30 के बाद अपनी डाइट में जरूर शामिल करें एक मुट्ठी बादाम, मेमोरी बढ़ाने के लिए इस तरह करें सेवन

बादाम को ब्रेन का बेस्ट फ्रेंड कहा जाता है। ये न केवल आपके मस्तिष्क को एजिंग से बचाता है, बल्कि डैमेज सेल्स को भी रिपेयर करता रहता है।

almond for memory
यहां जानिए क्या है मेमोरी बढ़ाने के लिए बादाम खाने का सबसे अच्छा तरीका। चित्र शटरस्टॉक।
अंजलि कुमारी Updated on: 27 October 2022, 17:47 pm IST
  • 147

आवश्यक पोषक तत्वों से भरपूर बादाम का सेवन सेहत के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद होता है। बादाम को सालों से ब्रेन बूस्टर फ़ूड के तौर पर जाना जाता है। साथ ही यदि किसी को याददाश्त से जुड़ी समस्या है तो उन्हें बादाम खाने की सलाह दी जाती है। इतना ही नहीं बच्चों के विकास के दौरान भी उन्हें बादाम खिलाया जाना फायदेमंद माना जाता है। ताकि उनका ब्रेन डेवलपमेंट अच्छी तरह हो पाए। पर क्या आप जानती हैं कि मेमोरी बढ़ाने के लिए क्या है बादाम खाने का सही तरीका (How to eat almonds for memory)? तो आइए आज हम आपको बताते हैं।

हालांकि, यह सवाल हमेशा मन मे बना रहता है कि बदाम का एक छोटा सा दाना आखिर किस तरह ब्रेन को नियंत्रित कर सकता है। तो आज आपके इसी सवाल का जवाब लेकर हम आए हैं। चलिए जानते हैं किस तरह ब्रेन हेल्थ के लिए फायदेमंद है बादाम। साथ ही जानेंगे इसे डाइट में शामिल करने का सही तरीका।

जानें बादाम में मौजूद पोषक तत्वों के बारे में

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन द्वारा बादाम को लेकर प्रकाशित एक अध्ययन में सामने आया है कि बादाम फाइबर, प्रोटीन, विटामिन ई, मैग्नीशियम और मैंगनीज का एक बेहतरीन स्रोत है। इसके साथ ही इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होती हैं। जिसका फायदा समग्र स्वास्थ्य खासतौर पर ब्रेन को मिलता है।

badam khane ka tareeka
बादाम को करें अपनी डाइट में शामिल। चित्र:शटरस्टॉक

क्या है बादाम और मेमोरी का संबंध

विटामिन ई

बादाम को सालों से ब्रेन बूस्टर फूड के तौर पर जाना जाता है। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन द्वारा की गई एक स्टडी के अनुसार यह अल्जाइमर और डिमेंशिया जैसी समस्याओं में फायदेमंद होता है। वहीं इसमें मौजूद पोषक तत्व ब्रेन हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद हो सकते हैं। बादाम में मौजूद विटामिन ई याददाश्त को लंबे समय तक बनाए रखता है।

ओमेगा 6 फैटी एसिड

उम्र के साथ होने वाली याददाश्त की समस्या में भी बादाम फायदेमंद होता है। इनमें मौजूद ओमेगा 3 और ओमेगा 6 फैटी एसिड जरूरी पोषक तत्व जैसे फोलेट और पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड, पॉलिफिनॉल्स, इत्यादि के प्रभाव को और ज्यादा बूस्ट कर देते हैं। ये सभी दिमाग को समय से पहले बूढ़ा होने से रोकते हैं। साथ ही यादाश्त को भी लंबे समय तक बनाए रखने में मदद करते हैं।

जिंक

बादाम में मौजूद जिंक इम्युनिटी बूस्ट करता है और ब्रेन सेल्स को डैमेज करने वाले वायरस और बैक्टीरिया के प्रभाव को कम कर देता। जबकि प्रोटीन ब्रेन सेल्स को रिपेयर करता है। बादाम का सबसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व विटामिन ई, ब्रेन एजिंग को धीमा कर देता हैं। जिससे उम्र के साथ होने वाले मेमोरी लॉस से बचने में मदद मिलती है।

almond api health ke liye bhi kam kar sakta hai
डाइट में बादाम शामिल करें। चित्र: शटरस्टॉक

तेज मेमोरी के लिए इन 4 तरीकों से करें बादाम को अपनी डाइट में शामिल

1. सुबह खाली पेट खाएं मुट्टी भर कच्चे बादाम

बदाम के पोषक तत्व लेने का सबसे अच्छा और आसान तरीका है इन्हें कच्चा खाना। वह भी सुबह के समय। कम से कम रोजाना 8 से 10 बादाम खाने की कोशिश करें, यह आपको संतुष्टि देगा और आपकी ब्रेन हेल्थ में भी सुधार करेगा।

2. भिगोने से बढ़ जाते हैं पोषक तत्व

जब आप बादाम को भिगोकर खाती हैं तो इसके पोषक तत्व और भी बढ़ जाते हैं। यह मल्टीविटामिंस का एक बेहतरीन स्रोत है। आपको एक बाउल में 8 से 10 बादाम को भिगोकर रात भर के लिए छोड़ देना है। अब अगली सुबह इन बादाम को पानी से निकालें और पतला वाला छिलका छीलकर खाएं।

3. स्मूदी और शेक में मिलाएं

हमारी दादी-नानी खीर और हलवे में काटकर या कूटकर बादाम डाला करती थीं। यह उनका बादाम खिलाने का सबसे आसान तरीका था। पर आप हर रोज खीर और हलवा नहीं खा सकतीं। इसलिए इन्हें स्मूदी और शेक में ब्लेंड करके पी सकती हैं। यदि आप चाहें तो इसे पाउडर बनाकर रख लें और डेजर्ट बनाने में इसका इस्तेमाल करें।

doodh, baadam jaise khadya padarth aapko achi nind dete hai
दूध, बादाम जैसे खाद्य पदार्थ आपको अच्छी नींद देते है। शटरस्‍टॉक

4. हेल्दी है बादाम का दूध

दूध और बादाम दोनों ही बढ़ते बच्चों की फिजिकल और मेंटल ग्रोथ के लिए फायदेमंद होते हैं। सिर्फ बच्चे ही नहीं, 30 के बाद जब आपकी बोन्स कमजोर होने लगती हैं, तब आपके लिए भी ये दोनों सुपरफूड बहुत जरूरी हैं। इसके लिए आप बादाम दूध का सेवन कर सकती हैं। इसे तैयार करने के लिए थोड़े से बादाम धोकर उन्हें दूध में भिगो दें। फिर इसे दूध के साथ ही ब्लेंड कर लें और इसके पोषक तत्वों को एन्जॉय करें।

यह भी पढ़ें : शाम की चाय के लिए बनाएं ये बिना मैदे की हेल्दी और कुरकुरी मठरी, रेसिपी हम बता रहे हैं

  • 147
लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

स्वस्थ जीवनशैली के लिए ज्योतिष विशेषज्ञों से जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल

सब्स्क्राइब
nextstory