क्या आपका वेजाइनल डिस्चार्ज हरे रंग का है? जानिए यह किस समस्या का संकेत हो सकता है

क्या आपने अपनी पैंटी पर हरे रंग का डिस्चार्ज देखा है? अगर ऐसा है तो आपको इस पर तुरंत ध्यान देने की जरूरत है।

janiye kyon hota green discharge
जानिए आपकी योनि से क्यों हो रहा है हरे रंग का डिस्चार्ज। चित्र : शटरस्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published on: 23 January 2022, 19:00 pm IST
  • 125

योनि स्राव कभी-कभी आपको बता सकता है कि आपके शरीर में क्या चल रहा है। यह एक तरल पदार्थ है जो योनि से बहता है और योनि की दीवार और गर्भाशय ग्रीवा में स्थित ग्रंथियों द्वारा निर्मित होता है। यह योनि और प्रजनन पथ को साफ और स्वस्थ रखता है।

कुछ महिलाओं को डिस्चार्ज बिल्कुल भी नहीं होता है। मगर हममें से बाकी लोगों के लिए, डिस्चार्ज लगभग दैनिक घटना है। महिलाओं में यह पूरी तरह से सामान्य है। हालांकि, आपके द्वारा अनुभव किए जाने वाले योनि स्राव के प्रकार आपके मासिक धर्म के दौरान अलग-अलग होंगे। जो कभी-कभी आपको सोचने पर मजबूर कर सकता है कि आपको जो डिस्चार्ज हो रहा है वह सामान्य है या नहीं।

ग्रीन डिस्चार्ज का मतलब क्या है?

एक स्वस्थ योनि स्राव पानी जैसा या चिपचिपा भी हो सकता है। इसका रंग सफेद या हरा भी हो सकता है। इसमें हल्की गंध भी होती है जिसमें तेज महक नहीं होती। हालांकि हरे रंग का स्राव एक सामान्य घटना नहीं है और इसके लिए चिकित्सा उपचार की आवश्यकता होती है। यह असामान्य है और आमतौर पर संक्रमण का संकेत देता है, खासकर जब दुर्गंध भी आ रही हो।

green vaginal discharge ke karan
वेजाइनल डिस्चार्ज नॉर्मल है! लेकिन यदि आपके डिस्चार्ज में खून आ रहा है, तो यह मामला गंभीर हो सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

आइए इसके कारणों के बारे में जानें

1. ट्राइकोमोनिएसिस

ट्राइकोमोनिएसिस एक यौन संचारित संक्रमण (एसटीटी) है और हरे रंग के स्राव का सबसे आम कारण है। मगर इस स्थिति वाली ज्यादातर महिलाएं एसिमटोमैटिक होती हैं। मदरहुड हॉस्पिटल खारघर, मुंबई में कंसल्टेंट ऑब्स्टेट्रिशियन एंड गायनेकोलॉजिस्ट, डॉ सुरभि सिद्धार्थ कहती हैं, “ग्रीन डिस्चार्ज का मतलब होगा कि आपको बैक्टीरिया या यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई) है। यह परजीवी के कारण देखे जाने वाले ट्राइकोमोनिएसिस संक्रमण के कारण हो सकता है।”

2. पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज (पीआईडी)

पीआईडी ​​एक महिला के प्रजनन अंग के जीवाणु संक्रमण के लिए एक सामान्य शब्द है। प्रमुख कारण दो एसटीडी हैं जिन्हें गोनोरिया और क्लैमाइडिया कहा जाता है। डॉ सिद्धार्थ कहती हैं, “इन दो संक्रमणों से जुड़ा योनि स्राव आमतौर पर अधिक पीले और हरे रंग का होता है, जिसमें दुर्गंध होती है और इससे जलन, खुजली और दर्द हो सकता है।”

3.टैम्पोन भी हो सकती है एक वजह

यदि योनि में कोई वस्तु जैसे टैम्पोन है तो हरे रंग का स्राव दिखाई दे सकता है। डॉ सिद्धार्थ कहती हैं, इसे हटाने की आवश्यकता होगी और किसी भी संभावित संक्रमण के इलाज के लिए एंटीबायोटिक का उपयोग किया जा सकता है।

4. वुल्वोवाजिनाइटिस (vulvovaginitis)

यह वुल्वोवाजिनाइटिस का संकेत भी हो सकता है, जो योनी और योनि में सूजन की विशेषता है। यह स्थिति वनस्पतियों के अतिवृद्धि का कारण बनती है जिससे क्षेत्र में सूजन हो जाती है। यह अक्सर परेशान करने वाले साबुन और सुगंधित उत्पादों के उपयोग के कारण होता है। इससे ग्रीन डिस्चार्ज हो सकता है।

5. बैक्टीरियल वेजिनोसिस

हालांकि यह ग्रीन डिस्चार्ज का सबसे आम कारण नहीं है। मगर कई मामलों में, एक बैक्टीरियल वेजिनोसिस संक्रमण मौजूद हो सकता है। लेकिन चिंता न करें यह इलाज योग्य है इसलिए अपने डॉक्टर से मिलें।

green discharge ke karan
जानिए क्यों होता है ग्रीन डिस्चार्ज। चित्र: शटरस्‍टॉक

गर्भावस्था के दौरान ग्रीन डिस्चार्ज का क्या अर्थ है?

गर्भावस्था के दौरान हरे रंग का योनि स्राव एक संकेत है कि आपको तुरंत अपने डॉक्टर को दिखाने की जरूरत है। गर्भावस्था के दौरान हरे रंग का स्राव किसी भी संभावित कारणों का संकेत दे सकता है, जैसे कि ट्राइकोमोनिएसिस, गोनोरिया, क्लैमाइडिया और बैक्टीरियल वेजिनोसिस।

हरे रंग के अलावा, डिस्चार्ज के कितने रंग होते हैं?

1. क्लियर डिस्चार्ज

अगर यह क्लियर है तो यह ओव्यूलेशन की प्रक्रिया से पहले या गर्भावस्था के दौरान हो सकता है।

2. व्हाइट निर्वहन

इसमें तेज गंध होगी और संक्रमण का संकेत हो सकता है।

3. पीला-हरा डिस्चार्ज

यह आपके खाने की आदतों में बदलाव या पूरक आहार लेने के कारण हो सकता है।

4. रेड डिस्चार्ज

यह पीरियड के दौरान मासिक धर्म के रक्तस्राव के कारण देखा जा सकता है।

5. ग्रे डिस्चार्ज

अगर आपको इस तरह का डिस्चार्ज होता है तो यह खतरनाक हो सकता है! यह बैक्टीरियल वेजिनोसिस (बीवी) के कारण देखा जा सकता है। आप तुरंत डॉक्टर से सलाह लें और इलाज कराएं।

ग्रीन डिस्चार्ज से कैसे छुटकारा पाएं? डॉ सिद्धार्थ सुझाव हैं:

डॉक्टर के निर्देशानुसार दवा लें
अपनी योनि को साफ रखें
वहां किसी भी तरह के केमिकल युक्त उत्पादों का इस्तेमाल न करें
गर्म पानी से नहाएं
सूती कपड़े से बने अंडरगारमेंट्स पहनें

याद रखें कि इसका इलाज केवल डॉक्टर ही कर सकते हैं इसलिए बिना देर किए अपॉइंटमेंट लें।

यह भी पढ़ें : Amenorrhea 101: क्या आप भी मिसिंग पीरियड्स से डरती हैं? तो जानिए इसके संभावित कारण

  • 125
लेखक के बारे में
टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory