वीगन डाइट पर हैं, तो इन 5 स्टेप्स में तैयार करें काजू मिल्क, सेहत को मिलेंगे ये 6 फायदे

इस नवरात्र अपनी डाइट में शामिल करें मुठ्ठी भर काजू से बनी वीगन दूध। सफेद रंग के इस छोटे से ड्राई फ्रूट में कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए तमाम रूपों में फायदेमंद होते हैं।
kaju milk ke fayde
जानें किस तरह तैयार करना है काजू का दूध। चित्र : एडॉबीस्टॉक
अंजलि कुमारी Updated: 17 Oct 2023, 07:37 pm IST
  • 120

नवरात्र शुरू हो चुके हैं। इस पावन पर्व के दौरान लोग माता की आराधना में 9 दिन का उपवास रखते हैं। पारंपरिक रूप से खास होने के साथ ही यह उपवास सेहत के लिए भी बेहद फायदेमंद हो सकता है। इन नौ दिनों के उपवास में खाए जाने वाले सभी खाद्य पदार्थ बेहद पौष्टिक होते हैं, उन्हीं में से एक है “काजू”। नवरात्र में हम ड्राई फ्रूट्स का सेवन करते हैं, जिनमें काजू सभी का पसंदीदा होता है। सफेद रंग के इस छोटे से ड्राई फ्रूट में कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए तमाम रूपों में फायदेमंद होते हैं।

पर क्या आप जानती हैं कि इसे दूध (Cashew milk) के रूप में भी डाइट में शामिल किया जा सकता है। खासकर यह वीगन लोगों के लिए बेहद कमाल का रहेगा। यदि आप वीगन हैं और व्रत पर हैं तो इसे अपनी उपवास में जरूर शामिल करें।

नवरात्रि के शुभ अवसर पर हेल्थ शॉट्स आपके लिए लाया है, पोषक तत्वों से भरपूर काजू से बने वीगन मिल्क के महत्वपूर्ण स्वास्थ्य लाभ से जुड़ी उचित जानकारी। तो चलिए जानते हैं, आखिर इनके सेवन से कौन-कौन से स्वास्थ्य लाभ प्राप्त होते हैं (Cashew milk)।

immunity ko badhawa de
काजू कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है। चित्र: शटरस्टॉक

पहले जानते हैं काजू से बने वीगन मिल्क में मौजूद पोषक तत्वों के बारे में

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन के अनुसार काजू वीगन मिल्क कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों का एक बेहतरीन स्रोत है। इसमें प्रोटीन, फाइबर, कॉपर, मैग्नीशियम, मैंगनीज, जिंक, फास्फोरस, आयरन, सेलेनियम, थायमिन, विटामिन के और विटामिन B6 की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है। इसके साथ ही यह हेल्दी फैट का भी एक अच्छा स्रोत है। खासकर इसमें अनसैचुरेटेड फैट की मात्रा पाई जाती है, जो इसे हृदय संबंधी समस्याओं के लिए खास बना देती हैं।

अब जानें काजू वीगन मिल्क के कुछ महत्वपूर्ण स्वास्थ्य लाभ

1. वेट लॉस में मदद करे

नट्स में कैलोरी और फैट की भरपूर मात्रा पाई जाती है, फिर भी वेट लॉस कर रहे लोगों को इसे खाने की सलाह क्यों दी जाती है! नेशनल लाइब्रेरी आफ मेडिसिन के अनुसार इसमें कैलोरी की मात्रा अधिक होती है, परंतु शरीर इसके कैलोरी को पूरी तरह से अवशोषित कर लेता है। साथ ही इसमें मौजूद प्रोटीन और फाइबर भूख को कम करने में मदद करते हैं और आपको लंबे समय तक संतुष्ट रखते हैं। यह दोनों फैक्टर वेट लॉस में मददगार होते हैं।

2. हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा दे

काजू वीगन मिल्क में मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसैचुरेटेड फैट पाए जाते हैं, यह दोनों ही बैड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम कर देते हैं। बैड कोलेस्ट्रोल के संतुलित स्तर से हृदय संबंधी समस्याओं के खतरे को नियंत्रित रखा जा सकता है। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित अध्ययन के अनुसार इसमें एंटीऑक्सीडेंट, मैग्नीशियम, पोटेशियम जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो हृदय स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। आप काजू को रोस्ट करके इसे स्नैक्स के रूप में ले सकती हैं।

sugar level badha sakta hai gud
ब्लड शुगर लेवल को सामान्य रखे। चित्र: शटरस्‍टॉक

3. ब्लड शुगर लेवल को सामान्य रखे

टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित व्यक्ति के लिए काजू वीगन मिल्क को डाइट में शामिल करना बेहद फायदेमंद हो सकता है। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित अध्ययन के अनुसार काजू फाइबर का एक बेहतरीन स्रोत है। यह पोषक तत्व ब्लड शुगर लेवल को अचानक से बढ़ने से रोकता है और टाइप टू डायबिटीज के मरीजों की रक्षा करता है। वहीं यदि आप प्रीडायबिटिक हैं, तो आपको अपनी डाइट में काजू जरूर शामिल करना चाहिए।

यह भी पढ़ें : एक चम्मच अदरक का जूस दिला सकता है आपको सेहत संबंधी कई समस्याओं से छुटकारा

4. हड्डियों की सेहत को बढ़ावा दे

पब मेड सेंट्रल के अनुसार काजू मैग्नीशियम का एक बेहतरीन स्रोत है, जिसे हड्डियों की सेहत के लिए एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व के रूप में जाना जाता है। यदि आप अपने जोड़ों के दर्द से परेशान रहती हैं, तो आपको डाइट में काजू वीगन मिल्क को जरूर शामिल करना चाहिए। इसमें मौजूद मैग्निशियम, कैलशियम और विटामिन डी के साथ कार्य करते हुए आपकी हड्डियों को स्वस्थ और मजबूत बनाते हैं। काजू के नियमित सेवन से शरीर में विटामिन के की उचित मात्रक बनी रहती है, जिससे बोन डेंसिटी मेंटेन रहती है और ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा भी कम हो जाता है।

5. इम्यूनिटी बूस्ट करे

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित अध्ययन के अनुसार काजू वीगन मिल्क में जिंक, कॉपर और विटामिन ए जैसे महत्वपूर्ण मिनरल्स पाए जाते हैं। यह सभी पोषक तत्व इम्यूनिटी को बढ़ावा देने में मदद करते हैं। इम्यून सेल्स को ग्रो और फंक्शन परफॉर्म करने के लिए जिंक और कॉपर जैसे मिनरल्स की आवश्यकता होती है, जिसे काजू पूरा कर सकता है। काजू में मौजूद विटामिन ए एक प्रकार का एंटीऑक्सीडेंट है, जो आपके शरीर में होने वाले ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस के प्रभाव को कम कर देता है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

6. त्वचा के लिए कमाल का है काजू

काजू वीगन मिल्क में कॉपर की भरपूर मात्रा पाई जाती है। कॉपर कोलेजन प्रोडक्शन को बूस्ट करता है और आपकी त्वचा में इलास्टिसिटी को बनाए रखता है। वहीं इसमें मौजूद विटामिन ए और सेलेनियम एक बेहतरीन एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करते हुए त्वचा को फ्री रेडिकल से होने वाले डैमेज से प्रोटेक्ट करते हैं। जिसकी वजह से प्रीमेच्योर एजिंग नहीं होती और त्वचा लंबे समय तक यंग और ग्लोइंग नजर आती है।

cashew milk ke fayde.
प्रीमेच्योर एजिंग नहीं होती और त्वचा लंबे समय तक यंग और ग्लोइंग नजर आती है। चित्र : एडॉबीस्टॉक

इन 5 आसान स्टेप्स में तैयार करें काजू का वीगन मिल्क

काजू को रात भर के लिए पानी में भिगोकर छोड़ दें।

अब सुबह एक ब्लेंडिंग जार लें उसमें 4 कप पानी डालें और भिगोए हुए काजू को उसमें डाल दें।

आप चाहे तो इसमें फ्लेवर ऐड करने के लिए खजूर या अन्य नेचुरल स्वीटनर का इस्तेमाल कर सकती हैं।

अब इसे अच्छी तरह से ब्लेंड करें, जब तक कि यह पानी में पूरी तरह से न घुल जाए।

अब इसे किसी कंटेनर में निकालें और एन्जॉय करें।

यह भी पढ़ें : Kali Mirch ke fayde : हाई बीपी और ब्लड शुगर दोनों कंट्रोल करती है काली मिर्च, जानिए इसके फायदे

  • 120
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख