Flaky skin : खुश्क हवाओं से स्किन हो सकती है पपड़ीदार या फ्लेकी, ये 5 घरेलू सामग्रियां हैं बेहतरीन स्किन प्रोटेक्टर

रूखी त्वचा को हेल्दी बनाए रखने के लिए कई तरह के स्किन केयर प्रोडक्ट्स का प्रयोग किया जाता है। मगर गलत प्रोडक्टस का चयन त्वचा की समस्या को बढ़ा देता है। जानते हैं फ्लेकी स्किन क्या है और इससे कैसे राहत पाएं।
Jaante hain flaky skin ki samasya kaise karein hal
आखिर ऐसा क्यों होता है और इसके पीछे क्या कारण है। चित्र- अडोबी स्टॉक
ज्योति सोही Updated: 12 Dec 2023, 10:34 pm IST
  • 140

बदलते मौसम के साथ स्किन में कई तरह के बदलाव दिखने लगते हैं। त्वचा का रूखापन बढ़ने लगता है, जो स्किन को फ्लेकी बना देता है। इसके चलते आंखों, कान और होठों के नज़दीक की त्वचा आमतौर पर प्रभावित नज़र आने लगती हैं। स्किन में नमी की कमी फ्लेकी त्वचा की समस्या का मुख्य कारण साबित होता है। रूखी त्वचा को हेल्दी बनाए रखने के लिए कई तरह के स्किन केयर प्रोडक्ट्स (skin care products) का प्रयोग किया जाता है। मगर गलत प्रोडक्टस का चयन त्वचा की समस्या को बढ़ा देता है। जानते हैं फ्लेकी स्किन क्या है और इससे कैसे राहत पाएं (Home remedies for flaky skin)।

फ्लेकी स्किन किसे कहते हैं (What is Flaky skin)

किसी कारण से स्किन डैमेज फ्लेकी या पीलिंग त्वचा (flaky or peeling skin) की समस्या को बढ़ा देता है। त्वचा में मौजूद नेचुरल ऑयल के कम होने से स्किन में रूखापन बढ़ने लगता है, जो त्वचा को फ्लेकी बना देता है। हेल्दी स्किन में 10 से 20 फीसदी पानी की मात्रा पाई जाती है। डर्माटाइटिस, एक्जिमा, एलर्जी, एनवायरमेंटल चेंज (enviromental change) और हार्मोनल बदलाव समेत कई कारण फ्लेकी स्किन की समस्या को बढ़ा देते हैं। इससे त्वचा की बाहरी परत सेंसिटिव हो जाती है।

sardiyon mei twacha ka kaise rakhein khayal
खुश्क हवाएं त्वचा को किस तरह पर प्रभावित करती है. चित्र : शटरस्टॉक

इन घरेलू टिप्स से होगी फ्लेकी स्किन की समस्या हल (Home remedies for flaky skin)

1. एलोवेरा जेल

फ्लेकी स्किन की समस्या से राहत पाने के लिए एलोवेरा जेल का प्रयोग करना फायदेमंद साबित होता है। इसमें पाए जाने वाले एक्सफोलिएटिंग गुण त्वचा को सॉफ्ट बनाए रखते हैं। विटामिन ए, बी 12 और सी से भरपूर एलोवेरा जेल कोलेजन से भरपूर होती है। इससे स्किन में डेड स्किन सेल्स की समस्या हल हो जाती है और फंगल व बैक्टीरियल संक्रमण से राहत मिल जाती है। रात को सोने से पहले पी साइज़ एलोवेरा जेल को चेहरे पर लगाएं और आवरनाइट लगा रहने दें।

2. टी ट्री ऑयल

एंटी इंफ्लामेटरी गुणों से भरपूर टी ट्री ऑयल त्वचा संबधी समस्याओं को दूर करने का आसान उपाय है। इससे स्किन पर मौजूद संक्रमण की समस्या हल हो जाती है। इसके अलावा बार बार होने वाली मुहांसों से भी मुक्ति मिलती है। त्वचा को हेल्दी बनाए रखने के लिए टी ट्री ऑयल में बराबर मात्रा में नारियल का तेल मिलाकर चेहरे पर लगाएं। इससे स्किन पर मौजूद रूखापन कम होता है और त्वचा नरिशड हो जाती है।

tea-tree-oil kaise karein istemaal
जानते हैं त्वचा को संकमणों से बचाने के लिए किस तरह से करें टी ट्री ऑयल का प्रयोग। चित्र शटरस्टॉक।

3. शहद

त्वचा को मॉइश्चराइज़ करने के लिए शहद का इस्तेमाल बेहद फायदेमंद है। इसमें मौजूद एमोलिएंट प्रॉपर्टीज स्किन में नमी को बरकरार रखती है। शहद में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंटस और एंजाइम्स स्किन को हाइड्रेट रखते हैं। साथ ही चेहरे पर दिखने वाले दाग धब्बों को भी कम करने में मदद करता है। दो बूंद शहद लेकर चेहरे पर मसाज करें और 15 से 20 मिनट के बाद चेहरे को धो दें।

4. सेब का सिरका

सर्दियों में बढ़ने वाले रूखेपन को दूर करने के लिए सेब के सिरके को चेहरे पर लगाना आवश्यक है। इससे त्वचा मुलायम और चमकदार बनी रहती है। एंटी फंगल और एंटी बैक्टीरियल गुणों से भरपूर सेब का सिरका त्वचा में मौजूद धूल मिट्ठी से राहत दिलाता है। चेहरे पर लगाने के लिए एप्पल साइडर विनेगर को डिस्टिल्ड वॉटर में बराबर मात्रा में मिलाकर कॉटन बॉल से चेहरे पर लगाएं। इससे चेहरे की त्वचा नरम हो जाती है और रूखापन कम होने लगता है।

5. ऑलिव ऑयल

त्वचा पर बढ़ने वाली रफनेस को कम करने के लिए ऑलिव ऑयल का प्रयोग करें। इसमें पाया जाने वाला हाई फेनोलिक कंटेट त्वचा का मॉइश्चराइज़ करने के अलावा स्किन सेल्स को हेल्दी बनाए रखने में मदद करता है। रात को सोने से पहले चेहरे पर ऑलिव ऑयल को लगाने से त्वचा हेलदी बनी रहती है।

ये भी पढ़ें- Petroleum Jelly : सर्दियों की एक नहीं 8 समस्याओं का समाधान है पेट्रोलियम जैली, जानिए कैसे करती है काम

  • 140
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख