बढ़ानी है दिल की उम्र, तो हर रोज़ खाएं मुट्ठी भर भीगे बादाम, मेमोरी बढ़ाने के अलावा ये 5 फायदे भी देता है बादाम

अक्सर याददाश्त बढ़ाने के लिए बादाम का सेवन करने की सलाह दी जाती है। लेकिन क्या आप जानती हैं कि पोषक तत्वों से भरपूर बादाम आपको कई बड़ी बीमारियों से भी बचा सकते हैं?

यहां जानिए आपकी सेहत के लिए कितने फायदेमंद हैं भीगे हुए बादाम। चित्र : शटरकॉक
ईशा गुप्ता Published on: 24 August 2022, 12:00 pm IST
  • 144

आपने अपनी दादी-नानी को रोज बादाम खाने की सलाह देते हुए जरुर सुना होगा, क्योंकि याददाश्त बढ़ाने से लेकर शरीर मजबूत करने तक बादाम का सेवन करना बेहद लाभदायक माना जाता है। पर बादाम के लाभ सिर्फ यहीं तक सीमित नहीं हैं। इसमें मौजूद खास पोषक तत्व आपको कई बीमारियों से भी बचा सकते हैं। नहीं जानतीं, तो इस लेख काे अंत तक पढ़ें।

आयुर्वेद के अनुसार बादाम के फायदे

बदाम में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट होने के साथ कई सारे पोषक तत्व होते हैं। आयुर्वेद की मानें तो बादाम का सेवन करने से शरीर की कमजोरी दूर होती है, साथ ही भूख न लगने पर भी बदाम का सेवन करना बेहद लाभदायक है।

मेमोरी बढ़ाने के अलावा यहां जानिए बादाम खाने के और भी 5 फायदे

blood sugar level
बढ़े हुए शुगर लेवल को तुरंत कंट्रोल कर लेना चाहिए।चित्र : शटरस्टॉक

1. ब्लड शुगर करता है कंट्रोल

नट्स जैसे बादाम, में कार्ब्स की मात्रा बहुत कम होती है, लेकिन हेल्दी फैट्स, प्रोटीन और फाइबर की मात्रा भरपूर होती है। जिस कारण डायबिटीज के मरीजों के लिए यह बेहद लाभदायक है। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन की 1991 की रिसर्च के अनुसार बादाम में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है। साथ ही शरीर में मैग्नीशियम का स्तर ठीक होने से टाइप 2 डायबिटीज में लाभ होता है।

2. नहीं आने देता चेहरे पर झुर्रियां

बढ़ती उम्र के साथ चेहरे पर झुर्रियां आना आम बात है। लेकिन कम उम्र में झुर्रियां आने से स्किन हेल्थ पर बहुत असर पड़ता है। आयुर्वेद के अनुसार जिन लोगों को झुर्रियों की समस्या है, उन लोगों को रोज बादाम का सेवन करने के साथ बदाम का लेप लगाना चाहिए। इससे झुर्रियों की समस्या में लाभ होता है।

3. कंट्रोल रखता है कोलेस्ट्रॉल लेवल

विशेषज्ञों के अनुसार रोजाना एक मुट्ठी भीगे हुए बादाम खाने से बैड कोलेस्ट्रॉल को कम किया जा सकता है। शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ना भी दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा बढ़ा सकता है।

पबमेड सेंट्रल ने जून 2010 में एक रिसर्च की, जिसमें प्रीडायबिटीज वाले 65 लोगों पर 16 सप्ताह तक स्टडी की गई। इस रिसर्च में सामने आया कि रोज बादाम का सेवन करने से बैड कोलेस्ट्रॉल का स्तर 12.4 mg तक कम हो गया। जिसका सीधा अर्थ है आपके हृदय के स्वस्थ रहने की ज्यादा संभावना।

बादाम का सेवन करने से आपको वजन घटाने में भी मदद मिलती है। चित्र : शटरकॉक

4. वजन कम करने में कारगार

वेट लॉस जर्नी में बादाम जैसे नट्स का सेवन करना जरूरी माना जाता है, क्योंकि इसमें हेल्दी फाइबर और फैट्स होते हैं। जो शरीर के विकास के लिए बेहद लाभदायक हैं। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिंस के अनुसार बदाम का सेवन करने से आपको लंबे समय तक भूख नहीं लगती। जिससे आप कम कैलोरी का सेवन करती हैं। इसी कारण बादाम को एक वेट लॉस फ्रेंडली फूड माना जाता है।

5. आंतो की समस्या में बेहद लाभदायक

हमारी पाचन क्रिया को स्वस्थ रखने के साथ आंतों के लिए भी बदाम बेहद लाभदायक होता है। अगर हमारी आंतें स्वस्थ हैं तो हमारा पेट भी स्वस्थ रहेगा। आयुर्वेद के अनुसार जिन लोगों को आंतों से संबंधित समस्या है, वे अगर बादाम को अंजीर के साथ पीसकर सेवन करें, तो इससे आंतों की समस्या से राहत मिलती है।

यह भी पढ़े – एक्सरसाइज छोड़ने के तीसरे दिन से बढ़ जाता है एंग्जायटी और अवसाद का खतरा, जानिए क्यों जरूरी है रेगुलर वर्कआउट

  • 144
लेखक के बारे में
ईशा गुप्ता ईशा गुप्ता

यंग कंटेंट राइटर ईशा ब्यूटी, लाइफस्टाइल और फूड से जुड़े लेख लिखती हैं। ये काम करते हुए तनावमुक्त रहने का उनका अपना अंदाज है।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory