Dry Cough : बच्चे की सूखी खांसी को दूर करने के लिए आज़माएं ये 5 घरेलू उपाय

अक्सर जुकाम या बुखार के बाद ड्राई कफ की समस्या देखने को मिलती है जिससे सूखी खांसी होती है। सूखी खांसी रात में बच्चों को परेशान कर सकती है। तो चलिये जानते हैं कुछ घरेलू उपाय जो सूखी खांसी को दूर करने में आपकी मदद करेंगे।

सूखी खांसी से छुटकारा पाने के लिए आजमाएं ये 5 घरेलू उपाय। चित्र : शटरस्टॉक
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ Updated on: 8 September 2022, 14:13 pm IST
  • 131

बरसात का मौसम अपने साथ कई तरह की बीमारियां लेकर आता है। इसके अलावा, कोविड – 19 (Covid – 19) और मंकीपॉक्स (Monkeypox) जैसी बीमारियों नें सबकी चिंताएं और भी बढ़ा रखी हैं। ऐसे में आपके लिए सबसे ज़्यादा ज़रूरी है मौसमी संक्रामण से अपना बचाव करना और सर्दी-खांसी, जुकाम-बुखार जैसी बीमारियों से अपने और अपनों को बचना। बच्चों की तबीयत खासकर इस मौसम में बिगड़ जाती हैं।

बार – बार आइस क्रीम और ठंडा पानी पीने से बच्चों को खांसी हो सकती है। यदि आपके बच्चे को भी खांसी हो गई है और जाने का नाम नहीं ले रही हैं, तो हमारे पास आपकी मदद करने के लिए कुछ घरेलू उपाय है। ये उपाय आपके बच्चे को सूखी खांसी (Dry Cough Remedies) से तुरंत राहत दिलाएंगे और डॉक्टर की दवाओं के साथ रिएक्ट भी नहीं करेंगे। तो चलिये जानते हैं घरेलू उपायों (Home Remedies) के बारे में –

जानिए सूखी खांसी को दूर करने के कुछ घरेलू उपाय

1. जब भी मौका मिले गर्म पानी पिएं

खांसी या सर्दी वाले लोगों के लिए गर्म और हाइड्रेटेड रहना महत्वपूर्ण है। जब भी आप गर्म पेय पदार्थ पीते हैं, तो यह आपके लक्षणों को तुरंत दूर कर सकता है। गर्म पानी या हर्बल चाय (Herbal Tea) सूखी खांसी, गले की जलन और ठंड को तुरंत कम कर सकती है।

2. दिन में दो तीन बार एक चम्मच शहद लें

खांसी के लिए शहद सबसे पुराने घरेलू उपचारों में से एक है। यह नैचुरल और एंटीइनफ्लेमेटरी है, और आपके गले को कोट करता है। इसमें रोगाणुरोधी प्रभाव होते हैं जो मामूली जीवाणु या वायरल संक्रमण को शांत कर सकते हैं। यह वयस्कों के साथ-साथ बच्चों के लिए भी सबसे अच्छा विकल्प है, लेकिन इसे दो साल से कम उम्र के बच्चों को नहीं दिया जाना चाहिए।

Tips : अपनी सूखी खांसी को नियंत्रित करने के लिए दिन में एक से तीन बार एक चम्मच शहद का सेवन करें। आप शहद को एक कप गर्म पानी या हर्बल टी में मिलाकर भी दिन में दो बार पी सकते हैं।

isme antibacterial gun hote hai
शहद में एंटी बैक्टीरिया गुण होते हैं। चित्र-शटरस्टॉक।

3. अदरक (Ginger)

अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो इम्युनिटी को बूस्ट करने के साथ-साथ परेशानी से राहत दिलाने में भी मदद करते हैं। यह सूखी खांसी के लिए प्रभावी घरेलू उपचारों में से एक है।

टिप: आप अदरक को चाय या काढ़े के में मिला कर पी सकती हैं। आप आधा चम्मच अदरक का पाउडर भी एक कप गर्म पानी में मिलाकर दिन में तीन बार ले सकती हैं। एक बड़ा चम्मच अदरक का रस और शहद मिलाएं और इसे दिन में दो बार लें। ध्यान दें कि बहुत अधिक अदरक आपके पेट को खराब कर सकती है।

4. हल्दी (Turmeric)

एक अन्य बेहतरीन सामाग्री है हल्दी, जिसमें करक्यूमिन होता है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-वायरल और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, इसलिए ये सूखी खांसी सहित कई समस्याओं के लिए फायदेमंद होती है। हल्दी सदियों पुरानी आयुर्वेदिक दवा है जो गठिया से लेकर सांस की बीमारियों का इलाज कर सकती है।

haldi ke fayde
आपके स्वास्थ्य के लिए चमत्कारी है हल्दी. चित्र-शटरस्टॉक।

टिप: गले में जलन से बचने के लिए आप गर्म दूध या किसी अन्य गर्म पेय में 2 – 3 चुटकी हल्दी मिलाकर पी सकती हैं। आप रात को सोने से पहले इसका सेवन कर सकती हैं।

5. गर्म पानी में नमक डालकर गरारे करें

यह गले में खराश और खांसी के इलाज के लिए सबसे प्रभावी घरेलू उपचारों में से एक है। यह गले की सूजन और खांसी को कम करता है। बस एक कप गर्म पानी में आधा छोटा चम्मच नमक तब तक मिलाएं जब तक वह घुल न जाए। गरारे करने के लिए इस्तेमाल करने से पहले घोल को थोड़ा ठंडा होने दें।

यह भी पढ़ें : एसिडिटी और पेट दर्द की समस्या से छुटकारा दिला सकता है आम का ऑयल फ्री अचार, नोट कीजिए रेसिपी

  • 131
लेखक के बारे में
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी,
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें
nextstory