हाई ब्लड प्रेशर या हाइपरटेंशन को कम करने में मदद कर सकते हैं ये फ्रूट जूस

Published on: 26 October 2021, 14:00 pm IST

हाई ब्लड प्रेशर शुरूआत में ज्यादा समस्या नहीं देता, मगर धीरे-धीरे यह अपने साथ और भी कई समस्याएं ले आता है। इसलिए अपने आहार के साथ इसे कंट्रोल करें।

Khud ko hydrated rakhe
खुद को विभिन्न तरीकों से हाईड्रेटेड रखें। चित्र : शटरस्टॉक

अनहेल्दी फूड हैबिट्स, लंबे समय तक काम करने का समय और तनाव (Stress), कुछ ऐसे कारक हैं, जिनके कारण जीवनशैली से जुड़ी कई बीमारियां हो रही हैं। इन बीमारियों में से सबसे आम है हाई ब्लड प्रैशर।

उच्च रक्तचाप (High Blood Pressure), अपने प्रारंभिक चरण में, कोई गंभीर खतरा पैदा नहीं करता है। हालांकि, अगर इसका समय पर इलाज नहीं किया जाता है, तो इससे हृदय संबंधी समस्याएं जैसे दिल का दौरा (Heart Attack) पड़ सकता है।

ऐसे में सही पोषण और संतुलित आहार इस स्थिति को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। इनके अलावा, कुछ फलों के रस (Fruit Juices) उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं।

blood pressure ko kam karne ke liye juice
अपने आहार के साथ इसे कंट्रोल करें। चित्र : शटरस्टॉक

तो चलिए जानते हैं इनके बारे में

1 अनार का जूस (Pomegranate Juice)

अनार का रस आवश्यक विटामिन और पोटेशियम से भरा होता है जो रक्त के सुचारू संचलन में मदद करता है। अनार का रस एसीई (एंजियोटेंसिन कन्वर्टिंग एंजाइम) से लड़ने और खत्म करने के लिए भी जाना जाता है – एक एंजाइम जो रक्त वाहिकाओं को सख्त करता है जिससे रक्तचाप में वृद्धि होती है।

2 टमाटर का रस (Tomato Juice)

वाइली ऑनलाइन जर्नल के अनुसार प्रतिदिन एक गिलास टमाटर का रस पीने से हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा मिल सकता है। टमाटर का रस सिस्टोलिक और डायस्टोलिक रक्तचाप के साथ एलडीएल कोलेस्ट्रॉल में भी सुधार करता है। शरीर में ज़्यादा सोडियम से बचने के लिए, जो रक्तचाप पर विपरीत प्रभाव डाल सकता है, टमाटर का जूस बनाते समय नमक न डालें।

3 चुकंदर का जूस (Beetroot Juice)

लो कैलोरी चुकंदर में स्वास्थ्य को बढ़ावा देने वाले विटामिन, खनिज और यौगिक होते हैं। साथ ही, ये निम्न रक्तचाप में भी मदद कर सकता है।

2016 से एक अध्ययन में पाया गया कि कच्चे और पके हुए बीटरूट दोनों के रस से रक्तचाप में सुधार हुआ। हालांकि, कच्चे चुकंदर के रस का रक्तचाप पर अधिक प्रभाव पड़ता है। चुकंदर नाइट्रेट से भरपूर होते हैं, एक यौगिक जिसे रक्तचाप कम करने वाले प्रभाव के लिए जाना जाता है।

chukandar ke juice ke fayde
चुकंदर का जूस पिएँ. चित्र : शटरस्टॉक

4 बेरीज का रस (Berries Juice)

बेरीज जैसे जामुन – विशेष रूप से ब्लूबेरी – अपने एंटीऑक्सीडेंट गुणों के लिए जाने जाते हैं। 2020 की एक समीक्षा में बताया गया है कि क्रैनबेरी या चेरी का रस पीने से रक्तचाप में सुधार हो सकता है।

2016 में नेचर जर्नल में प्रकाशित एक अन्य समीक्षा में पाया गया कि जामुन खाने से सिस्टोलिक ब्लड प्रेशर और एलडीएल कोलेस्ट्रॉल दोनों कम होते हैं। इसलिए, हमारी सलाह है कि आप जामुन, ब्लूबेरी, क्रेनबेरी आदि का जूस नुकालकर पिएं। ध्यान रहे, इसमें चीनी का इस्तेमाल न करें।

5 संतरे का रस (Orange Juice)

विटामिन C से भरपूर संतरे – पोटेशियम, फोलेट और प्राकृतिक साइट्रस बायोफ्लेवोनोइड्स होते हैं। यह रक्तचाप के स्तर को कम रखने, चयापचय में सुधार करने और हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करते हैं।

तो, इन ताज़े फालों के जूस का सेवन करें और अपने ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करें।

यह भी पढ़ें : वेट लॉस के लिए डाइट में आज ही शामिल करें सिंघाड़े की सब्जी, हम बता रहे हैं इसकी टेस्टी रेसिपी

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें