Stop Crying : बहुत जल्दी, बहुत छोटी बातों पर भी रोने लगती हैं, तो इसे कंट्रोल करने के ये 6 उपाय आप ही के लिए हैं

हर बार आपके आंसू पोंछने के लिए कोई और उपलब्ध होने वाला नहीं है। फिर चाहें वह घर हो या बाहर, अगर आपको भी छोटी-छोटी बातों पर रोना आ जाता है और देर तक आपका मूड इसी स्थिति में रहता है, तो अब आपको सेल्फ हेल्प करनी चाहिए।
rone se bachav ke upay
रोने से नाक, चेहरे और आंखों के नज़दीक की ब्ल्ड वेसल्स फैलने लगती हैं। इससे चेहरे पर सूजन, पफ्फीनेस और लालिमा बढ़ने लगती है। चित्र : अडोबी स्टॉक
स्मिता सिंह Published: 12 Jul 2023, 08:00 pm IST
  • 127

लोग अक्सर दुखद घटना, सैड फिल्मों के दौरान और दुखद गाने सुनते समय रोने लगते हैं। कभी-कभार दूसरों के खराब व्यवहार, उनकी कष्ट पहुंचाने वाली बातें सुनकर भी रोना आ जाता है। कभी-कभार रोने से मन हल्का और शांत हो जाता है। रोना वास्तव में बेहतर महसूस करने में मदद कर सकता है। पर बात-बात में रोने पर शर्मिंदगी और खुद के प्रति भ्रम पैदा हो सकता है। इसलिए इसे नियंत्रित करना भी जरूरी है।

क्यों आता है रोना (Causes of Crying)

कुछ विशेष परिस्थितियों में फंस जाने या कुछ लोगों से बात करने पर आप असहाय महसूस करने लगती होंगी। दूसरे लोगों के चेहरे के कठोर भावों को देखकर भी आप तनावग्रस्त हो जाती होंगी। इसका प्रभाव भी आपके मन पर पड़ता होगा। अपने तनाव को नियंत्रित करना सीखने पर आपको अपने आंसुओं को बेहतर ढंग से नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है।

आपकी कमजोरी भी साबित करता है बार-बार रोना

यदि आप बहुत रोती हैं, तो आपको आत्मग्लानि महसूस हो सकती है। आपको यह महसूस हो सकता है कि जब लोग आपको रोते हुए देखते हैं, तो वे आपको कम गंभीरता से ले रहे हैं। आप खुद को कमजोर महसूस कर सकती हैं। यदि आप बहुत रोती हैं, तो इसका मतलब यह हो सकता है कि आपको अपने तनाव से निपटने में कठिनाई हो रही है। यहां कुछ उपाय हैं, जिनकी मदद से तुरंत रोना बंद करने में आपको मदद मिल सकती है।

यहां हैं 6 उपाय, जो आपको तुरंत रोना बंद करने में मदद कर सकते हैं (Ways to stop crying) 

1. सिर को थोड़ा ऊपर करें (raise your head slightly)

आंसुओं को गिरने से रोकने के लिए अपने सिर को थोड़ा ऊपर कर लें फिर झुकायें। आंसू आपकी पलकों के नीचे जमा हो जायेंगे। वे आपके चेहरे से नीचे नहीं बह पायेंगे। यह प्रक्रिया आंसुओं के प्रवाह को रोक सकता है। यह आपके ध्यान को दूसरी दिशा की तरफ ले जा सकता है। इसके अलावा अपने अंगूठे और तर्जनी के बीच की त्वचा पर चुटकी काटें। इसके कारण होने वाला दर्द रोने की तरफ से आपका ध्यान हटा सकता है।

2. मसल्स को स्ट्रेच करें (stretch the muscles)

कई स्टडी बताती है कि मांसपेशियों को स्ट्रेच करने पर रोने से छुटकारा मिल सकता है। इससे आपका शरीर और मस्तिष्क दोनों नियंत्रण में महसूस कर सकता है। यदि किसी व्यक्ति से बात करते हुए रोना आ जाये, तो चेहरे को स्थिर कर लें। इस पर किसी तरह का भाव नहीं आये। आप जिस व्यक्ति से बात कर रही हैं, इससे वह शांत हो जाएगा। इस बात की संभावना कम हो जाएगी कि वे ऐसी बातें कहें, जिससे आपके आंसू निकलने लगे। विशिष्ट भावनाओं को प्रदर्शित करने वाले चेहरे के भावों की तुलना में चेहरा तटस्थ रखने पर मेंटल एक्टिविटी कम ट्रिगर हो पाती है।

stretch karne se rone par control
मांसपेशियों को स्ट्रेच करने पर रोने से छुटकारा मिल सकता है। चित्र : अडोबी स्टॉक

3 पीछे हट जाएं (step back)

किसी तनावपूर्ण स्थिति, जैसे कि किसी मुद्दे पर गरमागरम बातचीत हो रही है, तो वहां से तुरंत पीछे हट जाएं। शारीरिक रूप से पीछे हटने पर रोने को बढ़ावा देने वाली भावनाएं भी स्टॉप कर जाती हैं।

4 सांस को नियंत्रित करें (Breathing Control)

सांस को नियंत्रित करने पर ध्यान दें। सचेतन रूप से गहरी सांसे लेने और धीरे-धीरे सांस छोड़ने का प्रयास करें। इससे आपको अधिक शांत महसूस करने, तनाव की समग्र भावनाओं को कम करने में मदद मिलती है। इससे रोना शुरू करने या रोते रहने की संभावना को कम करने में मदद मिल सकती है

5 तेज़ी से पलक झपकाएं (blink rapidly)

अगर आपने रोना शुरू कर दिया है, तो तेजी से बार-बार अपने पलकें झपकाएं। इससे आपके आंसू दूर हो जाएंगे, ताकि वे चेहरे पर न लुढ़क जाएं। अगर आपको लग रहा है कि अब आप रो देंगी, तो देरी से पलकें झपकाएं। इससे आंसुओं को गिरने से रोका जा सकता है

Aansoo apki aankho ko natuarally moisturize rakhte hain
अगर आपने रोना शुरू कर दिया है, तो तेजी से बार-बार अपने पलकें झपकाएं। चित्र: शटरस्‍टॉक

6 विचार और मानसिकता बदलें (Change Thoughts And Mindset)

यदि आप तनावग्रस्त महसूस कर रही हैं और ऐसा लगता है कि आप रोना शुरू कर देंगी, तो अपना ध्यान चिंताओं और आंसुओं से हटा दें। इसकी बजाय किसी और चीज़ के बारे में सोचें। कोई ख़ुशी का पल, किसी फिल्म का कोई मज़ेदार दृश्य, या अपनी सफलता। इसके आपका ध्यान रोने से हट जाएगा। आप रोना बंद कर देंगी।

यह भी पढ़ें :- Maintain Success : सफलता पाने से अधिक मुश्किल है सफलता को कायम रखना, 4 टिप्स इसमें कर सकते हैं आपकी मदद

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

  • 127
लेखक के बारे में

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है। ...और पढ़ें

अगला लेख