और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

आंखों को बड़ा और सुंदर दिखाने के लिए आई मेकअप यूज कर रहीं हैं, तो इन बातों का भी जरूर रखें ध्यान

Published on:19 July 2021, 15:15pm IST
आंखों को आकर्षक और सुंदर दिखाने के लिए आप कई तरह के मेकअप इस्तेमाल कर सकती हैं। पर कहीं ये आपकी आंखों के स्वास्थ्य के लिए जोखिम तो नहीं बढ़ा रहे?
मोनिका अग्रवाल
  • 96 Likes
आंखों को लेकर सतर्कता जरूरी है:चित्र शटरस्टॉक
आंखों को लेकर सतर्कता जरूरी है:चित्र शटरस्टॉक

आंखें दुनिया की सारी खूबसूरती को समेटे हुए हैं। ये खूबसूरत आंखें शरीर का सबसे संवेदनशील हिस्सा होती हैं। जब भी आंखों को और भी खूबसूरत बनाने के लिए आई मेकअप किया जाता है, तो इससे कई तरह की समस्याएं पनप सकती हैं। जिससे आंखों की रोशनी तक जा सकती है। इन समस्याओं से बचने के लिए जरूरी है कि आप न सिर्फ अपनी आंखों की स्वच्छता का ध्यान रखें, बल्कि आई मेकअप हाइजीन के बारे में भी अच्छी तरह जान लें। 

पहले आई मेकअप की ओर महिलाओं का इतना ज्यादा रुझान नहीं था, जितना अब हो गया है। आपकी इसी पसंद को देखते हुए बाजार में कई तरह के आई मेकअप प्रोडक्ट उपलब्ध हैं। लेकिन कुछ प्रोडक्ट ऐसे भी हैं, जिनका मिसयूज़ करना भारी पड़ सकता है। जानिए कि आप आंखों की सुंदरता को बढ़ाने के कैसे करें आई मेकअप ताकि आँखों की खूबसूरती भी बरकरार रहे और नुकसान भी न हो।

क्या कहते हैं विशेषज्ञ 

कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल, कंसलटेंट, ऑप्थाल्मोलॉजी, डॉ अनंत वीर जैन के अनुसार आप क्या इस्तेमाल कर रही हैं और कितनी मात्रा में इस्तेमाल कर रही हैं। इस बात की जानकारी आपको होनी चाहिए। बहुत से आई प्रोडक्ट ऐसे होते हैं, जिनमें हानिकारक तत्व होते हैं। ये तत्व आपकी आंखो के लिए काफी मुश्किलें खड़ी कर सकते हैं।

जिस वजह से आपको अंधापन भी हो सकता है। आप इस बात का ख्याल रखें कि जो आप प्रोडक्ट खरीद रही हैं उसमें क्या है। आप प्रोडक्ट के एडिटिव्स की जांच करें और इस बात को सुनिश्चित करें कि प्रोडक्ट आंखों के लिए सेफ है भी या नहीं।

जानिए आंखों का मेकअप और उससे जुड़े कुछ जोखिम 

असुरक्षित ब्रांड 

आज कल आई मेकअप के लिए काफी सारे विकल्प बाजार में उपलब्ध हैं। आप जब भी इसके लिए प्रोडक्ट का चयन करें, तो आप जलन से बचने के लिए हाइपोएलर्जेनिक ब्रांड्स का चयन करें। खासकर तब जब आपकी स्किन सेंसटिव हो।

यह भी पढ़ें-झुर्रियों से परेशान हैं? इस ब्लैकबेरी और दही के फेस पैक से पाएं इनसे छुटकारा

पुराना सामान 

अगर आप भी उन महिलाओं में से हैं, जो लम्बे समय तक अपना मेकअप सम्भालकर रखती हैं, तो आपको बता दें कि इससे बैक्टीरिया और फंगस होने की संभावना बढ़ जाती है। समान्य तौर पर आई मेकअप प्रोडक्ट को तीन से चार महीने से ज्यादा नहीं रखना चाहिए। अगर किसी वजह से प्रोडक्ट रखना भी पड़े, तो उसे अच्छे से सील करके रखें।

आंखों को लेकर सतर्कता जरूरी है:चित्र शटरस्टॉक
आंखों को लेकर सतर्कता जरूरी है:चित्र शटरस्टॉक

अपनी आंखों को किसी भी तरह के नुकसान से बचाने के लिए इन बातों का जरूर रखें ध्यान 

आई मेकअप प्रेमी महिलाओं के लिए आई मेकअप से जुड़ी सारी नसीहतों को मानना चाहिए। क्योंकि ये नसीहत किसी और के नहीं, बल्कि उन्ही के लिए फायदेमंद होगी।

टेम्परेचर का रखें ध्यान 

अगर आप ब्यूटी प्रोडक्ट को गर्म तापमान में रखती हैं। तो वो समय से पहले खराब होने लगते हैं। और उसमें बैक्टीरिया पनपने लगते हैं। आप मेकअप को कम से कम 85 डिग्री से कम तापमान वाली सूखी जगह पर रखने की कोशिश करें।

सफाई का रखें ख्याल

आपके हांथों के जरिये बैक्टीरिया आपकी आंखों तक आसानी से पहुंच सकता है। आप मेकअप लगाने से पहले अपने हाथों को अच्छे से धो लें। आप हाथों की जगह ब्रश का इस्तेमाल करें

यह भी पढ़ें-मन के हारे हार है, मन के जीते जीत, जानिए कैसे संभव है असफल होने के बाद भी निराशा से बचे रहना

शेयरिंग बढ़ा न दे परेशानी

एक हाथ से दूसरे हाथ, फिर दूसरे से तीसरे हाथ मेकअप जाने का मतलब है संक्रमण का फैलना। इससे प्रोडक्ट जल्दी खराब हो सकता है। आप मेकअप को शेयर न करें। खासकर तब जब बात आई मेकअप प्रोडक्ट की हो।

आंखों के अंदर न करें मेकअप

काफी महिलाएं हैं, जो अपनी पलकों के अंदर आईलाइनर को लगाना पसंद करती हैं। अगर आप भी उन महिलाओं में से एक हैं तो आप अपनी इस आदत को तुरंत बदल लें। क्योंकि ऐसा करने से संक्रमण सीधा आंखों के अंदर प्रवेश करता है। आप कोशिश करें कि आईलाइनर और काजल आंखों के उपरी हिस्सों में ही लगाएं।

आंखों को लेकर सतर्कता जरूरी है:चित्र शटरस्टॉक
आंखों को लेकर सतर्कता जरूरी है:चित्र शटरस्टॉक

रंगों से दूरी अच्छी

आज कल कलरफुल पलकों और आईब्रो का फैशन है। लेकिन ये रंग आंखों के लिए बेहद खराब होते हैं। इससे अंधेपन का खतरा काफी हद तक बढ़ जाता है। आपको बता दें कि कोलतार कलर्स वाले आईलैश और आईब्रो डाई सबसे ज्यादा खतरनाक होते हैं। इसलिए इन्हें यूज करने से पहले इनके लेबल को अच्छी तरह पढ़ लें। 

रात को सोने से पहले हटा दें मेकअप 

आप सोने से पहले आंखों के मेकअप को हटा दें। आंखों का मेकअप सोते समय आयल की ग्रन्थियां बंद कर सकता है और संक्रमण फैलने का खतरा भी बढ़ जाता है। इसलिए सोते समय आंखों को अच्छे से साफ करने की नसीहत दी जाती है। 

आपने काजल लगाया है, तो उसे जरुर साफ कर लें। इसके लिए आप जेल बेस रिमूवर का इस्तेमाल कर सकती हैं। आंख साफ करते समय इस बात का ख्याल रखें कि रिमूवर आंखों के अंदर न जाने पाए।

तो लेडीज, आई मेकअप करना बुरा नहीं है। बस जरूरी है कि आप आंखों को सुंदर बनाने के साथ-साथ उनकी सेफ्टी का भी ध्यान रखें। अगर मेकअप के बाद किसी भी तरह के असुविधा, रैशेस या जलनी होती है, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

मोनिका अग्रवाल मोनिका अग्रवाल

स्वतंत्र लेखिका-पत्रकार मोनिका अग्रवाल ब्यूटी, फिटनेस और स्वास्थ्य संबंधी विषयों पर लगातार काम कर रहीं हैं। अपने खाली समय में बैडमिंटन खेलना और साहित्य पढ़ना पसंद करती हैं।