क्या पनीर और मक्खन कोलेस्ट्राॅल लेवल बढ़ा देते हैं? एक्सपर्ट से जानिए गर्मियों में कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने के उपाय

हाई कोलेस्ट्रॉल के कारण हार्ट अटैक, हार्ट स्ट्रोक और अन्य खतरनाक हृदय संबंधी बीमारियों का जोखिम होता है। गर्मी के मौसम में खानपान की लापरवाही के कारण यह जोखिम बढ़ जाता है। 5 आसान स्टेप्स को फ़ॉलो कर कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित किया जा सकता है।
paneer aur cheese ke beech antar
पनीर और मक्खन में संतृप्त वसा मौजूद होता है, जो कोलेस्ट्रॉल बढ़ाते हैं। चित्र : शटरस्टॉक
स्मिता सिंह Published: 13 Jun 2023, 09:30 am IST
  • 125

गर्मी में हम खान पान में कई तरह की लापरवाही बरतते हैं। तीखा, खट्टा, मसालेदार भोजन से हम अनहेल्दी फैट गेन करते जाते हैं। इसका नतीजा होता है कोलेस्ट्रॉल लेवल का बढ़ जाना। हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल के कारण हृदय संबंधी समस्याओं के बढ़ने का खतरा भी बढ़ जाता है। विशेषज्ञ बताते हैं कि यदि कुछ उपाय को डेली रूटीन में शामिल किया जाये, तो इसे नियंत्रित किया जा सकता (Reduce High Cholesterol in summer) है।

यहां हैं गर्मी के दिन में कोलेस्ट्रॉल लेवल पर नियन्त्रण करने के एक्सपर्ट के बताये 6 उपाय (Reduce High Cholesterol in summer) 

1 मेडीटेरिनियन डाइट पर स्विच करें (mediterranean diet to lower cholesterol level)

उजाला सिग्न्स ग्रुप ऑफ़ हॉस्पिटल के फाउंडर और डायरेक्टर डॉ. शुचिन बजाज बताते हैं, ‘ऐसे कई आहार हैं, जो कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित कर सकते हैं। यदि आप आसान आहार ढूंढ रही हैं, जो हेल्दी और टेस्टी भी हो, तो भूमध्य आहार को फ़ॉलो कर सकती हैं। फलों, सब्जियों, बीन्स, साबुत अनाज, नट्स, मछली और जैतून के तेल (Olive Oil) वाले मेडीटेरिनियन डाइट पर स्विच कर सकती हैं। कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित करने के लिए रेड मीट को आहार से बाहर कर दें।’

2 एक्सरसाइज बढायें (Exercise in summer season)

अक्सर गर्मी के दिन में हमें आलस्य हो जाता है। हम एक्सरसाइज कम करने लगते हैं। जबकि हमें व्यायाम अधिक करना चाहिए। इससे कोलेस्ट्रॉल पर नियन्त्रण होगा। यदि आप बहुत सक्रिय नहीं हैं, तो व्यायाम कार्यक्रम शुरू करने से पहले अपने हृदय रोग विशेषज्ञ से जरूर बात करें। डॉक्टर के सुझाव के अनुसार गर्मी में भी नियमित रूप से एक्सरसाइज करें।

3 फाइबर की मात्रा बढायें (Fibre Supplement)

डॉ. शुचिन के अनुसार, मेडीटेरिनियन डाइट लेने के बावजूद फाइबर की खपत बढायें। फाइबर सबसे अधिक जरूरी है, क्योंकि यह वसा और कोलेस्ट्रॉल को ब्लड फ्लो में प्रवेश करने से रोक सकता है। इसके अलावा, यह लिवर को भी ब्लड से कोलेस्ट्रॉल निकालने के लिए प्रोत्साहित कर सकता है। फाइबर की पूर्ति के लिए सप्लीमेंट भी ले सकती हैं। इसबगोल भूसी (Psyllium Husk) फाइबर पूरक के लिए बढ़िया विकल्प है।

high fiber diet lein
मेडीटेरिनियन डाइट लेने के बावजूद फाइबर की खपत बढायें। चित्र : अडोबी स्टॉक

4 पनीर और मक्खन का सेवन कम करें

पनीर और मक्खन में संतृप्त वसा मौजूद होता है, जो कोलेस्ट्रॉल बढ़ाते हैं। फिजिकल एक्टिविटी कम करने से कैलोरी बर्न नहीं हो पाता है। संतृप्त वसा वाले फ़ूड शरीर में फैट बढ़ाते हैं। इसलिए गर्मी के दिन में पनीर और मक्खन का सेवन कम करें। इसकी बजाय 1 ग्लास छाछ रोज पीने की कोशिश करें

5 शरीर को अधिक अच्छा कोलेस्ट्रॉल बनाने में मदद (Good Cholesterol in summer season)

यदि आप अधिक वजन वाली हैं, धूम्रपान करती हैं, या बहुत कम एक्टिव रहती हैं, तो आपके शरीर में अच्छा (HDL) कोलेस्ट्रॉल के कम होने की संभावना (Reduce High Cholesterol in summer) है। दूसरी ओर यदि आप धूम्रपान छोड़ देती हैं, वेट कंट्रोल करती हैं और पर्याप्त व्यायाम करती हैं, तो आपके शरीर में एचडीएल यानी गुड कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ेगा।  तेज गति से टहलने, स्वीमिंग, सायकलिंग से भी गुड कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ाया जा सकता है

stretching exercise karen
तेज गति से टहलने, स्वीमिंग, सायकलिंग से भी गुड कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ाया जा सकता है। चित्र : अडोबी स्टॉक

6 तला-भुना और वसायुक्त भोजन कम करें

मफिन्स, वैफर्स, पैनकेक्स और चॉकलेट जैसे उच्च वसा वाले फ़ूड का सेवन नहीं करें। इसी तरह आइसक्रीम, कुकीज़ भी आपके कोलेस्ट्रॉल के लिए अच्छा नहीं है। यदि आप तला हुआ भोजन अधिक लेती हैं, तो यह हाई कोलेस्ट्रॉल के जोखिम को बढ़ा सकता है। पूर्ण वसा वाले डेयरी प्रोडक्ट और रेड मीट दोनों नुकसानदेह हैं। संतृप्त वसा और ट्रांस वसा दोनों ब्लड में खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ा सकते हैं। बहुत अधिक कार्बोहाइड्रेट वाले फ़ूड को एवोइड करें। इससे हाई ट्राइग्लिसराइड्स पर कंट्रोल होगा और कोलेस्ट्रॉल भी घटेगा।

यह भी पढ़ें :- Papaya in Pregnancy: कच्चा या पका हुआ, जानिए गर्भावस्था में कौन सा पपीता है आपके लिए ज्यादा फायदेमंद

  • 125
लेखक के बारे में

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है। ...और पढ़ें

अगला लेख