नींद नहीं आ रही तो करें बियर हग, अच्छी नींद दिलाने में मददगार हैं ये 4 स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज

कभी-कभी आप बहुत थके होते हैं, इसके बावजूद बिस्तर पर लगातार करवट बदलते हुए नींद के लिए तरसते रहते हैं। अगर कभी आपको नींद के लिए संघर्ष करना पड़े, तो ये स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज जरूर करें।
stretching exercise se karein laziness dur
स्ट्रेंचिंग एक्सरसाइज आलस्य दूर करने में ज्यादा असरदार साबित होंगी।चित्र: शटरस्टॉक
संध्या सिंह Updated: 10 Nov 2023, 09:12 pm IST
  • 145

अच्छी नींद के लिए तनाव से मुक्त होना जरूरी है। कुछ लोगों को सोने से पहले गर्म पानी से नहाने तो कुछ लोगों को पढ़ने से आराम मिलता है। कुछ लोग सोने से पहले स्ट्रेचिंग करना पसंद करते है क्योंकि उन्हें इससे आराम मिलता है। मांसपेशियों को आराम देने के लिए स्ट्रेचिंग एक प्राकृतिक, प्रभावी उपाय है। स्ट्रेचिंग (Stretching for good sleep) न केवल शारीरिक स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करती है बल्कि मानसिक स्वास्थ्य को भी दुरुस्त करता है और तनाव से राहत देती है।

सोने से पहले स्ट्रेचिंग करने से तनाव कम हो सकता है और नींद की गुणवत्ता में सुधार हो सकता है। आज हम आपको कुछ स्ट्रेचिंग बताते है जिसे आप सोने से पहले कर सकते है और वो आपको आराम पहुंचाने में मदद कर सकती है।

सोने से पहले करें ये कुछ आसान स्ट्रेच

1 बीयर हग

यह स्ट्रेच आपके पीठ की ऊपरी हिस्से की रॉमबॉइड्स और ट्रेपेज़ियस मांसपेशियों के लिए काम करता है। यह कंधे के ब्लेड की परेशानी या दर्द को कम करने में मदद करता है।

ऐसे करें बीयर हग

पैरों को कंधे की चौड़ाई पर करके खड़े हो जाएं।

अपनी भुजाएं अपने सामने फैलाएं।

भुजाओं को क्रॉस करें।

अपनी बाहों को अपने चारों ओर लपेटें, अपनी छाती से सटाएं।

अपने कंधे के ब्लेड को एक साथ स्ट्रेच करें।

छाती को फैलाते हुए अपनी बाहों को चौड़ा करते हुए सांस लें।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

पहले वाली स्थिति में लौटने के लिए सांस को छोड़ें।

child-pose kaise karein
इसका अभ्यास आपकी रीढ़ की हड्डियों को देगा मजबूती। चित्र : शटरस्टॉक

2 चाइल्ड पोज

चाइल्ड पोज को संस्कृत में बालासन कहा जाता है, यह एक योग मुद्रा है जो पीठ, कंधों और कूल्हों को स्ट्रेच करने में मदद करती है।

ऐसे करें बालासन

अपने घुटनों के बल आ जाएं, अपनी एड़ियों पर फिर से बैठें।

अपने कूल्हों को आगे की ओर झुकाएं और अपने माथे को फर्श पर टिकाएं।

अपनी गर्दन को सहारा देने के लिए अपनी भुजाओं को अपने सामने फैलाएं या अपनी भुजाओं को अपने शरीर के साथ लाएं। आप अतिरिक्त सहायता के लिए अपनी जांघों या माथे के नीचे तकिया या कुशन भी रख सकते है।

इसी पोजीशन को बनाए रखते हुए गहरी सांस लें।

इस मुद्रा में 5 मिनट तक बने रहें। अगर आप इसे कम समय के लिए करना चाहते है या असुविधा है तो वापस पहले वाली स्थिति में आ जाएं।

3 लो लंज

यह लंज आपके कूल्हों, जांघों और कमर को स्ट्रेच करता है। इस मुद्रा को करते समय तनावमुक्त रहने का प्रयास करें।

ऐसे करें लो लंज

अपने दाहिने पैर को अपने दाहिने घुटने के नीचे रखते हुए और अपने बाएं पैर को पीछे की ओर फैलाते हुए, अपने घुटने को फर्श पर रखते हुए, नीचे आएं।

अपने हाथों को अपने कंधों के नीचे, अपने घुटनों पर, या फर्श पर लाएं।

अपनी रीढ़ को सीधा करने और अपनी छाती को फैलाने के लिए गहरी सांस लें।

आपकी ऊर्जा आपके सिर तक पूरी तरह फै रही हो।

पांच सांसों तक इस मुद्रा में बने रहें।

फिर विपरित दिशा में इसे दोहराएं।

kaise karein seated bend
यह मुख्य रूप से रीढ़, हैमस्ट्रिंग और पीठ के निचले हिस्से को स्ट्रेच करती है। चित्र- अडोबी स्टॉक

4 सीटेड फॉरवर्ड बेंड

सीटेड फॉरवर्ड बेंड, एक बैठने की मुद्रा है जो मुख्य रूप से रीढ़, हैमस्ट्रिंग और पीठ के निचले हिस्से को स्ट्रेच करती है।

ऐसे करें सीटेड फॉरवर्ड बेंड

अपने पैरों को सीधा करके सामने की तरफ फैला लें।

अपनी रीढ़ को सीधा करने के लिए पेट पर थोड़ा दबाव डालें।

आगे की ओर मोड़ने के लिए अपने कूल्हों पर झुकें, अपनी भुजाओं को अपने सामने फैलाएं।

अपने सिर को आराम दें और अपनी ठुड्डी को अपनी छाती से सटा लें।

कुछ समय के लिए आप इसी मुद्रा में बने रहें।

ये भी पढ़े- ठंड में चाय और कॉफी का हेल्दी विकल्प है सूप, एक्सपर्ट भी करती हैं इस बात का समर्थन

  • 145
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख