानी का कारण बनने लगता है। ऐसे में उनकी मेंटल हेल्थ को समझने का प्रयास करें। इस बात को जानें कि कोई भी व्यक्ति मानसिक तौर पर परेशान हो सकता है।

5. शिकायतों से बाज़ आ जाएं

पार्टनर जब भी पास आकर बैठे, तो उससे हर बार कंप्लेंट करने की बजाय उनकी सेहत के बारे में बात करें। घर के अन्य मसलों पर विचार करें। आपका कंप्लेनिंग नेचर आपके जीवनसाथी को आपसे दूर कर सकता है। अपने रिलेशनशिप को एट्रेक्टिव और स्ट्राग बनाने के लिए एक दूसरे का ख्याल रखें। साथ ही नकारात्मक भावनाओं को पैदा ही न होने दें।

ये भी पढ़ें- कभी-कभी सेल्फ गिल्ट भी बन जाता है एंग्जाइटी का कारण, जानिए कैसे करना है डील

  • 141
लेखक के बारे में
ज्योति सोही ज्योति सोही

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख