Post weight loss hunger : वेट लॉस के बाद बढ़ गई है भूख, तो इन 10 टिप्स से करें कंट्रोल

वेट लॉस के बाद वजन को मेंटेन रखने में परेशानी होती है। क्योंकि वजन घटने के बाद बड़ी जोरों की भूख हमेशा लगती है। यहां हैं एक्सपर्ट के बताये 10 टिप्स जो वेट लॉस के बाद भूख को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं।
PMS ke karan bhookh adhik lagti hai.
मासिक धर्म शुरू होने के पहले से दर्द और मूड स्विंग्स के साथ ज्यादा भूख का भी अनुभव होने लगता है। चित्र : अडॉबी स्टॉक
स्मिता सिंह Published: 23 Oct 2023, 08:00 am IST
  • 125

वजन घटाने के लिए हमें कई तरह की एक्टिविटीज करनी पड़ती है। वजन घटने यानी वेट लॉस (Weight Loss) के बाद वजन को मेंटेन रखना भी एक बड़ा टास्क है। क्योंकि जरा-सी लापरवाही वेट गेन का कारण बन सकती है। सबसे अधिक मुश्किल तो हमें अपनी भूख पर काबू रखने में होती है। वेट लॉस के बाद हमारा मन हमेशा कुछ खाने के लिए मचलता रहता है। मन हमेशा कुछ खा लिया जाए, कुछ खा लिया जाए की रट लगाता रहता है। यह इच्छा पोस्ट वेट लॉस हंगर का कारण बनने लगती है। इस पर काबू पाना बेहद जरूरी है। इसलिए एक्सपर्ट यहां पोस्ट वेट लॉस हंगर को मैनेज करने (post weight loss hunger) के टिप्स बता रही हैं।

क्यों वेट लॉस के बाद ज्यादा भूख लगती है (causes of post weight loss hunger)

हार्वर्ड हेल्थ पब्लिशिंग में प्रकाशित शोध के अनुसार, जब हम वजन कम करते हैं, तो पेट अधिक मात्रा में ग्रेलिन हार्मोन (Ghrelin Hormone) जारी करता है, जिससे हमें भूख लगती रहती है। हर व्यक्ति में यह हार्मोन मौजूद होता है। यदि वजन अधिक है और फिर इसे घटाया जाता है, तो शरीर में ग्रेलिन हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है। वेट लॉस के बाद फास्टिंग की स्थिति में अधिक भूख (post weight loss hunger) महसूस होने लगती है। इसके कारण भोजन के बाद पेट अधिक भरा हुआ महसूस हो सकता है।

वजन को वापस पाने की कोशिश

दरअसल शरीर की भूख नियंत्रण प्रणाली (appetite control system) शरीर के कम वजन और फैट मास में कमी को महसूस करने के लिए अधिक अनुकूल हो जाती है। वजन कम होने के बाद हालांकि शरीर को कम ऊर्जा की जरूरत पड़ती है। फिर भी भूख अधिक लगती है, क्योंकि शरीर उस वजन को वापस पाने की कोशिश कर रहा होता है।

यहां हैं वेट लॉस के बाद हंगर पैंग्स को कंट्रोल करने के उपाय (post weight loss hunger management Tips)

न्यूट्रिस्निष्ट दिव्या गांधी अपने इन्स्टाग्राम पोस्ट में 10 टिप्स बता रही हैं, जो वेट लॉस के बाद हंगर पैंग्स (post weight loss hunger) को कंट्रोल करने में मदद कर सकते हैं।

1 मील शेडयूल (Meal Schedule)

हंगर को कंट्रोल करने के लिए रेगुलर मीलटाइम को फ़ॉलो करें। भोजन में प्रोटीन, हेल्दी फैट्स और फाइबर का संतुलन होना चाहिए।

2 हेल्दी स्नैक्स (Healthy Snacks)

जब बड़े जोरों की भूख लगे, तो उसी समय किसी प्रकार का स्नैक लेने की योजना नहीं बनायें। इसकी प्लैनिंग पहले से करें। भूख लगते ही अपनी बनाई योजना के अनुसार हेल्दी स्नैक्स लें। इससे अनहेल्दी स्नैक्स लेने से बच जायेंगी।

3 पोर्शन के प्रति जागरूकता (Portion Awareness)

खाए जाने वाले पोर्शन के प्रति सतर्क रहें। ओवरईटिंग से बचने के लिए छोटी प्लेट में खाएं। पहले से मेजर किया हुआ पोर्शन लें।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

4 फाइबर की सही मात्र जरूरी (Fibre Choices)

फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थ भूख से राहत दिला सकते हैं। इसलिए फाइबर से भरपूर फल-सब्जियां, नट्स-सीड्स को जरूर अपने आहार में शामिल करें।

weight loss ke liye fibre food ka chunav jaroori hai.
फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थ भूख से राहत दिला सकते हैं। चित्र : अडोबी स्टॉक

5 प्रोटीन स्नैक्स (Protein Snacks)

हंगर पैंग्स से राहत दिलाने में प्रोटीन स्नैक्स मदद कर सकते हैं। ग्रीक योगर्ट और नट्स पेट को भरा हुआ महसूस कराते हैं। भूख कम लगती है।

6 माइंडफुल ईटिंग (Mindful eating)

अपने फ़ूड पर फोकस करें। किसी भी प्रकार के डिसट्रैक्शन को एवोइड करें। जो भी खाएं, उस पर ध्यान केन्द्रित कर खाएं। हमेशा स्मॉल पोर्शन में खाएं।

7 पानी पीती रहें (Stay hydrated)

पानी की कमी से भी भूख अधिक लगती है। इसलिए पानी पीने में कोई कोताही नहीं बरतें। ठंड के मौसम में भी दिन भर पर्याप्त पानी पीती रहें

8 रात के समय के स्नैकिंग को कंट्रोल करें (Night time Control)

अक्सर हम देर रात तक जगे रहते हैं और अंट-शंट खाते रहते हैं। इस पर कंट्रोल करें। यह माइंडफुल ईटिंग में सबसे बड़ी बाधा (post weight loss hunger) है।

raat me unhealthy snacks lene se bachen
देर रात तक खाते – पीते रहने की आदत पर कंट्रोल करें।

9 संतुलित मात्रा में कार्ब्स लें (Balance Carbs)

खुद द्वारा लिए जा रहे कार्ब्स पर नजर रखें। शरीर को एनर्जेटिक बनाये रखने के लिए यह जरूरी है। साबुत अनाज, ओट्स और स्वीट पोटैटो का चुनाव करें

10 जेनुइन हंगर संकेतों को समझें (Know Hunger Cues)

अपने शरीर की मांग पर ध्यान दें। जेनुइन हंगर संकेतों को समझें और संतुष्ट (post weight loss hunger) करने की कोशिश करें। सक्रिय रहने की कोशिश करें। नियमित एक्सरसाइज ओवरऑल हेल्थ को ठीक करता है और भूख को नियंत्रित करने में भी मदद करता है

अंत में

ये सरल लेकिन प्रभावी टिप्स वजन घटाने के बाद हंगर पैंग्स को सफलतापूर्वक प्रबंधित करने में मदद करेंगी।

यह भी पढ़ें :-Flax seeds to lose weight : स्वस्थ तरीके से वजन घटाना चाहती हैं, तो रोज खाएं 1 चम्मच अलसी पाउडर

  • 125
लेखक के बारे में

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है। ...और पढ़ें

अगला लेख