फॉलो

वेंटीलेशन कम होने पर ऑफि‍स में ज्‍यादा हो सकता है कोविड-19 का जोखिम : शोध

Published on:5 October 2020, 09:25am IST
ऑफिस दोबारा खुलने लगे हैं और अब हम फिर नए सामान्य की ओर बढ़ रहे हैं। तो कैम्ब्रिज की इस स्टडी को जानना आपके लिए है जरूरी।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 65 Likes
अगर आपके ऑफि‍स में वेंटिलेशन कम है तो वहां जाना आपके लिए रिस्‍की हो सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

नई ऑफिस बिल्डिंग में वेंटिलेशन यानी हवा के बहाव का सिस्टम कुछ इस तरह बनाया गया था कि कम ऊर्जा में ठंडा तापमान नियंत्रित किया जा सके। लेकिन इस तरह का ऑफिस आपके कोरोनावायरस इन्फेक्शन के जोखिम को कई गुना तक बढ़ा देता है, कहती है जर्नल ऑफ फ्लूइड मैकेनिक्स में प्रकाशित यह स्टडी।

क्या कहती है यह स्टडी

यूनिवर्सिटी ऑफ कैम्ब्रिज की रिसर्च टीम ने हाल ही में कहा कि मिक्सिंग वेंटिलेशन सिस्टम जो अधिकांश ऑफिस में होता है, वह कमरे के सभी हिस्सों में बराबर हवा देता है। यह सिस्टम हवा से फैलने वाले कोरोनावायरस को यहां से वहां आसानी से फैला देता है। इस रिसर्च टीम में भारतीय मूल के एक्सपर्ट राजेश भगत भी थे।

रिसर्च के अनुसार, अभी तक जितना डेटा उपलब्ध है उससे यह देखा जा सकता है कि इंडोर यानी घर के अंदर संक्रमण होने की अधिक सम्भावना हैं, बजाय बाहर के।

इंडोर ऑफि‍स भी आपके लिए कोविड-19 का जोखिम बढ़ा सकते हैं। चित्र : शटरस्‍टॉक

इंडोर ऑफि‍स भी आपके लिए कोविड-19 का जोखिम बढ़ा सकते हैं। चित्र : शटरस्‍टॉकडिपार्टमेंट ऑफ एप्लाइड मैथेमेटिक्स एंड थ्योरेटिकल फिजिक्स (DAMTP) के हेड पॉल लिंडेन बताते हैं,”बन्द जगहों में आपको ज्यादा समय के लिए कोरोनावायरस या किसी भी अन्य वायरस से कॉन्टैक्ट होता है। यही कारण है कि इंडोर एरिया में संक्रमण का खतरा अधिक है।”

इस शोध में शोधकर्ताओं ने सांस छोड़ने के दोनों तरीके नाक और मुंह से, सांस लेने या बोलने के दौरान को ध्यान में रखा। यही नहीं बोलने और हंसने, मास्क या बिना मास्क, को ध्यान में रखकर इसकी हीट इमेज निकालीं, जिसमें यह देखा गया कि सांस से निकलने वाली ड्रॉपलेट बन्द कमरे में किस तरह मूव करती हैं। यदि कोई व्यक्ति चल रहा था, तो उसके ड्रॉपलेट अधिक फैल रहे थे।

DAMTP के सदस्य भगत बताते हैं,”जब हम सांस लेते हैं तो हवा अधिक गर्म होती है इसलिए आपको तापमान और डेंसिटी में फर्क नजर आएगा। गर्म हवा ऊपर उठती है और बन्द कमरे में आप हवा को छत की ओर बढ़ते देख सकते हैं, हीट इमेज की मदद से।”

छोटे ऑफि‍साेें में यह जोखिम और ज्‍यादा है। चित्र: शटरस्‍टॉक
छोटे ऑफि‍साेें में यह जोखिम और ज्‍यादा है। चित्र: शटरस्‍टॉक

इस शोध में यह स्पष्ट है कि ऑफिस में जिस तरह का वेंटिलेशन होता है वह सुरक्षित नहीं है। वेंटिलेशन का सिस्टम, कमरे में कितने लोग हैं, कितनी चहल-पहल है और दरवाजे खिड़की कितना खुलते हैं-यह सभी कारक संक्रमण के जोखिम को निर्धारित करते हैं। लेकिन यह कहना गलत नहीं होगा कि अभी इंडोर एरिया में कई लोगों का साथ बैठना सुरक्षित नहीं है।

यह भी पढ़ें- क्या आप कोरोना वायरस से अभी-अभी ठीक हुए हैं? रिइंफेक्‍शन से बचने के लिए रखें इन बातों का ध्यान

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।