और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

दूध में छुआरा उबालकर पियें और पाएं सर्दियों की इन समस्याओं से छुटकारा

Published on:11 December 2020, 09:49am IST
दूध और छुआरा दोनों ही पोषक तत्वों का भंडार हैं। लेकिन क्या दोनों को साथ में लेने से इनके फायदे बढ़ जाते हैं? आइये जानते हैं।
विदुषी शुक्‍ला
  • 76 Likes
दूध में छुआरा उबालकर पियें और पाएं सर्दियों की इन समस्याओं से छुटकारा। चित्र- शटरस्टॉक।

सर्दियों में आपको अपनी पूरी लाइफस्टाइल बदलनी पड़ती है। आप क्या पहनती हैं, कितनी देर सोती हैं, यहां तक कि आपके नहाने का रूटीन भी सर्दियों में बदल जाता है। लेकिन सबसे बड़ा और आवश्यक परिवर्तन आता है आपके भोजन में। सर्दियों में सरसों का साग और मक्के की रोटी के साथ-साथ सिंघाड़ा, गुड़, पालक, चौलाई इत्यादि आहार में शामिल हो जाते हैं।

एक और फायदेमंद और महत्वपूर्ण खाद्य जो आपको अपने आहार में सर्दियों में जरूर शामिल करना चाहिए, वह है छुआरा! और इसको खाने का सबसे अच्छा तरीका है इसे दूध में उबाल कर उस दूध का सेवन करना।

हम बताते हैं छुआरा और दूध का सेवन आपको सर्दियों में किन समस्याओं से छुटकारा दिलाता है-

1. जोड़ों के दर्द और अर्थराइटिस

सर्दियों में हड्डियों और जोड़ों की तकलीफ बढ़ जाती है। ये समस्या आपके बुजुर्ग माता-पिता में सबसे अधिक होती है। अगर अर्थराइटिस या ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारियां हैं, तो सर्दियों में ये समस्या कई गुना बढ़ जाती है। इससे निपटने के लिए आपको सिर्फ छुआरा और दूध चाहिए।
ये दोनों ही इंग्रेडिएंट्स कैल्शियम में भरपूर होते हैं। जिन्हें अगर साथ मे खाया जाए तो ये हड्डियों को मजबूत बनाने में सहायक हैं। पबमेड सेंट्रल में प्रकाशित 2008 की स्टडी में पाया गया है कि छुआरा हड्डियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसका सेवन आपको जोड़ों के दर्द से राहत देगा।

क्यों होता है जोड़ों में दर्द। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. कब्ज की समस्या

छुआरा फाइबर और पोटेशियम का महत्वपूर्ण स्रोत है। फाइबर पेट को साफ करता है और मल को नर्म बनाता है। इससे आपको कब्ज की समस्या नहीं होती है। दूध में भी पाचन बढ़ाने वाले एंजाइम होते हैं जिससे कब्ज में राहत मिलती है। रात को आप इस दूध को पियें तो सुबह फ्रेश होने में कोई तकलीफ नहीं होगी।

3. दांतों और मसूड़ों में खून आना

जैसा कि आप जानती हैं हमारे दांत भी कैल्शियम से बने होते हैं। ऐसे में कैल्शियम का पावरहाउस छुआरा दांतों के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद है। बस ध्यान रहे कि इस दूध में चीनी ना मिलाएं। वैसे भी छुआरे में अपनी मिठास होती है।

छुआरा दांतों के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद है। चित्र- शटरस्टॉक।

4. वजन बढ़ाने में सहायक है

छुआरा असल में खजूर से अधिक कैलोरी युक्त होता है। यही कारण है अगर आप दुबलेपन से परेशान हैं और वजन बढ़ाना चाहती हैं, तो छुआरा आपके लिए बहुत फायदेमंद होता है। दूध में पका कर इसका सेवन से आपको दूध में मौजूद फैट भी मिलेगा जो स्वस्थ तरीके से आपका वजन बढ़ाएगा।

आइए अब हम आपको बताते हैं छुआरे वाला दूध बनाने का तरीका

1.आपको हर दिन सिर्फ 2 छुआरे गर्म पानी मे 10 मिनट तक भिगाने हैं।
2.ये हल्के से फूल जाएंगे, तो इनका बीज निकाल लें।
3. इसे एक गिलास दूध में मिलाकर तेज आंच पर चढ़ा दें। दूध में उबाल आने दें।
4. अब धीमी आंच पर 2 से 5 मिनट तक इन्‍हें पकाएं।
5. इस दूध को गुनगुना पियें। और छुआरे के लाभ उठाएं।

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।