बॉडी टोनिंग के लिए परफेक्ट एक्सरसाइज है कार्डियाे, बिना जिम जाए घर पर ही कर सकती हैं ये 3 कार्डियो एक्सरसाइज

अगर आप भी उन लोगों में से हैं जिन्हें जिम जाकर एक्सरसाइज करना पसंद नही है तो आप घर पर भी कार्डियो करके अपने आप को फिट रख सकती है।
ghar pr kaise karein cardio
कार्डियो फिटनेसयह लगातार शारीरिक गतिविधि के दौरान हृदय, फेफड़े और ब्लड वेसल्स की ऑक्सीजन की आपूर्ति करने की क्षमता को दर्शाता है। चित्र: शटरस्टॉक
संध्या सिंह Published: 5 Sep 2023, 08:00 am IST
  • 145

कई लोग होते है जो जिम जाकर केवल कार्डियो करते है लेकिन केवल कार्डियो करने के लिए जिम जाने की जरूरत नही है क्योंकि आप इसे घर पर भी कर सकते है। कई लोग अपनी बॉडी का ट्रांसफॉर्मेशन करना चाहते है उन्हे हैवी वर्कआउट के जिम की जरूरत होती है लेकिन अगर आप केवल कार्डियो करना चाहते है तो उसके लिए आपको अपने पैसे जिम में खर्च करने की जरूरत नही है।

कार्डियो के फायदे क्या है

कार्डियोवास्कुलर व्यायाम, जिसे आमतौर पर कार्डियो के रूप में जाना जाता है, शारीरिक गतिविधियों को संदर्भित करता है जो आपकी हृदय गति को बढ़ाता है और आपकी सांस लेने की दर को बढ़ाता है। ये व्यायाम आपकी हृदय संबंधी फिटनेस को बेहतर बनाने में भी मदद करता है और इनके कई स्वास्थ्य लाभ हैं।

चाहे आप दौड़ रहे हों, साइकिल चला रहे हों, तैराकी कर रहे हों या तेज गति से चल रहे हों, कार्डियो वर्कआउट कई फायदे प्रदान करता है, जिसमें हृदय स्वास्थ्य में सुधार, वजन प्रबंधन, फेफड़ों की क्षमता को बढ़ाना, कम रक्तचाप और ऊर्जा के स्तर में वृद्धि शामिल है।

jumping jacks for thigh
फ्लाइ जंपिंग जैक करना आपकी जांघ की चर्बी को घटा सकता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

चलिए अब जानते है घर पर किए जाने वाले कार्डियो एक्सरसाइज

जंपिंग जैक

यह आपकी हृदय गति को बढ़ाता है, हृदय संबंधी सहनशक्ति में सुधार करता है, और कई मांसपेशी समूहों को संलग्न करता है। वे विभिन्न फिटनेस स्तरों के लिए उपयुक्त हैं और इन्हें आसानी से घरेलू वर्कआउट या वार्म-अप रूटीन में शामिल किया जा सकता है। सुरक्षित और प्रभावी कसरत के लिए धीरे से उतरना और उचित आकार बनाए रखना याद रखें।

जंपिंग जैक करने के लिए सबसे पहले अपने पैरों को एक साथ और हाथों को बगल में रखकर खड़े हो जाएं।

एक गति में, अपनी भुजाओं को ऊपर की ओर उठाते हुए अपने पैरों को बगल की ओर फेंके। आपका शरीर एक तारे का आकार बनाता है।

अपने पैरों को एक साथ वापस उछालकर और अपनी बाहों को नीचे करके जल्दी से प्रारंभिक स्थिति में लौट आएं।

mountain climbing apke liye bhut accha exercise hai
यह माउंटेन क्लाइम्बर्स एक गतिशील और प्रभावी बॉडीवेट व्यायाम है।

माउंटेन क्लाइम्बर्स

माउंटेन क्लाइम्बर्स एक गतिशील और प्रभावी बॉडीवेट व्यायाम है जो हृदय संबंधी कंडीशनिंग को कोर और ऊपरी शरीर के जुड़ाव के साथ जोड़ता है। यह व्यायाम आपकी मुख्य मांसपेशियों, कंधों और पैर की मांसपेशियों पर ध्यान केंद्रित करता है और साथ ही कार्डियो को बढ़ावा देने के लिए आपकी हृदय गति को भी बढ़ाता है।

इसे करने के लिए, अपने हाथों को सीधे अपने कंधों के नीचे रखकर तख़्त स्थिति में शुरुआत करें और आपका शरीर सिर से एड़ी तक एक सीधी रेखा बनाए।

बारी-बारी से अपने घुटनों को दौड़ते हुए अपनी छाती की ओर लाएं, जबकि अपने कोर को व्यस्त रखें और अपने कूल्हों को स्थिर रखें।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

सीढ़ियां चढ़ना

सीढ़ियां चढ़ना एक अत्यधिक प्रभावी हृदय व्यायाम है जिसे घर पर, कार्यालय या सीढ़ियों वाले किसी भी स्थान पर आसानी से कर सकती है। इसमें सीढ़ियों से चढ़ना और उतरना शामिल है, जो र हृदय प्रणाली के लिए एक बेहतरीन कसरत है।

सबसे पहले धीरे धीरे सीढ़ियां चढ़ना शुरू करें। यदि आवश्यक हो तो सहायता के लिए रेलिंग का उपयोग करें।

चढ़ते समय अपनी पीठ सीधी रखें और आगे की ओर देखें।

प्रत्येक सीढ़ी पर कदम रखते समय एड़ी से पैर तक अपने पूरे पैर का उपयोग करें।

उतरते समय, अपने घुटनों पर तनाव से बचने के लिए नियंत्रित गतिविधियों पर ध्यान केंद्रित करें।

धीरे धीरे इसकी गति को बढ़ा सकते है।

sidhiyan chadhna ek behtar vyam hai
सीढ़ि‍यां चढ़ना एक बेहतरीन एक्‍सरसाइज है। चित्र: शटरस्‍टॉक

घुटनों को ऊंचा उठाना

घुटनों को ऊपर उठाना एक गतिशील और ऊर्जावान कार्डियो व्यायाम है जिसे लगभग कहीं भी किया जा सकता है, इसके लिए केवल एक छोटी सी जगह की आवश्यकता होती है।

अपने पैरों को कूल्हे-चौड़ाई से अलग करके सीधे खड़े होकर शुरुआत करें

एक घुटने को जितना संभव हो उतना ऊपर उठाएं, साथ ही दूसरे पैर पर भी कूदें। साथ ही पैरों को बदलते भी रहें।

जैसे ही आप अपने घुटनों को ऊपर उठाते हैं, अपनी बाहों को समन्वित तरीके से स्विंग करें

मध्यम गति से शुरू करें, और जैसे-जैसे आप अधिक सहज होते जाएं, अपनी हृदय गति को बढ़ाने के लिए गति बढ़ाएं।

ये भी पढ़े- लॉन्ग सिटिंग जॉब में हैं, तो अपने कूल्हे, घुटने और टखने की एक्सरसाइज पर ध्यान देना है जरूरी, जानिए क्यों और कैसे

  • 145
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख