Body massage: बॉडी को एक्टिव रखने के लिए हेल्दी डाइट के अलावा मसाज भी है ज़रूरी, जानें बॉडी मसाज के 5 फायदे

तन और मन को सुकून से भरने के लिए कुछ देर की मसाज आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है। जानते हैं मसाज के स्टेप्स (Steps of Body massage) और इसके फायदे भी।
Body massage ke fayde
हेल्थ के लिए फायदेमंद है मालिश, जानें बॉडी मसाज के 5 फायदे।चित्र:शटरस्टॉक
ज्योति सोही Updated: 4 Sep 2023, 06:07 pm IST
  • 141

बॉडी को हेल्दी बनाने के साथ एक्टिव बनाना भी बेहद ज़रूरी है। इसके लिए शरीर को पौष्टिक आहार के अलावा मसाज की भी आवश्यकता होती है। दिनों दिन बढ़ रहा तनाव आपके शरीर को अंदर ही अंदर कई प्रकार की दुश्चिताओं और ऐंठन से भर देता है। इसके परिणामस्वरूप आपको तेज़ सिरदर्द, कमर में ऐंठन और थकान का अनुभव होने लगता है। तन और मन को सुकून से भरने के लिए कुछ देर की मसाज आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है। जानते हैं मसाज के स्टेप्स (Steps of Body massage) और इसके फायदे भी।

इस बारे में बातचीत करते हुए मसाज एक्सपर्ट आनंद कुमार के अनुसार बॉडी मसाज एक ऐसी नुचरल पद्धति है, जिससे आप घुटनों, पैरों, कंधों और बाजूओं समेत शरीर के अन्य अंगों व ब्रेन को एक्टिव रखने में मदद करती है। इसके लिए कई प्रकार की मशीन्स और चेयर्स का भी इस्तेमाल किया जाता है। तेल से की जाने वाली मसाज आपके बॉडी टीशूज़ को रिपेयर करने के साथ शरीर को डिटॉक्सिफाई करने का भी काम करता है।

बॉडी मसाज से होने वाले फायदे

1. गहरी नींद आना

अगर आप किसी परेशानी का शिकार हैं, तो मसाज (massage) की मदद से आप खुद को रिलैक्स महसूस करने लगते हैं। नेशनल इंस्टीटयूट ऑफ हेल्थ के मुताबिक बॉडी मसाज (body massage) से शरीर में एंडोर्फिन और एनकेफेलिन जैसी हार्मोन रिलीज़ होते हैं। इससे चिंता, तनाव और बॉडी पेन कम होने लगती है। दरअसल, तनाव बढ़ाने वाले हार्मोन यानि नॉरपेनेफ्रिन, एपिनेफ्रीन और कोर्टिसोल का स्तर शरीर में घटने लगता है। इससे हार्ट रेट कम होता है। साथ ही ब्ल्ड प्रेशर नियमित होता है और मसल्स रिलैक्स रहने लगते हैं। इससे शरीर में सुकून का अनुभव होता है, जिससे नींद भी गहरी आती है।

oil masaaj baalon ke liye faydemand hai
कुछ मिनटों की तेल मालिश से शरीर के सभी दोष शांत होने लगते है। इससे स्टेमिना बढ़ने लगता है, त्वचा में निखार आता है। चित्र : शटरस्टॉक

2. फोक्स का बढ़ना

नियमित बॉडी मसाज ( body masaage) से आपका नर्सव सिस्टम स्लो होता है। इससे हार्ट रेट भी धीमा हो जाता है। जो ब्रेन को रिलैक्स करने का काम करते हैं और फोक्स को बढ़ाने में मदद करते है। स्ट्रक्चर बॉडी थैरेपीज़ के मुताबिक मसाज से शरीर में सेरोटोनिन और डापामाइन रिलीज़ होने लगते हैं। इससे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन नियमित होने लगता है। जो आपकी ओवरऑल बॉडी को सुकून प्रदन करता है। इससे आपका ब्रेन हेल्दी होता है और एकाग्रता बढ़ने लगती है।

3. इम्यून सिस्टम होगा मज़बूत

बॉडी मसाज (body massage) से आपकी हड्डिया मज़बूत होती है। साथ ही शरीर में ब्लड फ्लो नियमित बना रहता है। ऐसे में मसाज आपकी बॉडी को हेल्दी और फिट रखने में मदद करती है। साथ ही इम्यून सिस्टम मज़बूत बना रहता है, जिसके चलते आपका शरीर आसानी से सक्रमण की पकड़ में नहीं आता है।

4. मसक्युलर पेन से मिलेगी राहत

आमतौर पर ज्यादा दौड़भाग से मांसपेशियों में खि्ांचाव का खतरा बना रहता है। इससे राहत पाने के लिए बॉडी मसाज (body massage) एक बेहतरीन उपाय है। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन के मुताबिक बॉडी मसाज से रीढ़ की हड्डी और मांसपेशियों में दर्द रिसेप्टर्स की सक्रियता कम होने लगती है। इसके अलावा शरीर में इंफलामेशन को भी दूर करने में सहायक साबित होता है। वे लोग जो क्रानिक बैक पेन के शिकार है। उन्हें भी राहत मिलती है।

massage ke fayde
मसाज के ज़रिए शरीर के अंगों में होने वाले दर्द से राहत मिल जाती है। चित्र अडोबी स्टॉक

5. पाचनतंत्र को करें सुचारू

अगर आप एसिडिटी और गैस की समस्या से परेशान रहती है, तो लोअर बॉडी मसाज आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकती है। इससे बॉडी में पाचन रस तीव्र गति से कार्य करने लगते हैं। इसके अलावा खाना आसानी से डाइजेसट होने लगता है, जिससे शरीर तंदरूस्त और एक्टिव बना रहता है।

बॉडी मसाज के लिए इन स्टेप्स को करें फॉलो

1. गर्दन और कंधों से करें आरंभ

पेट के बल बैड पर लेटने के बाद बॉडी मसाज (body massage) को कंधों से आरंभ करें। इसके बाद गर्दन को धीरे धीरे हल्के हाथों से मसाज दें। इससे सर्वाइकल पेन से ग्रस्त लोगों को राहत प्राप्त होती है। साथ ही बॉडी स्टिफनेस दूर होने लगती है।

2. पैरों को हल्के हाथों से दबाएं

दोनों हाथों की उंगलियों से पैरों के तलवों को प्रेस करें। इससे पैरों का ब्लड सर्कुलेशन बढ़ने लगता है। इसके अलावा पैरों और काफ मसल्स में होने वाले क्रैंपस से भी राहत मिल जाती है। पैरों की उंगलियों को भी अलग अलग करके प्रेस करें।

foot infection
गुनगुने तेल से मालिश थकावट को कम कर सकती है। चित्र: शटरस्टॉक

3. लोअर बैस से उपर की ओर मसाज करें

लोअर बैक में होने वाली ऐंठन को दूर करने के लिए नीचे से उपर की ओर मसाज करें। इससे मांसपेशियों में होने वाले दर्द से राहत मिलने लगती है। साथ ही रीढ़ की हड्डी को भी मज़बूती मिल जाती है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

4. हाथों और बाजूओं को दबाएं

पीठ के बाद बाजूओं की मसाज भी बेहद ज़रूरी है। इसके लिए बाजू से लेकर कलाई तक पूरी तरह से ऑयलिंग करें। इसके अलावा हर उंगली को अलग अलग मसाज दें। इससे मसल्स पेन से मुक्ति मिलने लगती है। साथ ही अपनी आर्म्स पर जमा कैलोरीज़ भी बर्न होने लगती हैं।

5. आखिर मे हेड मसाज करें

उंगलियों की मदद से हेड मसाज करने से आपको सुकून की प्राप्ति होती है। इससे माइंड रिलैक्स होने लगता है। स्कैल्प मसाज के अलावा कानों को भी मसलें। इससे ब्लड फ्लो बढ़ने लगता है। इससे आपको सभी चिंताओं से मुक्ति मिल जाती है।

ये भी पढ़ें – Wound healing : कटने-छिलने के कारण घाव हो गया है, तो जल्दी ठीक करने के लिए फॉलो करें ये 5 उपाय

  • 141
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख