ब्रेकफास्ट का एक हेल्दी विकल्प है मूसली, इन 3 तरीकों से करें अपनी डाइट में शामिल

नियमित रूप से ब्रेकफास्ट करना बहुत जरूरी है, ऐसे में मूसली आपके ब्रेकफास्ट का एक हेल्दी विकल्प हो सकता है। यहां बताए गए इन 3 तरीकों से मूसली को अपनी नियमित डाइट में शामिल करें।

beta glucose jaise tatva bharpur matra me paye jate hain.
मूसली में बीटा-ग्लूकन जैसे तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। चित्र: शटरस्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published on: 26 August 2022, 09:00 am IST
  • 155

ब्रेकफास्ट को पूरे दिन का सबसे महत्वपूर्ण भोजन कहा जाता है। कभी भी ब्रेकफास्ट स्किप न करें और इसे समय पर लेना बहुत जरूरी है। परंतु हम में से कइ लोग ब्रेकफास्ट को लेकर अनुशासित नहीं रहते। आजकल लगभग सभी लोग सुबह काफी लेट उठते हैं, इसके बाद ऑफिस और दफ्तर के लिए हड़बड़ी में तैयार होना और बिना नाश्ता किए निकल जाना डेली रुटीन सा बनता जा रहा है। ऐसे में लोग टोस्ट और कॉर्नफ्लेक्स जैसे कम समय में तैयार होने वाले नाश्ते की ओर आकर्षित होते जा रहे हैं। परंतु हमारे पास इससे भी ज्यादा हेल्दी विकल्प है, जो आपके समय को बचाने के साथ ही आपके शरीर में जरूरी पोषक तत्वों की कमी को पूरा करने में मदद करेगा, जैसे कि मूसली।

मूसली ब्रेकफास्ट का एक हेल्दी विकल्प है, जिसमें फाइबर और प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है।मूसली मोटे अनाज, टोस्टेड ओट्स, ताजे या सूखे मेवे और गेहूं के गुच्छे का मिश्रण होता है। इसमें किसी भी प्रकार के शुगर कोटेड ग्रेंस मौजूद नहीं होते, इसलिए अन्य फूड्स की तुलना में ब्रेकफास्ट के तौर पर यह एक हेल्थी विकल्प साबित हो सकता है।

apna proteen intake badhaen
अपना प्रोटीन इंटेक बढ़ाएं। चित्र : शटरस्टॉक

पहले जाने मूसली आखिर है क्या

फाइबर से भरपूर मूसली डाइजेस्टिव हेल्थ के लिए काफी ज्यादा जरूरी होती है। यह साबुत अनाज से बना होता है। इसके साथ ही इसमें कैलरी बहुत कम मात्रा में पाई जाती है। वहीं साबुत अनाज मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करने में मदद करता है और आपको लंबे समय तक संतुष्ट रखता है। स्टडी की माने तो ओट्स वजन कम करने के लिए एक प्रभावी विकल्प माना जाता है। मूसली मूल रूप से बीटा-ग्लूकन नामक एक ओट फाइबर होती है। वहीं नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन के मुताबिक बीटा-ग्लूकन कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित रखने में मदद करता है। साथ ही हृदय स्वास्थ्य को भी बनाए रखता है।

मूसली को कई तरह के टेस्टी और हेल्दी डिश के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। आप इसे अपनी नियमित दिनचर्या में ब्रेकफास्ट के तौर पर शामिल कर सकती है।

इन 3 तरीकों से अपने ब्रेकफास्ट में शामिल करें मूसली

1 नाश्ते में दूध के साथ खाएं

दूध के साथ मूसली खाना सबसे आसान और असरदार तरीका है। आप इसे गर्म या ठंढे दूध के साथ लेती हैं यह आप पर निर्भर करता है। आप इसे अनाज के रूप में ले सकती हैं, इसके साथ ही इसके ऊपर कुछ फ्रेश स्ट्रॉबेरी और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर फूड्स को ऐड करें।

muesli ke fayde
नाश्ते में दूध के साथ खाएं। चित्र शटरस्टॉक

2 कच्ची मूसली का सेवन करें

आप चाहें तो कच्ची मूसली को मंचिंग के तौर पर भी ट्राई कर सकती हैं। यह ऑफिस में दोपहर और शाम के समय होने वाली क्रेविंग्स को कम करने का एक हेल्दी विकल्प होता है। इन्हें सील्ड पाउच में बंद करके अपने पर्स में रख सकती हैं, भूख लगने पर इन्हें खाएं।

3 मूसली चाट

यदि आपको मूसली का स्वाद पसंद नहीं है, तो आप इसमें कुछ स्वादिष्ट फ्लेवर एड करके इसे अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं। जैसे कि मूसली चाट एक विकल्प रहेगा। इसमें प्रोटीन की मात्रा बढ़ाने के लिए स्प्राउट्स या पनीर मिलाएं। साथ ही नींबू का रस निचोड़ें और कुछ मसाले मिलाकर इसके स्वाद को संपूर्ण बना सकती हैं।

यह भी पढ़ें : वेट लॉस के लिए कुछ अलग ट्राई करना चाहती हैं, तो  यहां है खीरा और कीवी ग्रीन स्मूदी रेसिपी

  • 155
लेखक के बारे में
टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी,
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें
nextstory