वैलनेस
स्टोर

त्वचा पर लाल दानों से परेशान हैं, तो ये 6 टिप्स इस समस्या से निपटने में करेंगे आपकी मदद

Published on:16 February 2021, 10:30am IST
आपकी त्वचा पर मौजूद लाल दाने एक संकेत हैं कि आप अपनी त्वचा की देखभाल नहीं कर रही हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 81 Likes
त्वचा पर लाल दानों से निपटने में मदद करेंगी ये स्किनकेयर टिप्स। चित्र-शटरस्टॉक।

आपकी त्वचा का प्रकार क्या है? यह बहुत मायने रखता है, क्योंकि त्वचा की विभिन्न समस्याएं हैं जो सूखी, तैलीय या संवेदनशील त्वचा के कारण हो सकती हैं। लेकिन त्वचा की एक सामान्य समस्या है जो त्वचा के सभी प्रकारों में हो सकती है: लाल दाने (Red bumps)। ये दाने हानिरहित हैं, लेकिन कभी-कभी इनसे त्वचा पर खुजली महसूस हो सकता है। हालांकि, इससे निपटने के कई प्राकृतिक तरीके हैं।

लेकिन पहले, आइए देखें कि ये लाल दाने इस क्यों होते हैं।

बाहों पर लाल दाने होना, त्वचा की एक बहुत ही आम स्थिति है। जब तक वे धीरे-धीरे बदलते नहीं हैं या टाइम के साथ-साथ बढ़ते हैं, तब तक ये दाने आमतौर पर हानिरहित होते हैं। भुजाओं पर अधिकांश धब्बे त्वचा की स्थिति के कारण होते हैं जिन्हें केराटोसिस पिलारिस कहा जाता है।

इस स्थिति में छोटे लाल या भूरे रंग के दानों की समस्या होती है, जो ऊपरी बांहों के पीछे विकसित होते हैं। मुंहासे की तरह, इन लाल दानों का विकास तब होता है जब मृत त्वचा कोशिकाएं त्वचा के रोमछिद्रों में फंस जाती हैं।

सेलिब्रिटी त्वचा विशेषज्ञ और निवेदिता दादू त्वचा विज्ञान क्लिनिक की संस्थापक डॉ. निवेदिता दादू बताती हैं। “कुछ दानों के सिरे फुंसी जैसे हो सकते हैं। केराटोसिस पिलारिस में कई छोटे दाने होते हैं, जो अक्सर समूह (batches) में होते हैं। 

वे खुजली नहीं करते हैं, लेकिन वे अलग-अलग रंगों के हो सकते हैं। मांस के रंग जैसे लाल, गुलाबी, या भूरे रंग के दाने। केराटोसिस पिलारिस पूरी तरह से हानिरहित है और संक्रामक नहीं है। यह स्थिति परिवारों में चलती है, और एक्जिमा या एटोपिक डर्मेटाइटिस से पीड़ित लोगों को बाजुओं पर इन लाल दाने के विकसित होने का अधिक खतरा होता है।”

सौभाग्य से, इन लाल दानों से निपटने के लिए प्राकृतिक तरीके मौजूद हैं

  1. एक्सफोलिएशन

त्वचा को एक्सफ़ोलिएट करना, उन कारणों को कम करने में मदद कर सकता है, जो हाथों में दानों की उपस्थिति का कारण बनते हैं। यह प्रक्रिया मृत त्वचा कोशिकाओं को त्वचा की ऊपरी परत से हटाने में मदद करती है ताकि वे छिद्रों में न फंसें। धीरे-धीरे एक्सफोलिएट करने के लिए एक लूफाह या वाशक्लॉथ का उपयोग करें।

एक्सफोलिएशन के दौरान अतिरिक्त सावधानी बरतें और स्क्रब न करने की कोशिश करें। क्योंकि यह जलन और संभवतः अधिक दानों का कारण बन सकता है।

एक्सफोलिएशन के बाद आपको अपनी त्वचा की अधिक देखभाल करने की जरूरत है। चित्र-शटरस्टॉक।
  1. आहार में  ओमेगा-3 फैटी एसिड शामिल करना 

हमारी त्वचा, बालों और नाखूनों को स्वस्थ रखने के लिए मछली के तेल के बहुत फायदे हैं। ठंडे पानी की मछली का उपयोग, डिस्टिल्ड फिश ऑयल (distilled fish oil) सप्लीमेंट्स बनाने के लिए किया जाता है। ऑर्गेनिक चिया सीड्स, हेम्प सीड्स और फ्लैक्स सीड्स त्वचा की कोशिकाओं को पोषण देने और उनकी सुरक्षा करने के लिए, अपने आहार में अधिक ओमेगा -3 फैटी एसिड जोड़ने के लिए आसान विकल्प हैं।

  1. हाइड्रेटिंग लोशन का उपयोग करना

लैक्टिक एसिड की तरह अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड (AHA) के साथ लोशन, सूखी त्वचा को हाइड्रेट कर सकता है और सेल टर्नओवर को प्रोत्साहित कर सकता है। ग्लिसरीन भी इन दानों को नरम कर सकता है। जबकि गुलाब जल त्वचा की सूजन को शांत कर सकता है।

  1. ड्राई ब्रशिंग ट्राय करें

ड्राई ब्रशिंग से रोम छिद्रों को बंद करने और त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाने में मदद मिलती है। एक प्राकृतिक ब्रश का उपयोग करें और इससे शरीर के प्रत्येक क्षेत्र को ब्रश करते हुए लंबे स्वीपिंग गतियों में स्थानांतरित करें। त्वचा को गीला करने से पहले इसे सुनिश्चित करें। इसे बहुत धीरे से करें ताकि यह त्वचा पर जलन न करे और सूजन पैदा न करे।

जब आप ड्राई ब्रशिंग कर लें, तो हमेशा की तरह शॉवर लें और अपनी त्वचा को सूखा रखें। प्रभावित क्षेत्रों और शरीर के बाकी हिस्सों पर एक प्राकृतिक तेल, जैसे नारियल का तेल अप्लाई करें।

ड्राई ब्रशिंग आपकी स्किन के लिए फायदेमंद है। चित्र: शटरस्‍टॉक
ड्राई ब्रशिंग आपकी स्किन के लिए फायदेमंद है। चित्र: शटरस्‍टॉक
  1. रोजाना मॉइश्चराइज करें

बाजुओं पर लाल दानों की उपस्थिति को कम करने के लिए हर दिन प्राकृतिक, नॉन-इर्रिटेटिंग उत्पादों के साथ त्वचा को मॉइस्चराइज करना बहुत महत्वपूर्ण है। प्रभावित क्षेत्रों में एवोकाडो जैसा एक प्राकृतिक मॉइस्चराइज़र अप्लाई करने से सूजन को कम करने और हाइड्रेशन को फिर से भरने में मदद करता है। जिससे त्वचा खुरदरी और परतदार होने के बजाय नर्मी महसूस होगी।

यह भी पढ़ें: सेहत ही नहीं, आपकी स्किन के लिए भी फायदेमंद है ब्राउन शुगर, यहां हैं ब्राउन शुगर स्‍क्रब और उसके फायदे

डॉ. दादू कहती हैं, “इसके अलावा एवोकाडो में विटामिन-ए होता है, जो एक अन्य केराटोसिस पिलारिस उपचार के रूप में कार्य करता है। यह लालिमा को कम करने और त्वचा की कोशिकाओं का समर्थन करने में मदद कर सकता है।”

  1. ह्यूमिडिफ़ायर का उपयोग करें

ह्यूमिडिफ़ायर एक कमरे की हवा में नमी जोड़ते हैं, जो त्वचा में नमी को बनाए रख सकते हैं और खुजली को भड़कने से रोक सकते हैं।

लेकिन क्या इन लाल दानों से बचा जा सकता है?

आपके प्रश्न का उत्तर निश्चित ही हां है। यहां हम बता रहे हैं कि आप ऐसा कैसे कर सकते हैं:

  1. हॉट शॉवर लेने से बचें

शुष्क त्वचा केराटोसिस पिलारिस को बदतर बना देती है। कुछ मामलों में, ये लाल दाने केवल सर्दियों के मौसम में ज्‍यादा होते हैं। हमेशा लंबे समय तक गर्म पानी से स्नान करने से बचें, जो त्वचा से नमी चूस सकते हैं, ऐसे में एक मॉइश्‍चराइजर का प्रयोग जरूर करना चाहिए।

  1. शॉवर के बाद गीली त्वचा पर प्राकृतिक बॉडी ऑयल का उपयोग करें

आपकी त्वचा में नमी में बनाए रखने के लिए बॉडी ऑयल का उपयोग करना बेहतर होता है। इसमें कुछ ऐसी सामग्री होती है, जो त्वचा की जलन से निपटने के लिए बेहद फायदेमंद होती है।

  1. अपने आहार का ध्‍यान रखना

एक संपूर्ण-खाद्य-आधारित, एंटीऑक्सिडेंट युक्त आहार जैसे कि मेडिटेरनियन आहार को अपनाने से सूजन को कम करने में मदद मिलती है। विटामिन-ए और डी का सेवन बढ़ाएं, क्योंकि यह स्वस्थ त्वचा की कोशिकाओं के उत्पादन को प्रोत्साहित करता है।

त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन और मिनरल बहुत जरूरी हैं। चित्र-शटरस्टॉक।
  1. तंग कपड़ों से बचें

टाइट कपड़े पहनने से घर्षण हो सकता है जो त्वचा को परेशान कर सकता है। डा. दादू चेतावनी देती हैं कि जब भी इन लाल दानों की स्थिति बिगड़ती है या इनके आकार में परिवर्तन होता है, तो हमेशा एक त्वचा विशेषज्ञ से परमर्श करें।

तो लेडीज, आपकी त्वचा को थोड़ा प्यार और देखभाल की आवश्यकता है। बस इसका ध्‍यान रखें।

यह भी पढ़ें: हेल्‍दी और ग्‍लोइंग स्किन के लिए इस वेलेंटाइन्‍स वीक अपने आहार में शामिल करें ये 9 जरूरी चीजें

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।