Face cleaning : रात को सोने से पहले चेहरा साफ करना है हेल्दी आदत, सही फेस क्लीनिंग के लिए इन 5 स्टेप्स को करें फॉलो

प्रदूषण और दिन भर की भागदौड़ के बावजूद आपका चेहरा शायनी बना रहता है, तो इसका मतलब है कि चेहरे की सफाई अच्छी तरह हुई है। यदि आप भी अपने चेहरे को क्लीन और शायनी बनाना चाहती हैं, तो साफ़ करने का तरीका जानें स्टेप बाय स्टेप।
face-cleansers
चेहरे की अच्छी सफाई के लिए कुछ स्टेप्स फ़ॉलो करने पड़ते हैं। इससे चेहरे को जरूरी पोषण मिलता है। चित्र: अडोबी स्टॉक
स्मिता सिंह Published: 8 Sep 2023, 21:00 pm IST
  • 125

चेहरे को साफ़ करने का मतलब सिर्फ चेहरे पर कुछ ब्यूटी प्रोडक्ट्स को छिड़कना और फिर उसे चुटकियों में धो लेना भर नहीं है। चेहरे की अच्छी सफाई के लिए कुछ स्टेप्स फ़ॉलो करने पड़ते हैं। इससे चेहरे को जरूरी पोषण मिलता है। यदि किसी प्रकार की स्किन समस्या है, तो वह दूर हो सकती है। यदि सही तरीके और नियमित रूप से चेहरे को साफ़ किया जाए, तो किसी की भी स्किन चमकदार और दाग धब्बे रहित हो सकती है। सबसे पहले जानें कि क्यों जरूरी है चेहरे को क्लीन करना।

क्यों जरूरी है चेहरे को क्लीन करना (how to clean face)

फेस क्लीन-अप के माध्यम से स्किन की देखभाल की जाती है। यह चेहरे से गंदगी और मृत त्वचा कोशिकाओं (dead skin cells) को हटा दिया जाता है। हर दिन चेहरा साफ करने से बैक्टीरिया दूर रहते हैं। इससे स्किन पोर्स बंद नहीं होते हैं। इससे स्किन चमकदार और ताज़ा दिखती है। कुछ स्टेप्स का हर दिन पालन करन जरूरी है, वहीं अन्य को स्किन बैरियर को नुकसान से बचाने के लिए 7-15 दिनों में केवल एक बार करना चाहिए।

फेस को साफ़ करने के यहां हैं 5 स्टेप्स

अच्छी स्किन केयर के लिए चेहरे की सफाई जरूरी है। इसके लिए क्लींजर, टोनर, मॉइस्चराइज़र की जरूरत पड़ती है। पूरी प्रक्रिया में लगभग 10 मिनट समय लग सकता है।

स्टेप 1 : मेकअप हटायें (Remove makeup)

अपनी स्किन के प्रकार के अनुरूप क्लीन्ज़र का उपयोग करें। इससे फेस पर मौजूद सभी मेकअप अवशेषों को हटा दें। अगर स्किन ऑइली है, तो वाटर आधारित क्लींजर चुन सकती हैं। चेहरे पर फोमिंग क्लींजर, हार्ड सोप और केमिकल से बचें। यदि एक्ने-पिम्पल हैं, तो प्रभावित क्षेत्र पर धीरे से सफाई करें। अल्कोहल-मुक्त वाइप्स का उपयोग कर सकती हैं। अल्कोहल से ड्राईनेस और जलन बढ़ सकती है।

स्टेप 2 : चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें (lukewarm water for face wash)

चेहरे से क्लींजर को हटाने के लिए गुनगुने पानी का प्रयोग करें। गर्म पानी से बचें, क्योंकि यह त्वचा से जरूरी तेल भी निकाल सकता है। यदि त्वचा संवेदनशील है, तो गर्म पानी से चेहरे पर रेडनेस और जलन हो सकती है। माइसेलर पानी का भी चुनाव किया जा सकता है।

स्टेप 3: चेहरे को थपथपाकर सुखाएं (pat your face dry)

चेहरे को थपथपा कर सुखाने के लिए साफ और मुलायम तौलिये का उपयोग करें। उस मुलायम और साफ कपड़े का उपयोग सिर्फ अपने चेहरे के लिए करें। खुरदरे बनावट वाले कपड़े का उपयोग करने और चेहरे को रगड़ने से बचें। इससे स्किन को नुकसान पहुंच सकता है।

facial yoga steps
चेहरे को थपथपा कर सुखायें । चित्र : अडोबी स्टॉक

स्टेप 4 : टोनर का प्रयोग करें (salicylic toner)

रुई के एक टुकड़े पर थोड़ा सा टोनर लगाएं। हल्के हाथों से चेहरा पोंछ लें। टोनर त्वचा पर मौजूद किसी भी गंदगी को हटाने में मदद करते हैं। इससे त्वचा को आराम मिलता है। इससे पीएच संतुलन को बनाए रखने में मदद मिलती है। यदि स्किन पिम्पल और एक्ने प्रोन है, तो सैलिसिलिक एसिड वाले टोनर का उपयोग करें

स्टेप 5: मॉइस्चराइज़ करें

सफाई के बाद त्वचा को हल्के मॉइस्चराइज़र से हाइड्रेट करना जरूरी है। ऐसे मॉइस्चराइज़र का उपयोग करें, जो स्किन के प्रकार के अनुरूप हो। इसे चेहरे और गर्दन पर गोलाकार गति में लगाएं। इससे स्किन हाइड्रेटेड रहेगी

skin glowing cream ke fayde kai hain
ऐसे मॉइस्चराइज़र का उपयोग करें, जो स्किन के प्रकार के अनुरूप हो।

अंत में

चेहरे को साफ़ करने के लिए घर पर मौजूद प्राकृतिक सफाई सामग्री का भी प्रयोग किया जाता है। दूध से स्किन की सफाई सदियों से होती आई है। दूध स्किन के अवरोधक कार्यों को बेहतर बनाने में भी प्रभावी है। खीरा, दही और शहद भी स्किन को साफ़ करने का प्रभावी तरीका है। खीरा कूलिंग एजेंट है और दाग-धब्बों को हटाने में भी मदद करता है। खीरा और शहद दोनों त्वचा में नमी की मात्रा को बेहतर बनाता है। यह स्किन के पीएच स्तर को भी नियंत्रित करता है। इसके मॉइस्चराइजिंग गुण स्किन को तरोताजा महसूस कराते हैं।

यह भी पढ़ें :- रेडिएंट स्किन चाहिए तो इन 4 तरीकों से त्वचा पर लगाएं रेड वाइन, बिना पिए आएगा निखार

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

  • 125
लेखक के बारे में

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है। ...और पढ़ें

अगला लेख