Time Management है क्वालिटी वर्क और सफलता की चाबी, एक्सपर्ट बता रहे हैं क्यों और कैसे किया जाना चाहिए टाइम मैनेजमेंट

अगर आपकी टेबल पर हमेशा काम पेंडिंग रहता है और आप अपने परिवार के साथ भी अच्छा समय नहीं बिता पा रही हैं, तो यकीन मानिए आपको टाइम मैनेजमेंट पर ध्यान देने की जरूरत है।
time management krna hai jaruri
अपने समय को प्रभावी ढंग से प्रबंधित करने का अर्थ है लक्ष्य निर्धारित करना और उस पर काम करना। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Published: 23 Nov 2023, 06:24 pm IST
  • 145
मेडिकली रिव्यूड

कई लोगों के साथ ये परेशानी होती है कि वे कुछ काम करने की सोचते है लेकिन दिन के खत्म होने तक वो बहुत से काम करते है लेकिन वो काम नहीं कर पाते है जिसके बारे में वे सोचकर रखते है। इसके पीछे की सबसे बड़ा कारण ही टाइम मैनेजमेंट का न होना है। टाइम मैनेजमट आपको कई चीजें सीखाता है और आपके लिए कई चीजें आसान भी बना देता है।

हमारे पास सीमित समय ही होता है जिसमें से हमे ये पता होना चाहिए कि कौना सा काम प्रोडक्टिव है और कौन सा नहीं। आपको वो काम करना सबसे जरूरी है जो जिसको करने के बाद आपके अंदर कुछ प्रोडक्टिविटी आए। समय प्रबंधन करना भी एक व्यकित का कौशल हो सकता है।

यदि आप टाइम मैनेजमेंट स्किल में महारत हासिल कर लेते हैं, तो आपको फिर कभी ऐसा महसूस नहीं होगा कि आपका समय “सीमित” है। आपको ऐसा महसूस होगा जैसे सब कुछ ठीक हो रहा है, आपके पास एक दिन में अपनी ज़रूरत की हर चीज़ को पूरा करने के लिए पर्याप्त समय है।

time ko manage krna hai jaruri
टाइम को सही तरह से मैनेज करें, चित्र :शटरस्टॉक

क्या है टाइम मैनेजमेंट (What is time management)

सीनियर क्लीनिकल साइकोलॉजिस्ट डॉ. आशुतोष श्रीवास्तव बताते हैं कि समय प्रबंधन को आमतौर पर गतिविधियों को व्यवस्थित करने, प्राथमिकता देने और योजना बनाने की प्रक्रिया को कहा जाता है। इसका मतलब सिर्फ काम पर आपकी परियोजनाएं ही नहीं हैं, बल्कि आपके व्यक्तिगत जीवन में भी टाइम मैनेजमेंट जरूरी है। जिस तरह से आप अपने घर का प्रबंधन करते हैं से लेकर अपने व्यक्तिगत विकास और रचनात्मक शौक तक सब जगह टाइम मैनेजमेंट जरूरी है।

हम जानते हैं कि यदि हमारे जीवन के एक क्षेत्र में अच्छा संतुलन नहीं है, तो इसका प्रभाव बाकी सभी क्षेत्रों पर पड़ेगा। यदि हम अपनी नींद को अनुकूलित नहीं करते हैं, तो हम काम में उत्पादक नहीं होंगे। यदि हम मानसिक थकान या व्याकुलता से जूझते हैं, तो हम कुछ भी मौलिक नहीं बना पाएंगे और न ही अपनी फैमिली या दोस्तों पर ध्यान दे पाएंगे।

टाइम मैनेजमेंट क्यों जरूरी है (Why time management is important)

वुर्जबर्ग विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं द्वारा छात्रों के एक समूह पर किए गए 2014 के एक अध्ययन से पता चला है कि आप अपना समय कैसे व्यतीत करते हैं इसे नियंत्रित करने से कथित तनाव और चिंता को कम करने में मदद मिलती है। समय प्रबंधन प्रशिक्षण के दो और चार सप्ताह में, छात्रों ने तनाव की भावनाओं में कमी देखी थी।

उचित समय प्रबंधन के साथ, व्यक्ति काम और आधुनिक जीवन की मांगों से परेशान होने की भावना को दूर कर सकते हैं और सीख सकते हैं कि इसे कैसे कम किया जाए।

पर्सनल और प्रोफेशनल दोनों फ्रंट पर मिलता है टाइम मैनेजमेंट का फायदा (Benefits of time management)

1 उत्पादकता बढ़ाने में मदद करता है

प्रभावी तरीके से टाइम को मैनेज करने से आपको अपने कार्यों को प्राथमिकता देने और जो करने की आवश्यकता है उस पर ध्यान केंद्रित करने की अनुमति देता है। यह आपकी उत्पादकता को बढ़ाने में मदद करता है, यह सुनिश्चित करता है कि आप कम समय में अधिक काम पूरा करें।

2 तनाव में कमी आती है

खराब समय प्रबंधन के कारण अक्सर तनाव बढ़ जाता है। जब आपके पास एक स्पष्ट योजना होती है और आप बुद्धिमानी से समय बांट सकते है, तो आप समय सीमा के दबाव को कम कर सकते हैं और तनाव की भावना से बच सकते हैं।

3 गोल्स अचीव करना आसान हो जाता है

अपने समय को प्रभावी ढंग से प्रबंधित करने का अर्थ है लक्ष्य निर्धारित करना और उस पर काम करना। यह आपको बड़े कार्यों को छोटे, अधिक प्रबंधनीय चरणों में विभाजित करने में मदद करता है, जिससे आपके उद्देश्यों को प्राप्त करना आसान हो जाता है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

4 वर्क लाइफ को बैलेंस कर पाते हैं

काम, परिवार और पर्सनल लाइफ के बीच स्वस्थ संतुलन बनाए रखने के लिए समय प्रबंधन आवश्यक है। यह आपको अपने जीवन के विभिन्न पहलुओं के लिए समय निकालने, थकान से बचने और आपके मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है।

अगर आप टाइम मैनेजमेंट नहीं कर पाते हैं, तो ये टिप्स आपके लिए मददगार होंगे (How to make time management)

1 अपनी क्षमता और काम का सही निर्धारण करें

बहुत सारे लोग टाइम मैनेजमेंट इसलिए नहीं कर पाते, क्योंकि उन्हें अपनी क्षमताओं और जिम्मेदारियों का सही अंदाजा नहीं होता। क्षमता और कौशल से अधिक काम हाथ में ले लेना आपको अव्यवस्थित कर सकता है। जिससे आप बेवजह तनाव में आ सकती हैं। इसलिए अपने डेली रुटीन और वर्क स्पीड का विश्लेषण कर यह तय करें कि आप कितने घंटे में कितना और कैसा काम कर सकती हैं।

time management
जानिए अपना टाइम मैनेज करने के लिए कुछ टिप्स चित्र-शटरस्टॉक।

2 लक्ष्यों को निर्धारित करें

अपने छोटे और बड़े लक्ष्यों को परिभाषित, उन्हें समझे एंव जाने। यह स्पष्टता आपकी गतिविधियों का मार्गदर्शन करेगी और आपको कार्यों को प्राथमिकता देने में मदद करेगी।

3 कार्यों की जरूरत के हिसाब से प्राथमिकता दें

अपने उन कामों की पहचान करें जो सबसे ज्यादा जरूरी है और समय के प्रति संवेदनशील हैं। ऐसे काम जिनकी जरूरत ज्यादा नहीं है उन कामों पर ध्यान देने से पहले उच्च-प्राथमिकता वाली वस्तुओं पर ध्यान दें।

4 एक शेड्यूल बनाएं

विभिन्न गतिविधियों के लिए विशिष्ट समय ब्लॉक बनाएं। इससे आप एक दैनिक या साप्ताहिक शेड्यूल बनाने में सक्षम हो सकते है। हर काम के लिए ऐसे समय को चुने जिसे आप उस समय पर पूरा कर सकते है न कि सिर्फ शेड्यूल बनाने के लिए तैयार करें।

5 कार्यों को छोटे-छोटे चरणों में बांटे

बड़े कार्यों को छोटे, अधिक प्रबंधनीय चरणों में विभाजित करें। इससे काम का बोझ कम लगता है और लगातार आप आगे बढ़ते रहते है। अगर आप काम को विभाजिन नहीं करें और एक समय में दो या उससे अधिक काम करना चाहेंगे तो शायद आप एक भी काम समय पर खत्म नहीं कर पाएंगे।

ये भी पढ़े- Weight Loss Tips : बैली फैट कम करना है, तो हमेशा याद रखें ये 6 सबसे जरूरी टिप्स

  • 145
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख