सब प्यार करने वाले सोलमेट हों जरूरी नहीं, एक सोलमेट में नजर आ सकते हैं ये अद्भुत संकेत

सोशल मीडिया की दुनिया में सभी बेस्ट लगते हैं। हर जोड़ा अपनी एनिवर्सरी की फोटो में एक-दूसरे को दुनिया का बेस्ट पार्टनर कह रहा होता है। पर वास्तव में जो आपसे सोल के स्तर पर जुड़ा होता है, उसके लिए आपको इतना लाउड होने की जरूरत ही नहीं पड़ती।
Soulmate ko kaise pehchaanein
जानते हैं वो कौन से संकेत हैं, जो सोलमेट को तलाशने में होंगे कारगर। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Published: 11 May 2024, 18:30 pm IST
  • 134

प्यार करने में रोमांच होता है, आनंद होता है और कभी-कभी जटिलताएं भी होती हैं। इन सब के बावजूद हम सभी को कभी न कभी प्यार होता है। और जब प्यार होता है, तो उसमें भविष्य के बारे में बात न की जाए या न सोचा जाए, ऐसा कभी हो नहीं सकता। क्या आपको पता है कि जिससे आप प्यार करें जरूरी कि नहीं वो आपका सोलमेट हो ही। क्या आपको पता है कि आप जिसके साथ हैं, वो आपके लिए सही है या नहीं। तो चलिए जानते हैं कि आप कैसे पता लगा सकते हैं कि आप जिसके साथ हैं वो आपका सोलमेट (Signs of soulmate) है।

असल में क्या होता है सोलमेट

सोलमेट एक छोटा, लेकिन शक्तिशाली शब्द है, और सच में, यह अवधारणा थोड़ी डराने वाली हो सकती है। लेकिन सोलमेट के रिश्ते भाग्य, सितारों के सीधी रेख में होने से नहीं होते। यह किसी के साथ एक गहरा, इंटीमेट और भावुक संबंध बनाने और उतार-चढ़ाव के बावजूद उस प्यार को बनाए रखने के बारे में है। कभी-कभी, यह हमेशा के लिए नहीं रहता है।

अपने पार्टनर की लव लैंग्वेज को समझकर, गलतफहमियों को खत्म कर सकते हैं। चित्र- अडोबी स्टॉक

सोलमेट वो होते है जो आपके साथ सबसे ज्यादा कंपैटेबस होता है। सोलमेट गहरे संबंध बनाते है। फिल्मों में दिखाए गए सोलमेट का कॉन्सेपप्ट से असल दुनिया में सोलमेट बहुत अलग होते हैं। किसी भी परफेक्ट रिलेशनशिप को सोलमेट का नाम नहीं दिया जाता है। सोलमेट वह व्यक्ति होता है, जिसके साथ आप गहराई से जुड़ाव महसूस करते हैं, लेकिन किसी आश्रित या ज़रूरत के लिए नहीं।

यहां हम उन संकेतों के बारे में बता रहे हैं जो आपको अपने सोलमेट में दिखाई दे सकते हैं

आपको एक जुड़ाव महसूस होता है

जब आप किसी सोलमेट से मिलते हैं एक तुरंत ही जुड़ाव महसूस होता है, बिल्कुल ऐसा जैसे आप उन्हें पहले से ही जानते हों, भले ही आप अभी-अभी मिले हों। आपको ऐसा लगता है कि आप उस व्यक्ति को हमेशा से जानते हैं। यह वह गहरा जुड़ाव है जहां आप बस उस सोल को अपने आप पहचान लेते है।

जैसे है वैसे ही स्वीकार करता है

वह आपका जीवनसाथी है, इसका एक स्पष्ट संकेत यह है कि आप अपने पार्टनर के सामने खुद की तरह रह सकते हैं, बिना किसी रोक-टोक के, क्योंकि वह आपको वैसे ही स्वीकार करता है, जैसे आप हैं।

वह आप पर कोई निर्णय नहीं देता या आपकी खामियों के बारे में आपको बुरा महसूस नहीं कराता। वह आपमें अच्छा और बुरा सभी को स्वीकार करता है।

काफी स्ट्रांग कनेक्शन होता है

आप कैसे जान सकते हैं कि कोई आपका सोलमेट है? खैर, सोलमेट का मतलब है कि आप दोनों के बीच इतना मज़बूत संबंध है और आप एक-दूसरे को इतनी अच्छी तरह से समझ सकते हैं कि दूसरे लोग इस बंधन को समझ नहीं पाते।

इसका मतलब यह हो सकता है कि आप जान सकते हैं कि कब कोई बात आपके पार्टनर को परेशान कर रही है, भले ही किसी और ने इस पर ध्यान न दिया हो। वह यह भी जान सकता है कि आप कब परेशान हैं, भले ही आपने कुछ न कहा हो। यह सोलमेट रिलेशनशिप का संकेत है।

सीमाएं हमें दूसरों से अलग करने वाली रेखा के रूप में काम करती हैं। चित्र- अडोबी स्टॉक

हर समय एक दूसरे का साथ देते है

अगर वह आपके सपनों का सपोर्ट करता है और उन्हें हासिल करने में आपकी मदद करता है, तो आप इसे संकेत मान सकती है कि वह आपका सोलमेट है।

वह कभी भी आपसे अपने सपनों को छोड़ने के लिए नहीं कहेगा या बड़ी उपलब्धियों पर नज़र रखने के लिए आपको नीचा नहीं दिखाएगा। वह चाहेगा कि आप अपने जीवन के लक्ष्यों को प्राप्त करें, और वह रास्ते में आपका उत्साह बढ़ाने का काम करेगा।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

आप पर विश्वास करते है

कभी भी पार्टनर प्यार पर संदेह नहीं करना चाहिए या यह चिंता नहीं करनी चाहिए कि वह अब आपके साथ नहीं रहना चाहता। आप बस अपने अंतर्मन में महसूस करेंगे कि वह आपसे प्यार करता है।

ये भी पढ़े- रिलेशनशिप में इग्नोर्ड फील कर रही हैं, तो जानिए क्या हो सकता है इसका समाधान

  • 134
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख