और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

सर्दी खांसी हो गयी है? तो आजमाएं यूकेलिप्टस ऑयल, हम बताते हैं इसके 5 फायदे

Updated on: 10 December 2020, 12:07pm IST
यूकेलिप्टस का पेड़ अपने चिकित्सकीय फायदों के लिए दुनिया भर में इस्तेमाल हो रहा है। हम बताते हैं इसके एसेंशियल ऑयल के फायदे।
विदुषी शुक्‍ला
  • 78 Likes
जानिए यूकेलिप्‍टस एसेंशियल ऑयल के सेहत लाभ। चित्र- शटरस्टाॅक

यूकेलिप्टस मूलतः ऑस्ट्रेलिया का पौधा है जिसे आज दुनिया भर में उगाया जाता है। इस पेड़ की लोकप्रियता का कारण है इसके चिकित्सकीय लाभ! दरसल यूकेलिप्टस के औषधीय गुण उसकी गोल पत्तियों में होते हैं, जिनसे यूकेलिप्टस ऑयल निकाला जाता है। यूकेलिप्टस की पत्तियों को सुखा कर डिस्टिल किया जाता है जिससे इसका एसेंशियल ऑयल प्राप्त होता है।

यूकेलिप्टस ऑयल में एंटी बैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी होती हैं। यही कारण है कि इसका औषधि के रूप में उपयोग किया जाता है।

आइये जानते हैं यूकेलिप्टस एसेंशियल ऑयल के फायदे

1. खांसी में राहत देता है यूकेलिप्टस ऑयल

यूकेलिप्टस ऑयल आज से ही नहीं, सैंकड़ो सालों से खांसी के इलाज के लिए प्रयोग होता आया है। आज के समय में बहुत सी दवाइयों में यूकेलिप्टस ऑयल का प्रयोग होता है। क्या आप जानती हैं, विक्स वेपोरब में भी 1.2 प्रतिशत यूकेलिप्टस ऑयल होता है।
इतना ही नहीं, यूकेलिप्टस ऑयल सीने की जकड़न को भी खत्म करता है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसके वेपर हमारी मांसपेशियों को रिलैक्स करते हैं। यही कारण है कि यूकेलिप्टस ऑयल को सीने पर लगाने से खांसी और बलगम में राहत मिलती है।

2. मच्छरों को दूर रखता है यूकेलिप्टस एसेंशियल ऑयल

क्या आप जानती हैं यूकेलिप्टस एसेंशियल ऑयल मच्छरों को दूर रखता है। और इसमें मच्छर भगाने वाले स्प्रे की तरह खतरनाक केमिकल भी नहीं होते। मच्छर ही नहीं, फ्रूट फ्लाई भगाने के लिए भी कारगर है।

मच्छर भगाने के लिए यूकेलिप्टस ऑयल। चित्र: शटरस्‍टॉक

मच्छर भगाने के लिए आप यूकेलिप्टस ऑयल युक्त एरोमेटिक मोमबत्ती जला सकती हैं।

3. सांस संबंधी समस्याओं को दूर करता है

पबमेड सेंट्रल में प्रकाशित 2018 की स्टडी में पाया गया है कि यूकेलिप्टस ऑयल रेस्पिरेट्री सिस्टम से जुड़े सभी विकारों का कारगर इलाज है। अस्थमा और साइनस जैसी बीमारियों में भी यूकेलिप्टस ऑयल राहत देता है।
असल में यूकेलिप्टस का तेल म्यूकस को कम करता है, मांसपेशियों की जकड़न खत्म करता है और राहत देता है।

4. हर्पीस के लक्षणों को कम करता है यूकेलिप्टस ऑयल

यूकेलिप्टस ऑयल में एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी होती हैं जिसके कारण यह हर्पीस के लक्षणों को शांत करता है। छालों और दानों पर आप इसे किसी भी तेल या क्रीम में मिलाकर लगाएं। यह सूजन, खुजली और लालामी कर करने में सहायक है।

5. जोड़ों के दर्द में आराम देता है

कई रिसर्च में पाया गया है कि यूकेलिप्टस की एंटी इंफ्लेमेटरी गुणों के कारण यह गठिया के दर्द में आराम दे सकता है। इतना ही नहीं, ऑस्टियोआर्थराइटिस और रूमेटोइड जैसी हड्डियों के दर्द की दवाओं में भी यूकेलिप्टस ऑयल का प्रयोग होता है।

तो लेडीज, इस सर्दी के मौसम, सर्दी जुखाम और जोड़ो के दर्द से राहत के लिए इस्तेमाल करें यूकेलिप्टस का तेल।

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।