हार्ट हेल्थ के लिए जरूरी है सही ब्लड सर्कुलेशन, इन 8 तरीकों से करें इसमें सुधार

ब्लड सर्कुलेशन को बूस्ट करने के लिए आपको अधिक मेहनत करने की आवश्यकता नहीं होती, केवल कुछ बातों का ध्यान रख आप इन्हे आसानी से इंप्रूव कर सकती हैं।
सभी चित्र देखे foods to boost blood circulation
एक्सरसाइज के साथ ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ा सकती हैं। चित्र: शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 3 Apr 2024, 09:23 pm IST
  • 124

शरीर के लिए हेल्दी ब्लड सर्कुलेशन बेहद महत्वपूर्ण है। शरीर के छोटे-छोटे फंक्शंस समग्र सेहत को बनाए रखने में एक महत्वपूर्ण योगदान देते हैं। वहीं ब्लड सर्कुलेशन इन्हीं महत्वपूर्ण बॉडी फंक्शंस में से एक है। ब्लड सर्कुलेशन धीमा होने पर बॉडी में कई लक्षण नजर आ सकते हैं, खास कर यह कार्डियोवैस्कुलर डिजीज के खतरे को बढ़ा देता है। हालांकि, ब्लड सर्कुलेशन को बूस्ट करने के लिए आपको अधिक मेहनत करने की आवश्यकता नहीं होती, केवल कुछ बातों का ध्यान रख आप इन्हे आसानी से इंप्रूव कर सकती हैं। यहां हम ऐसे ही 8 जरूरी टिप्स के बारे में बात कर रहे हैं (How to boost blood circulation)।

हेल्थ शॉट्स ने ब्लड सर्कुलेशन को बूस्ट करने से संबंधी जरूरी जानकारी के लिए जुपिटर हॉस्पिटल पुणे महाराष्ट्र की कंसल्टेंट हेमेटोलॉजिस्ट और बीएमटी स्पेशलिस्ट डॉक्टर श्वेता लुंकड़ से सलाह ली। तो चलिए जानते हैं एक्सपर्ट ने कौन से टिप्स सुझाए हैं।

जानें नेचुरली कैसे बूस्ट कर सकते हैं ब्लड सर्कुलेशन (How to boost blood circulation)

1. शारीरिक रूप से सक्रिय रहें

डॉ श्वेता कहती हैं, “नियमित कार्डियोवैस्कुलर एक्सरसाइज जैसे कि जॉगिंग सर्कुलेटरी सिस्टम की सेहत को सपोर्ट करता है। साथ ही ब्लड सर्कुलेशन को इंप्रूव करता है। एक्सपर्ट के अनुसार नियमित रूप से 30 मिनट के लिए किसी भी शारीरिक गतिविधि में भाग लेकर आप खुद को पूरी तरह से फिट रख सकती हैं।

pcos se bachaw ke liye physical activity karen
शारीरिक रूप से सक्रीय रहें। चित्र: शटरस्‍टॉक

शारीरिक गतिविधियों में भाग लेने से आपका हार्ट ब्लड को प्रभावी रूप से पंप करता है, जिससे कि ब्लड फ्लो में सुधार होता है। साथ ही वर्कआउट नाइट्रिक ऑक्साइड का प्रोडक्शन को भी बूस्ट करता है, जिससे ब्लड वेसल्स रिलैक्स रहते हैं और ब्लड फ्लो बेहतर होता है।”

2. ऑयली फिश का सेवन करें

ऑयली फिश में ओमेगा 3 फैटी एसिड की मात्रा पाई जाती है, जो कार्डियोवैस्कुलर हेल्थ और ब्लड सर्कुलेशन को इंप्रूव करती है। सलमान, मैकेरेल, टुना, आदि जर्सी ऑयली फिश को अपनी डाइट में शामिल करें। विगन और वेजीटेरियन केल जैसे ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर वेजीटेरियन विकल्प चुन सकते हैं। इसके अलावा जो लोग मछली का सेवन नहीं करते उनके लिए ओमेगा 3 फैटी एसिड सप्लीमेंट भी एक विकल्प है।

यह भी पढ़ें: गर्भवती महिलाओं के लिए एवोकाडो का सेवन है किस प्रकार से फायदेमंद, आइए जानते हैं एक्सपर्ट से

3. बॉडी में आयरन संतुलन को बनाये रखें

सर्कुलेटरी सिस्टम के लिए आयरन एक महत्वपूर्ण मिनरल साबित हो सकता है। शरीर को हीमोग्लोबिन का निर्माण करने के लिए भरपूर मात्रा में आयरन की आवश्यकता होती है। हीमोग्लोबिन रेड ब्लड सेल्स का मेजर कॉम्पोनेंट है, जो बॉडी के प्रत्येक अंगों तक पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करता है। शरीर में आयरन की मात्रा को बनाए रखने के लिए पलक रेड मीट का सीमित सेवन सहित पालक और अन्य आयरन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें। हालांकि, आयरन की अधिकता भी हार्ट के लिए उचित नहीं है, ऐसे में इसकी मात्रा को बैलेंस रखना महत्वपूर्ण है।

4. ग्रीन और ब्लैक टी लें

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित अध्ययन के अनुसार ब्लैक और ग्रीन टी दोनों ही एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती हैं। इनका सेवन कार्डियोवैस्कुलर हेल्थ के लिए बेहद कारगर माना जाता है, क्योंकि यह आर्टिरीज के डैलेशन में मदद करती हैं। इतना ही नहीं ये ब्लड सर्कुलेशन को भी इंप्रूव करने में बेहद प्रभावी रूप से कार्य करते हैं।

green tea hai tvcha ke liye khas
नकारात्मक प्रभाव को कम कर देते हैं। चित्र : एडॉबीस्टॉक

5. बीटरूट जूस

ग्रीन और ब्लैक टी की तरफ बीटरूट के अपने खास फायदे होते हैं। ब्लड सर्कुलेशन पर इसका भी एक महत्वपूर्ण प्रभाव है, क्योंकि यह ब्लड वेसल्स को फ्लैक्सिबल बनाती है जिससे कि ब्लड फ्लो इंप्रूव होता है। वहीं इसमें आयरन की मात्रा पाई जाती है, जो हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ावा देती है। जिससे कि ब्लड फ्लो हेल्दी रहता है, साथ ही साथ पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन कैरी कर पता है। वहीं यह ब्लड प्रेशर की स्थिति में भी कारगर होते हैं।

6. खुदको हाइड्रेटेड रखें

हेल्दी ब्लड सर्कुलेशन के लिए हाइड्रेशन बेहद महत्वपूर्ण होता है। जब शरीर हाइड्रेटेड होती है, तो बॉडी की आधी से ज्यादा परेशानियां दूर हो जाती हैं। शरीर में पानी की कमी होने से डिहाइड्रेशन होता है, जिसकी वजह से ब्लड गाढ़ी हो सकती है और इन्हें पंप और सर्कुलेट कर पाना मुश्किल हो सकता है। इसलिए भरपूर मात्रा में पानी पिएं, इससे बॉडी पूरी तरह से हाइड्रेटेड रहेगी। इसके अलावा अन्य हाइड्रेटिंग ड्रिंक जैसे की वाटरमेलन जूस कुकुंबर जूस आदि भी ले सकती हैं।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

7. पैरों को ऊपर उठाएं

शारीरिक स्थिरता तथा लंबे समय तक एक ही मुद्रा में बैठे रहने से बॉडी में ब्लड सर्कुलेशन धीमा हो सकता है। ऐसे में लेटे हुए अपने दोनों पैरों को ऊपर की ओर उठाने से ब्लड सर्कुलेशन को बूस्ट करने में मदद मिलेगी। पैरों को ऊपर उठाएं और अपने एंकल को सर्कुलर मोशन में घुमाएं।

smoking
स्मोकिंग की आदत खतरनाक है. चित्र : एडॉबीस्टॉक

8. स्मोकिंग न करें

स्मोकिंग ब्लड वेसल्स को डैमेज कर ब्लड फ्लो को रिड्यूस कर सकता है, जिसकी वजह से ब्लड सर्कुलेशन पर नकारात्मक असर देखने को मिलता है। स्मोकिंग छोड़ने से सेहत पर कई सकारात्मक फायदे देखने को मिल सकते हैं। खास कर यह सर्कुलेटरी सिस्टम के लिए अत्यधिक फायदेमंद होता है। सिगरेट ऑफ़ कैफीन का अत्यधिक सेवन ब्लड वेसल्स को संकुचित कर देता है, जो ब्लड फ्लो को धीमा कर देते हैं। जिसकी वजह से ऑक्सीजन की कमी हो सकती है। इसलिए हेल्दी ब्लड फ्लो मेंटेन करना जरूरी है।

यह भी पढ़ें: वर्कआउट के बाद पिएं कोकोनट वॉटर, वेट लॉस के अलावा मिलेंगे और भी फायदे

  • 124
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख