तुरंत एनर्जी देने वाला व्यंजन है केले का हलवा, नोट कीजिए रेसिपी और सेहत लाभ

हलवा का नाम सुनते ही हमें सूजी या फिर गाजर के हलवे की याद आती है। पर अगर आप फैट से ज्यादा एनर्जी पाना चाहती हैं, तो एक बार पके केले का हलवा ट्राई करें।
banana halwa recipe
केले पोटेशियम और विटामिन बी6 जैसे पोषक तत्वों का एक बहुत अच्छा स्रोत हैं। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Updated: 27 Feb 2024, 04:17 pm IST
  • 134

हलवा भारतीयों घरों में खाया जाने वाले डेजर्ट के रूप में काफी पसंद किया जाता है। भारत के हर घर में कभी न कभी या किसी न किसी खास मौके पर हलवा तो जरूर ही बनता होगा। ज्यादातर लोग सूजी का हलवा बनाते हैं, जिसमें ढेर सारे घी का इस्तेमाल किया जाता है। जो लोग वजन कम करना चाहते हैं या फिर फिटनेस को प्राथमिकता देते हैं, वे हाई फैट के कारण इसे खाने से परहेज करते हैं। अब आपको हलवे से दूरी बनाने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि हम आपके लिए लेकर आए हैं टेस्टी और हेल्दी तरीके से बनने वाले केले के हलवे की रेसिपी (Banana halwa recipe)

पके हुए केले से इस रेसिपी को इसलिए बनाया जाता है क्योंकि पकने के बाद केले इतने मीठे हो जाते हैं कि उसमें आपको चीनी डालने की जरूरत नहीं पड़ती। जिससे इसमें कैलोरी बढ़ने की संभावना भी कम हो जाती है। इसका स्वाद बढ़ाने के लिए आप इसमें गुड़ का इस्तेमाल कर सकते हैं।

kele ka halwa
केले में फाइबर पाया जाता है जो कि आपके पाचन तंत्र के लिए बहुत अच्छा है। चित्र- अडोबी स्टॉक

केले पोटेशियम और विटामिन बी6 जैसे पोषक तत्वों का एक बहुत अच्छा स्रोत हैं। केले में अन्य घटकों के साथ ये पोषक तत्व हृदय स्वास्थ्य का समर्थन करने से लेकर ऊर्जा प्रदान करने तक विभिन्न स्वास्थ्य लाभ दे सकते हैं।

आपकी सेहत को ये 4 लाभ देता है पके केले का हलवा (Health benefits of Banana Halwa)

1 यह फाइबर से भरपूर है (Fiber helps in digestion)

केले में फाइबर पाया जाता है जो कि आपके पाचन तंत्र के लिए बहुत अच्छा है। लोग अपनी उम्र के आधार पर प्रति दिन 22 से 34 ग्राम फाइबर का सेवन करना चाहिए। फाइबर एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है जो पाचन और हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है। यह टाइप 2 डायबिटीज और कुछ प्रकार के कैंसर, जैसे कोलन कैंसर, के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है।

2 हार्ट हेल्थ के लिए फायदेमंद (good for heart health)

केले में पाए जाने वाले अधिक घुलनशील फाइबर को अपनी डाइट में शामिल करने से एलडीएल या खराब कोलेस्ट्रॉल कम किया जा सकता है, जिससे हृदय रोग और स्ट्रोक का खतरा कम हो सकता है। घुलनशील फाइबर ऐसा करता है वह छोटी आंत में कोलेस्ट्रॉल अणुओं से जुड़कर और उनके अवशोषण को रोकता है।

3 ऊर्जा प्रदान करता है (source of energy)

केला आपको सबसे जल्दी ऊर्जा प्रदान करता है। इसलिए कई लोग जिम जाने से पहले केले का सेवन करते हैं। केले कार्बोहाइड्रेट का एक स्रोत हैं, जो शरीर का प्राथमिक ईंधन स्रोत है। जब केले कच्चे होते हैं, तो उनमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा मुख्य रूप से स्टार्च होती है। जैसे-जैसे वे पकते हैं, स्टार्च की मात्रा कम हो जाती है और सुक्रोज की मात्रा बढ़ जाती है। सरल शर्करा आसानी से रक्तप्रवाह में अवशोषित हो जाती है, जिससे शरीर को तेजी से ऊर्जा मिलती है।

4 मांसपेशियों को बढ़ाने में मदद करता है (muscles health)

केले मांसपेशियों के समुचित कार्य के लिए आवश्यक पोटेशियम जैसे इलेक्ट्रोलाइट्स का एक प्राकृतिक स्रोत हैं।रक्त में पोटेशियम के कम स्तर से मांसपेशियों में कमजोरी आ सकती है। पर्याप्त पोटेशियम व्यायाम के लिए विशेष रूप से महत्वपूर्ण है क्योंकि पोटेशियम की कमी व्यायाम के दौरान आपकी मांसपेशियों को अधिक थका सकती है।

कैसे बनाएं केले का हेल्दी हलवा (how to make banana halwa)

केले का हलवा बनाने के लिए आपको चाहिए

पके केले 4
गुड़ 1/2 कप
नारियल तेल 1-2 चम्मच
बारीक कटे हुए मेवे 1/2 कप
पिसी हुई इलायची 1/2 चम्मच
पानी 1/4 कप (यदि जरूरी हो)

banana sheera ki recipe
जानिए केले के हलवे की रेसिपी। चित्र : शटरस्टॉक

ऐसे बनाएं केले का हलवा

सबसे पहले केले छीलकर, उन्हें एक कटोरे में अच्छी तरह से मैश कर लें।

एक पैन या कढ़ाही में, मध्यम आंच पर नारियल का तेल गर्म करें।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

तेल गर्म हो जाने पर, पैन में मैश किए हुए केले डालें और उन्हें चिपकने से रोकने के लिए लगातार चलाते हुए कुछ मिनट तक भून लें।

पैन में गुड़ डालें और केले के साथ अच्छी तरह मिलाएं। लगातार चलाते रहें जब तक सभी चीजें अच्छे से मिक्स न हो जाए।

पैन में बारीक कटे हुए मेवे, पिसी हुई इलायची डालें। सभी चीजों को एक साथ अच्छी तरह मिला लें।

हलवे को लगातार चलाते हुए पकाते रहें, जब तक कि यह गाढ़ा न हो जाए। अगर मिश्रण ज्यादा गाढ़ा हो जाए तो आप इसे ढीला करने के लिए इसमें थोड़ा सा पानी मिला सकते हैं।

एक बार जब हलवा पक जाए तो इसे गैस से नीचे उतार लें।

यह भी पढ़े- ओवरवेट है आपका बच्चा, तो जानिए इसे कंट्रोल करने में उसकी मदद कैसे करनी है

  • 134
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख