रिलेशनशिप में इग्नोर्ड फील कर रही हैं, तो जानिए क्या हो सकता है इसका समाधान

ऐसे समय होते हैं जब आपको एहसास होता है कि आप एक विकल्प हैं और प्राथमिकता नहीं, और अगर आपको इसका एहसास नहीं होता है, तो आप इस विचार से परेशान हो सकते है।
relationship-anxiety
तनाव को कम करके रिश्ते के तनाव को काफी हद तक कम किया जा सकता है। चित्र : एडॉबीस्टॉक
संध्या सिंह Published: 10 May 2024, 20:09 pm IST
  • 134

आप जिस व्यक्ति के साथ रहते हैं या जिससे प्यार करते है उसके लिए आप प्राथमिकता हों, सभी ऐसा चाहते हैं। यह स्वभाविक भी है, क्योंकि यह सबसे आत्मीय और नाजुक रिश्ता होता है। मगर कई बार ऐसा महसूस होता है कि आप जिसके लिए सब कुछ भूल बैठे हैं, आप उसकी प्राथमिकता में हैं ही नहीं। ऐसा लगता है कि आप बस एक ऑप्शन हैं या जरूरत की कोई चीज। यह भावना किसी के लिए भी दर्दनाक हो सकती है। पर क्या इस स्थिति का कोई समाधान हो सकता है? जवाब है हां। आइए जानते हैं कैसे।

क्या हो सकते हैं इस तरह के अनुभव के कारण

ऐसा कई कारणों से हो सकता है जैसे आपका साथी काम में अधिक व्यस्त रहता हो, कोई और उसके लिए आपसे ज्यादा जरूरी हो। कई बार तो स्पष्ट ये पता चल जाता है कि आपका साथी वास्तव में आपको या रिश्ते को प्राथमिकता नहीं दे रहा है लेकिन कई बार उन्हें ये पता नहीं चल पाता है आप कैसा महसूस कर रहे हैं और वो इस चीज से बेखबर रहते है।

कभी-कभी कुछ समय के लिए प्राथमिकता न होना ज़रूरी होता है, लेकिन अगर यह आम बात हो जाए, तो समय आ गया है कि इस प्रक्रिया को बदल दिया जाए। इसलिए आज हम आपके लिए कुछ तरीके लेकर आए है जिसे आप तब कर सकती है जब आपको लगे की आपका पार्टनर आपको प्राथमिकता नहीं दे रहा है।

rishte mei vishwas kaise banaye
भावनात्मक रूप से किसी से जुड़ाव महसूस करना कठिन लगने लगता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

इस बारे में ज्यादा जानने के लिए हमने बात की रूचि रूह से, उन्होंने कुछ चीजें हमारे साथ साझा की है जो आपके रिश्ते में आपके पार्टनर को ये बताने में मदद कर सकता है कि आप रिश्ते में प्राथमिक महसूस नहीं कर रहें है।

अगर आप भी अपने आप को इग्नोर्ड फील कर रही हैं, तो ये टिप्स आपके काम आ सकते हैं (What to do when you are feeling ignored in a relationship)

1 स्पष्ट संभावनाएं निर्धारित करें

यही तरीका है जिससे आप अपने पति या बॉयफ्रेंड के लिए प्राथमिकता बन सकती है। रिश्ते में अपनी अपेक्षाओं और ज़रूरतों को स्पष्ट रूप से बताएं। इस बारे में स्पष्ट रहें कि आप अपने की किन आदतों को सहन कर सकते है और रिश्ते में आपको क्या नहीं करना चाहिए।

अपनी संभावनाएं निर्धारित करते समय, सुनिश्चित करें कि आप अपने पार्टनर के साथ भी निष्पक्ष हैं।

2 समझदारी से काम लें

जब आपका पार्टनर आपको प्राथमिकता नहीं देता है, तो संभावना है कि इसके पीछे कोई छिपी वजह हो। अपने साथी के नज़रिए और चुनौतियों को समझने की कोशिश करें। ध्यान से सुनें और उनकी भावनाओं और संघर्षों के प्रति सहानुभूति रखें। ऐसा भी हो सकता है कि वो किसी ऐसी चीज से जूझ रहें हो जिसके बारे में शायद आपने कभी कल्पना भी न की हो। आपका पार्टनर शायद चीजों को साझा करने में हिचकिचा रहे हों, इसलिए उनके साथ बातचीत करना महत्वपूर्ण है।

3 प्यार और लगाव दिखाना है जरूरी

क्या आप अपनी छोटी- छोटी हरकतों से जैसे खाना बनाते समय प्यार भरी बातें करना, या पार्टनर के साथ सोफे पर हाथ पकड़ के बैठकर प्यार दिखात है। अगर नहीं, तो ऐसा करके देखें। अपने पार्टनर के पास जाएं और उसे अप्रत्याशित रूप से गले लगाएं। स्नेह दिखाना प्यार जताने का एक और तरीका है। इससे आपको अपनी भावनाओं को व्यक्त करने का मौका भी मिलेगा।

Unhappy partner se kaise deal karein
किसी रिश्ते को चलाने के लिए कॉम्प्रोमाइज करने और बहुत अधिक सैक्रिफाइस करने के बीच एक छोटा सा अंतर है। चित्र : एडोबी स्टॉक

4 अपनी जरूरतों के बारे में पार्टनर को बताएं

किसी भी रिश्ते में बातचीत बहुत ज़रूरी होती है और अपने साथी के साथ अपनी ज़रूरतों और अपेक्षाओं को खुलकर शेयर करना आपसी समझ और विकास के लिए बहुत ज़रूरी है। अपने साथी से यह उम्मीद करने के बजाय कि वह सहज रूप से जाने कि हमें क्या चाहिए, अपने आप को स्पष्ट और सीधे तौर पर व्यक्त करना महत्वपूर्ण है।

ध्यान रहे

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

अपनी ज़रूरतों, इच्छाओं और अपेक्षाओं को बता कर, हम अपने पार्टनर को अपने दृष्टिकोण के बारे में बताते हैं और मजेदार बात चीत के लिए अवसर पैदा करते हैं। यह खुला संवाद विश्वास को बढ़ावा देता है, कपल के बीच बंधन को मज़बूत करता है और उन्हें एक-दूसरे की ज़रूरतों को पूरा करने के लिए मिलकर काम करने में सक्षम बनाता है।

ये भी पढ़े- Puffy skin : सुबह उठते के साथ त्वचा में सूजन नजर आती है, तो इन टिप्स को जरूर करें फॉलो

  • 134
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख