डेड स्किन सेल्स और डैंड्रफ रिमूव करने के लिए ट्राई करें ये 4 होममेड स्कैल्प स्क्रब

बाजार में मिलने वाले स्कैल्प स्क्रब बनाने में कुछ ऐसे केमिकल्स का इस्तेमाल किया जाता है जो आपके बालों को नुकसान पहुंचा सकते हैं। यदि आप स्कैल्प एक्सफोलिएशन के फायदों का लाभ उठाना चाहती हैं तो इन्हे घर पर तैयार करें।
hair scrub
अपने बालों को बढ़ने के लिए एक स्वस्थ और खुशहाल वातावरण प्रदान करें। चित्र: शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 2 Aug 2023, 19:00 pm IST
  • 120

कई ब्यूटी ब्रांड ने अपने स्कैल्प स्क्रब लांच किये हैं। वहीं आजकल स्कैल्प एक्सफोलिएशन काफी ज्यादा ट्रेंड कर रहा है। हालांकि, यह आपके स्कैल्प एवं बालों के लिए तो बेहद फायदेमंद होते हैं, परंतु इन्हे बनाने में कुछ ऐसे केमिकल्स का इस्तेमाल किया जाता है जो आपके बालों को नुकसान पहुंचा सकते हैं। यदि आप स्कैल्प एक्सफोलिएशन के फायदों का लाभ उठाना चाहती हैं, तो इसके लिए आपको केमिकल युक्त महंगे स्कैल्प स्क्रब खरीदने की आवश्यकता नहीं है। कुछ खास सामग्रियों की मदद से आप स्कैल्प स्क्रब को प्राकृतिक रूप से घर पर भी तैयार कर सकती हैं (Homemade hair scalp), तो चलिए जानते हैं इन्हे किस तरह बनानां है।

हेल्थ शॉट्स ने स्कैल्प स्क्रब के फायदों को लेकर शहनाज हुसैन ग्रुप की फॉउंडर शहनाज हुसैन से सलाह ली। उन्होंने इसके कुछ महत्वपूर्ण फायदे बताये हैं, तो चलिए जानते हैं क्या कहती हैं एक्सपर्ट।

पहले जानें किसे करना चाहिए स्कैल्प एक्सफोलिएशन?

ड्राई स्कैल्प : यदि आपकी स्कैल्प स्किन ड्राई है तो इसपर अतिरिक्त डेड स्किन सेल्स हो सकती हैं जिन्हें हटाना महत्वपूर्ण है।

डैंड्रफ : पर्यावरण में मौजूद गन्दगी और अन्य कई ऐसे फैक्टर्स हैं जिनकी वजह से डैंड्रफ हो जाता है। अगर आप डैंड्रफ से पीड़ित हैं तो आपको स्कैल्प एक्सफोलिएशन पर विचार करना चाहिए।

ऑयली स्कैल्प : यदि आपके स्कैल्प की त्वचा तैलीय है, तो यह निश्चित है कि इसपर अधिक गंदगी जमा होगी। ऐसे में ऑयली स्कैल्प वाले लोगों के लिए स्कैल्प एक्सफोलिएशन बहुत जरूरी है।

scalp itching men faaydemand hai shikaakaai
स्कैल्प इचिंग में फायदेमंद है एक्स्फ़ोलिएशन, चित्र: शटरस्टॉक

अब जानें स्कैल्प एक्सफोलिएशन के कुछ महत्वपूर्ण फायदे

1. स्कैल्प को साफ करता है

यह स्कैल्प को पूरी तरह से साफ करता है और स्कैल्प से किसी भी तरह के अतिरिक्त जमाव को हटा देता है। स्कैल्प पर जमी गंदगी हेयर फॉलिकल्स के सांस लेने की क्षमता को बाधित करती हैं और बालों के स्वस्थ विकास को रोकती हैं। एक्सफोलिएशन के माध्यम से आप हेयर स्प्रे और जैल जैसे स्टाइलिंग उत्पादों के कारण बालों पर जमा होने वाले उत्पाद को भी हटा सकती हैं।

2. बालों के विकास को बढ़ावा देता है

जब स्कैल्प से गंदगी को हटा दिया जाता है, तो हेयर फॉलिकल्स अधिक प्रभावी रूप से कार्य करते हैं और बालों के स्वस्थ विकास को बढ़ावा देते हैं। इसके अलावा, स्क्रबिंग करते समय एक्सफोलिएशन ब्लड फ्लो को बढ़ा देती है जिसकी वजह से भी बाल स्वस्थ रूप से बढ़ते हैं।

3. बालों में चमक बरकरार रखे

स्कैल्प पर जमी गंदगी आपके बालों की गुणवत्ता पर बुरा प्रभाव डालती है। एक्सफ़ोलिएशन हेयर फॉलिकल्स की गुणवत्ता में सुधार करता है और बालों के ग्रोथ को बढ़ावा देने के साथ ही इसे मजबूत और शाइनी बनता है।

4. ड्राई स्कैल्प और डैंड्रफ में कारगर है

एक्सफोलिएशन स्कैल्प पर जमे रूसी और परतदार त्वचा से निजात पाने में मदद करती है और प्राकृतिक पोषण को बढ़ावा दे बालों के हेल्दी ग्रोथ को प्रोमोट करती है।

benefits of massaging
स्कैल्प में इचिंग से राहत देता है मसाज. चित्र:शटरस्टॉक

5. स्कैल्प को मिल जाता है मसाज

स्कैल्प एक्सफोलिएशन से स्कैल्प की मालिश भी हो जाती है जिसके परिणामस्वरूप ब्लड फ्लो में सुधार होता है। एक्सफोलिएशन सेशन आपकी स्कैल्प की मांसपेशियों को आराम पहुंचाता है जिससे की आपकी थकान भी कम होती है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

यह भी पढ़ें : हेयर फॉल रोकने में मददगार हैं ये 2 होममेड हेयर ऑयल, जानिए कैसे बनाते हैं

कितनी फ्रीक्वेंटली स्कैल्प को एक्सफोलिएट करना चाहिए?

एक्सफोलिएशन जरूरी है, लेकिन इसे नियमित रूप से नहीं किया जाना चाहिए। स्कैल्प स्वास्थ को बनाये रखने के लिए सप्ताह में एक बार एक्सफोलिएट करने की सलाह दी जाती है। यह स्कैल्प को एक्सफोलिएशन की अच्छाइयों को अवशोषित करने में मदद करता है और प्राकृतिक सीबम को बरकराक रखते हुए बालों को भी स्वस्थ रखता है।

यहां हैं 4 खास होममेड स्कैल्प स्क्रब (Homemade hair scalp)

1. दालचीनी, नारियल के तेल और ब्राउन शुगर से बना हेयर स्क्रब

इसके लिए आपको चाहिए

दालचीनी पाउडर – 2 चम्मच
ब्राउन शुगर – 2 चम्मच (दरदरी पिसी हुई)
कोकोनट ऑयल – 2 चम्मच

इस तरह अप्लाई करें

सबसे पहले दालचीनी और नारियल के तेल को एक साथ मिला लें अब इसमें ब्राउन शुगर ऐड करें।
इस स्क्रब को अपने स्कैल्प पर अप्लाई करें और 10 से 12 मिनट तक हल्के हाथों से अपने स्कैल्प को मसाज दें।
फिर लगभग 40 मिनट तक इसे लगा हुआ छोड़ दें, फिर इसे सामान्य पानी से साफ करें और बाद में शैम्पू करें।
उचित परिणाम के लिए हफ्ते में इसे एक बार जरूर अप्लाई करें।

avocado benefits
मांसपेशियों को आराम पहुंचाता है जिससे की आपकी थकान भी कम होती है। चित्र : एडॉबीस्टॉक

2. एवोकाडो और सी साल्ट से बना स्क्रब

इसके लिए आपको चाहिए

एवोकाडो – 1/2
शहद – 2 चम्मच
सी साल्ट – 2 चम्मच
कोकोनट/पेपरमिंट ऑयल (वैकल्पिक)

इस तरह तैयार करें

एवोकाडो को मैस कर लें फिर इसमें शहद, सी साल्ट और कोकोनट या पेपरमिंट ऑयल डालें।
इन सभी को एक साथ अच्छी तरह मिक्स कर लें।
अब इसे अपने स्कैल्प पर अप्लाई करें और हल्के हाथ से 10 मिनट तक स्कैल्प को स्क्रब करें।
फिर इसे लगभग 20 से 30 मिनट के लिए लगा हुआ छोड़ दें और बाद में गुनगुने पानी से इसे साफ कर लें।
कुछ देर बाद आप अपनी नार्मल हेयर केयर रूटीन जैसे कि शैम्पू और कंडीशनिंग को फॉलो कर सकती हैं।

3. मुल्तानी मिट्टी और एलोवेरा स्कैल्प स्क्रब

इसके लिए आपको चाहिए

मुल्तानी मिट्टी – 4 चम्मच
एलोवेरा जेल – 4 चम्मच
गुलाब जल – 4 चम्मच
रिफांइड शुगर (हल्की दरदरी पिसी हुई) – 2 से 3 चम्मच

इस तरह अप्लाई करें

सबसे पहले मुल्तानी मिट्टी, एलोवेरा जेल और गुलाब जल को एक साथ अच्छी तरह मिला लें।
फिर इसमें रिफांइड शुगर एड करें। अब इस स्क्रब को स्कैल्प पर अप्लाई करें और 10 मिनट तक हल्के हाथों से स्क्रब करें।
फिर इसे 20 मिनट तक लगाए रखें और बाद में सामान्य पानी से साफ कर लें आप शैम्पू भी कर सकती हैं।
उचित परिणाम के लिए हफ्ते में एक बार इसे जरूर इस्तेमाल करें।

oatmeal and buttermilk benefits for skin and hair
ओटमील बाथ और हनी-मिल्क तनाव दूर हो जाते हैं। चित्र:शटरस्टॉक

4. ओटमील स्कैल्प स्क्रब

इसके लिए आपको चाहिए

ओटमील – 4 चम्मच
रिफाइंड/ब्राउन शुगर – 3 चम्मच

इस तरह तैयार करें

ओटमील और रिफाइंड/ब्राउन शुगर को एक साथ मिला लें।
इसे अपने स्कैल्प पर अप्लाई करें और लगभग 10 मिनट तक हल्के हाथों से स्कैल्प को एक्सफोलिएट करें।
फिर इसे कुछ देर तक लगा हुआ छोड़ दें और सामान्य पानी से बाल को साफ कर लें।
इसके बाद कुछ देर इन्तेजार करें और शैम्पू कर लें।
उचित परिणाम के लिए इसे हफ्ते में एक बार जरूर अप्लाई करें।

यह भी पढ़ें : ब्लैडर इंफेक्शन की स्थिति हो सकती है दर्दनाक, जानिए इससे कैसे निपटना है

  • 120
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख