वैलनेस
स्टोर

क्या आपको बालों की समस्याओं के लिए मिनोक्सिडिल का उपयोग करना चाहिए? जानिए क्या कहते हैं त्वचा विशेषज्ञ

Published on:11 June 2021, 20:30pm IST
बालों के झड़ने और डेमेज हेयर के इलाज के लिए अक्सर मिनोक्सिडिल की सिफारिश की जाती है और इसलिए हमने एक विशेषज्ञ से पूछा कि इसका उपयोग करना कितना सुरक्षित है।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 92 Likes
बालों की समस्याओं के लिए मिनोक्सिडिल का उपयोग करना चाहिए?। चित्र : शटरस्टॉक

जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, बालों का झड़ना सबसे बड़ी समस्या होती है। आपके कंधे से लेकर बाथरूम के ड्रेन तक, आपको अपने चारों तरफ बाल ही बाल देखने को मिल सकते हैं। इस समस्या को ठीक करने के लिए विभिन्न तरीकों का इस्तेमाल करती हैं, चाहे वो बालों की मालिश, स्पा या केराटिन से इलाज हो। पर, अगर बालों में कुछ भी काम नहीं करता है, तो हम एक त्वचा विशेषज्ञ के पास जाते हैं, जो शायद आपको मिनोक्सिडिल का उपयोग करने की सलाह देगा।

इसलिए, इससे पहले कि आप इस प्रोडक्ट को आजमाएं, हम त्वचा विशेषज्ञ की सलाह से इसकी जानकारी आपको देते हैं।

मिनोक्सिडिल क्या है?

एक प्रसिद्ध त्वचा विशेषज्ञ और सौंदर्य चिकित्सक डॉ अजय राणा के अनुसार, मिनोक्सिडिल वैसोडिलेटर्स के रूप में जानी जाने वाली दवाओं का एक वर्ग है। मिनोक्सिडिल को एक प्रिस्क्रिप्शन दवा के रूप में माना जाता है, जो केवल एक सामान्य रूप में उपलब्ध है। ये एक गोली के रूप में आता है, इसे संयोजन चिकित्सा के रूप में भी लिया जा सकता है। बालों के झड़ने, उच्च रक्तचाप, या मिनोक्सिडिल के दुष्प्रभावों को कम करने के लिए इसका उपयोग अन्य दवाओं के साथ किया जा सकता है।

बालों का गिरना बहुत बड़ी समस्या है। चित्र : शटरस्टॉक

मिनोक्सिडिल का उपयोग क्यों?

”डॉ राणा के अनुसार “मिनोक्सिडिल, चाहे घोल के रूप में हो या फोम के रूप में, पुरुष पैटर्न गंजापन के उपचार में बालों के विकास में मदद करने के लिए उपयोग किया जाता है। लेकिन ये सिर के सामने के गंजेपन या पुरुषों में घटती हेयरलाइन के लिए नहीं है। झाग और कुछ प्रतिशत मिनोक्सिडिल घोल का उपयोग पतले बालों वाली महिलाओं में बालों के विकास को बढ़ावा देने में मदद के लिए भी किया जाता है।

टॉपिकल मिनोक्सिडिल का उपयोग एंड्रोजेनेटिक एलोपेसिया (एजीए) के उपचार के लिए किया जाता है। इस दवा का उपयोग बालों के कई विकारों जैसे एलोपेसिया एरीटा (एए), स्कारिंग एलोपेसिया और बालों के शाफ्ट विकारों के साथ-साथ भौहें और दाढ़ी सहित शरीर के विभिन्न हिस्सों में बालों के विकास को बढ़ावा देने के लिए किया जाता है।

मिनोक्सिडिल का उपयोग करने का सही तरीका

मिनोक्सिडिल का उपयोग करने से पहले, अपने त्वचा विशेषज्ञ से सलाह लें। सबसे पहले, दवा लगाने से पहले स्कैप्ल को साफ और सूखा रखना हमेशा आवश्यक होता है और इस प्रोडस्ट को लगाने से बालों में नमी रहती है।
उपयोग करने के लिए, ऐप्लिकेटर को दवा की 15-20 बूंदों से भरें। अपने बालों को पतले हिस्से में बांट लें और घोल को स्कैल्प के प्रभावित हिस्से पर समान रूप से लगाएं और धीरे से रगड़ें। इसके बाद बिस्तर पर जाने से पहले घोल को पूरी तरह सूखने दें।

मिनोक्सिडिल को झाग के रूप में इस्तेमाल करने के लिए ठंडे पानी से हाथ धोकर अच्छी तरह सुखा लें। इसके बाद करीब आधा कप झाग स्कैल्प पर लगाएं और हल्के हाथों से मलें। फिर इसे कुछ मिनट के लिए ऐसे ही रख दें। फोम को स्टाइल करने से पहले सूखने दें। त्वचा विशेषज्ञ के मार्गदर्शन के बिना शरीर के अन्य हिस्सों पर इसका इस्तेमाल न करें। लाल, दर्दनाक, खुजली,, खुरदरी, कटी हुई या संक्रमित त्वचा पर इसका प्रयोग न करें।

बालों का रूखापन, बेजान होना और उनका बेवजह यूं ही लगातार टूटने जैसी इन समस्याओं से निजात पाने के लिए इस हेयर मास्क को अपनी ब्यूटी रूटीन में शामिल करें।
चित्र-शटरस्टॉक.

बड़ा सवाल: क्या मिनोक्सिडिल का इस्तेमाल सुरक्षित है?

इसे 18 साल से ऊपर के लोगों के लिए सुरक्षित माना जाता है। डॉ. राणा कहते हैं कि “बालों की समस्याओं से निपटने के लिए ये सबसे अच्छा साधन माना जाता है। ये शरीर में कुछ छोटी रक्त वाहिकाओं को आराम देता है और बड़ा करता है। ताकि रक्त उनके माध्यम से अधिक आसानी से बह सके। ये रक्तचाप को कम करने में मदद करता है। इस घटक को शैंपू के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है, जो बालों के रोम में ऑक्सीजन और रक्त के प्रवाह को उत्तेजित कर सकता है।

ये पोषक तत्वों को सीधे बालों के रोम तक पहुंचाने में भी मदद करता है। ये बालों के झड़ने को धीमा करता है, बालों के रोम को फिर से बाल पैदा करने के लिए प्रेरित करता है, बालों के विकास चक्र के एनाजेन चरण को लंबा करता है, छोटी रक्त वाहिकाओं में रक्त परिसंचरण को पुनर्जीवित करता है और घने बाल पैदा करने में मदद करता है।

क्‍या इसका कोई साइड इफेक्ट भी है?

इसके साइड इफेक्ट्स से मतली, उल्टी, चेहरे और शरीर के बालों में बदलाव आता है। इससे चेहरे और ऊपरी शरीर पर बाल काले और घने होते हो सकते हैं। इसके अतिरिक्त, इस्तेमाल होनी वाली जगह पर लालिमा, तेज और अनियमित दिल की धड़कन, बेहोशी, जलन, सीने में दर्द, हाथों और पैरों में सूजन, असामान्य वजन बढ़ना, थकान, सांस लेने में कठिनाई ये सब मिनोक्सिडिल के दुष्प्रभाव हैं। .

हालांकि चिंता की कोई बात नहीं है, जैसा कि डॉ. राणा बताते हैं कि, “ये दुष्प्रभाव बहुत हल्के होते हैं, ये कुछ दिनों या कुछ हफ्तों में गायब हो सकते हैं। यदि वे अधिक गंभीर हैं तो अपने त्वचा विशेषज्ञ से परामर्श लें।”

नोट-इस्तेमाल के बाद हाथों को अच्छी तरह धोना याद रखें और दवा को अपनी आंखों में जाने से बचाएं।

इसे भी पढ़े :इन 5 वजह से हर रोज और ज्‍यादा कम होते जा रहे हैं आपके बाल, जानिए इन्‍हें कैसे बचाना है

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।