5 तरीके जिनसे माता-पिता बच्चों की याददाश्त तेज करने में मदद कर सकते हैं

बच्चें एक स्पंज की तरह होते है जिन्हें जो सिखाया जाता है वे वही समझते है। अगर आपको भी अपने बच्चे की याददाश्त को मजबूत करना चाहते है तो आपको बचपन से ही कुछ चीजें करने की जरूरत है।
memory sharp
माता-पिता का यह काम है कि अपने बच्चों की याददाश्त कौशल को सुधारने में मदद करें। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Updated: 7 Nov 2023, 10:39 am IST
  • 145

बचपन हर बच्चे के लिए सीखने की उम्र होती है, आपने देखा होगा कि कई बच्चे ऐसे होते है जो बहुत जल्दी चीजें याद कर लेते है और समझ जाते है, लेकिन कुछ बच्चे ऐसे होते है जो समझ नही पाते है। कई बार आप भी इस चीज से परेशान होते होंगे की आपका बच्चा दूसरों के बच्चों की तरह किसी भी चीज को समझ क्यों नही पाता है। कई बार आप अपने बच्चे की तुलना करने भी लगते है। लेकिन आपको ये नहीं करना है आपको इस पर काम करने की जरूरत होती है।

किसी भी क्षेत्र में सफलता के लिए एक महत्वपूर्ण कारक है तेज़ याददाश्त। माता-पिता का यह काम है कि अपने बच्चों की याददाश्त कौशल को सुधारने में मदद करें ताकि वे जीवन में आने वाली चुनौतियों का सामना कर सकें। आज हेल्थ शाट्स के माध्यम से हम आपको ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं जिनसे माता-पिता अपने बच्चे की याददाश्त को तेज करने में मदद कर सकते हैं।

हेल्थ शाट्स ने इस बारे में ज्यादा जानने के लिए बात की सीनियर क्लीनिकल साइकोलॉजिस्ट डॉ. आशुतोष श्रीवास्तव से। उन्होंने बच्चों की याददाश्त को बढ़ाने के लिए कुछ टिप्स बताएं है।

bacho ki memory sharp krne ke liye unke diet ka khyal rakhna bhi jaruri hai
बच्चों की याददाश्त को मजबूत करने के लिए उन्हे दिमाग वाले खेल खिलाएं। चित्र : शटरस्टॉक

बच्चों की याददाश्त बढ़ाने के के लिए टिप्स

उनके लिए एक दिनचर्या बनाएं

बच्चों एक लिए एक दिनचर्या बनाएं जिसे उन्हें हर दिन फॉलो करना होगा। इससे वे याद रखेंगे की उन्हे क्या करना है। इससे भी उनकी मेमोरी तेज हो सकती है। पूरे दिन में उन्हें क्या करना है ये याद रखने की कोशिश वो खुद करेंगे और अपने लिए खुद से काम करेंगे। हालांकि बच्चे कभी कभी खेलने में ज्यादा व्यस्त हो जाते है इसलिए आप उन्हें इस दिनचर्या के बारे में याद दिला कर फॉलो करने के लिए कह सकती है।

हेल्दी लाइफस्टाइल फॉलो करवाएं

याददाश्त को मेमोरी को तेज करने का सबसे जरूरी भाग है कि आप कैसा खाना खा रहें है। आपका पोषण का स्तर कैसा है ये आपको शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ्य रखने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

आज कर बच्चे अपना ज्यादा समय केवल मोबाइल फोन में गुजार रहें जिसके कारण न वो फिजिकल एक्टिव है और न ही पोषक तत्वों से भरपूर खाना खा रहें है। इसलिए ये जरूरी है कि वे एक हेल्दी लाइफस्टाइल का पालन करें। संतुलित आहार, नियमित व्यायाम और पर्याप्त नींद अच्छे मस्तिष्क कार्य और याददाश्त के लिए आवश्यक हैं।

memory kaisde tej karein
विटामिन बी12 की कमी से याददाश्त कमजोर हो सकती है. चित्र : शटरस्टॉक

बच्चों के लिए मेमोरी गेम्स आयोजित करें

मेमोरी गेम की मज़ेदार, आकर्षक और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यह बच्चों की याद रखने की शक्ति को बेहतर बनाने का एक प्रभावी तरीका है। ये गेम क्लासिक गेम जैसे दो चीजों को मिलाना से लेकर अधिक जटिल पहेलियां हो सकती हैं। बच्चों के लिए मेमोरी गेम्स को उनकी दैनिक दिनचर्या में शामिल करके, आप उनकी संज्ञानात्मक क्षमताओं को तेज करने और सीखने के प्रति प्रेम को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं।

जब बच्चे को कुछ रचनात्मक सोचने के लिए कहा जाता है तो उससे उनकी सोचने समझने की क्षमता और मजबूत होती है। मेमोरी गेम की जटिलता अक्सर भ्रमित करने वाली हो सकती है, जो उन्हें और भी अधिक फायदेमंद बनाती है।

चीजो को विज़ुअलाइज करें

चीजों को याद रखने के लिए विज़ुअलाइज़ेशन एक अच्छी तकनीक है। यह माइंड मैप बनाने की दिशा में पहला कदम है।

आप अपने बच्चे को एडिंग जैसी बुनियादी चीज सिखाने के लिए इसका उपयोग कर सकते हैं। दो कारें या उनकी पसंद की कोई भी चीज बनाने को कहें और बताएं कि कुल कितनी कारें हैं। इससे उन्हें उन अवधारणाओं की कल्पना करने में मदद मिलती है जो वे सीखते हैं। उदाहरण के लिए, अपने बच्चे को ऐतिहासिक घटनाओं को एक फिल्म में बदलने के लिए कहें ताकि उन्हें इसे बेहतर ढंग से याद रखने में मदद मिल सके।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

ये भी पढ़े- 3 डॉक्टर बता रहे हैं, कैसे प्रजनन क्षमता को कमजोर करता जाता है तनाव, जानिए इसे कैसे करना है कंट्रोल

  • 145
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख