सोया है डायबिटीज और हार्ट हेल्थ के लिए फायदेमंद, इन 5 तरीकों से कर सकती हैं डाइट में शामिल

वीगन डाइट फॉलो करने वालों के लिए सोया एक सबसे बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है। सोया का सेवन कई स्वास्थ्य समस्याओं के खतरे को कम कर सकता है।
Soya milk kefayde
सोया मिल्क में मौजूद आइसोफ्लेवोन की मात्रा से शरीर में ब्ल्ड प्रेशर को लो रखने में मदद मिलती है। चित्र: शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 27 Aug 2023, 08:00 am IST
  • 135

सोयाबीन और सोया प्रचलित खाद्य पदार्थों में से एक है। ईस्ट एशिया खासकर भारत में इसे बड़े पैमाने पर उगाया जाता है। वहीं इसी तमाम भारतीय व्यंजनों को बनाने में अलग-अलग रूप में इस्तेमाल किया जाता है। इसमें मौजूद कुछ महत्वपूर्ण पोषक तत्व इसे बेहद खास बना देते हैं। खासकर वीगन डाइट फॉलो करने वालों के लिए सोया एक सबसे बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है। सोया का सेवन कई स्वास्थ्य समस्याओं के खतरे को कम कर सकता है। तो आज हेल्थ शॉट्स आपके लिए लेकर आया है, सोयाबीन के कुछ महत्वपूर्ण फायदे। साथ ही सोया के कुछ खास खाद्य स्रोत, जिसे आप अपनी नियमित डाइट का हिस्सा बना सकती हैं (how to add soy in diet)।

पहले जानें क्यों इतना खास है सोया

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन के अनुसार सोया में प्रोटीन फाइबर और हेल्दी कार्ब्ज पाए जाते हैं। इसके अलावा इसमें पानी की मात्रा भी अधिक होती है। इतना ही नहीं यह कई महत्वपूर्ण विटामिन और मिनरल्स जैसे कि विटामिन k1, फोलेट, कॉपर, मैंगनीज, फास्फोरस, थायमिन का एक बेहतरीन स्रोत है। वहीं इसमें आइसोलेवोन्स, फाइटिक एसिड और सपनोसिस जैसे प्लांट कंपाउंड मौजूद होते हैं। यह सभी एक साथ मिलकर सोया को सेहत के लिए बेहद खास बना देते हैं।

vegetarian logo ko soya product ko diet me zarur shamil karna chahiye
शाकाहारी लोगों के लिए जरूरी सुपरफूड है सोया। चित्र: शटरस्टॉक

अब जानें सोया के कुछ महत्वपूर्ण स्वास्थ्य लाभ

1. हड्डियों के लिए खास है सोया

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित अध्ययन के अनुसार नियमित रूप से सोया युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन ऑस्टियोपोरोसिस की स्थिति में बेहद फायदेमंद हो सकता है। इसमें मौजूद इसोफ्लेवोन्स इसे हड्डियों के लिए खास बनाते हैं। सोया मेनोपॉज के दौरान महिलाओं में होने वाले हड्डियों से जुड़ी समस्या का एक बेहतरीन उपाय है।

2. डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद है

सोया युक्त खाद्य पदार्थों का ग्लाइसेमिक इंडेक्स बेहद कम होता है। साथ ही साथ इसमें कार्बोहाइड्रेट और फैट की मात्रा भी सीमित होती है। डायबिटीज के मरीजों के लिए इसका सेवन बेहद फायदेमंद हो सकता है। यह प्रोटीन का एक बेहतरीन स्रोत है, इस प्रकार इसका सेवन शरीर में ग्लूकोज के स्तर को नियंत्रित रखता है और इंसुलिन संबंधी समस्याओं को भी स्थापित करता है। ताकि ब्लड शुगर लेवल को सामान्य रखा जा सके।

3. हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा दे

सोया प्रोटीन का एक बेहतरीन प्लांट सोर्स है। इसमें मौजूद प्रोटीन बैड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को सामान्य रखती हैं जिससे कि आर्टिरीज स्वस्थ रहती हैं और ब्लड फ्लो भी सामान्य रहता है। इस प्रकार इसके सेवन से हृदय संबंधी समस्याओं का खतरा सीमित रहता है।

immunity boost kre
इम्युनिटी बूस्ट करे. चित्र अडोबेस्टॉक

4. शरीर को पर्याप्त ऊर्जा शक्ति प्रदान करे

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित अध्ययन के अनुसार सोया में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन साथ ही साथ अमीनो एसिड की मात्रा पाई जाती है। यह शरीर को लंबे समय तक एनर्जेटिक रहने में मदद करते हैं। यदि आपको बार-बार थकान का अनुभव होता है तो सोया युक्त प्रोडक्ट्स को अपनी डाइट में शामिल करें।

5. त्वचा के लिए खास है सोया

कई सारे कॉस्मेटिक प्रोडक्ट में सोया का इस्तेमाल किया जाता है। आप इसे डाइट में शामिल करने के साथ ही त्वचा पर भी अप्लाई कर सकती हैं। यह त्वचा को अंदर से नमी प्रदान करता है, साथ ही साथ पिगमेंटेशन को कम करते हुए एक इवन स्किन टोन प्राप्त करने में आपकी मदद करता है।

जानें किन-किन खाद्य स्रोतों के माध्यम से प्राप्त कर सकती हैं सोया की गुणवत्ता (how to add soy in diet)

1. ग्रीन सोयाबीन (Edamame)

ग्रीन सोयाबीन हरे और हल्के मीठे स्वाद का होता है, इसे पूरी तरह से मैच्योर होने के पहले हार्वेस्ट कर लिया जाता है। यह आमतौर पर मार्केट में फ्रोजन फॉर्म में उपलब्ध होता है, आप इसे आसानी से खरीद अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं। आप चाहे तो इससे कच्चा या पका कर किसी भी रूप में खा सकती हैं। आमतौर पर लोग सलाद, सूप, पास्ता को बनाने में ग्रीन सोयाबीन का इस्तेमाल करते हैं। वहीं यह पॉपकॉर्न और चिप्स का एक हेल्दी सब्सीट्यूट हो सकता है।

यह भी पढ़ें : Bloating in pregnancy : प्रेगनेंसी में क्यों बढ़ जाती है ब्लोटिंग की समस्या, एक्सपर्ट बता रही हैं इसका कारण और बचाव के उपाय

2. सोया का आटा

पुराने समय में जब सोया मिल्क, टोफू, कॉटेज चीज आदि नहीं मिला करते थे तो लोग सोया के आटे का इस्तेमाल किया करते थे। आप इसे ट्रेडिशनल डिश बनाने में इस्तेमाल कर सकती हैं। इसे नियमित डाइट में शामिल करने के लिए चपाती, बिस्किट, ब्रेड आदि को बनाने में इसका इस्तेमाल कर सकती हैं।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
Soyabean-benefits
आपकी स्किन को पहुंचा सकते हैं फायदे। चित्र : शटरस्टॉक

3. सोया मिल्क

प्रोटीन और कैल्सियम से युक्त सोया मिल्क आपकी सेहत के लिए कमाल कर सकता है। यदि आप वीगन हैं तो यह आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प साबित होगा। अपनी नियमित प्रोटीन की आवश्यकता को पूरा करने के लिए सोया मिल्क को अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। आप चाहे तो इसमें कोको पाउडर या वैनिला फ्लेवर ऐड कर इसे अधिक स्वादिष्ट बना सकती हैं।

4. टोफू

सोया को डाइट में शामिल करने का एक सबसे प्रचलित तरीका टोफू है। लोग इसे पनीर की जगह इस्तेमाल करते हैं। यह स्वाद में बेहतरीन होने के साथ ही सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। आप इसे सब्जी, सूप, नूडल्स और विभिन्न प्रकार के अन्य व्यंजनों को बनाने में इस्तेमाल कर सकती हैं। यह ग्रॉसरी स्टोर पर आपको आसानी से मिल जाएगा।

5. सोया नट्स

सोया नट्स सभी ग्रॉसरी स्टोर्स पर उपलब्ध होते हैं। आप इन्हें भिगोकर या अंकुरित कर अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं। इसके साथ ही इन्हें रोस्ट करके स्नैक्स के तौर पर लेना भी एक अच्छा आईडिया है।

यह भी पढ़ें : स्लिम, फिट और हेल्दी रहना है , तो इन 5 मिनी मील्स को करें ट्राई, बनाने में भी हैं बेहद आसान

  • 135
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख