जिम में लेग डे के बाद है पैरों में दर्द तो जानिए इससे कैसे आराम पाना है

जिम में जिस दिन लेग डे होता है उस दिन पैरों में दर्द होना लाजमी है। ये दर्द मसल्स सोरनेस के कारण होता है। यहां हम कुछ ऐसे टिप्स बता रहे हैं, जो आपको दर्द से राहत दे सकते हैं।
Bag ke saath kare deadlift
लेग डे के बाद के दर्द से बचने का उपाय सबसे पहले है कि आप हाइड्रेटेड रहें। चित्र: शटरस्टॉक
संध्या सिंह Published: 27 Nov 2023, 02:00 pm IST
  • 145
इनपुट फ्राॅम

जिम में लेग डे पर पैरों की एक्सरसाइज करने के बाद आपके पैर शायद ही चलने की हालत में बचते है। लैग डे के बाद आपके सीढ़ियां उतरना चढ़ना भी मुश्किल हो जाता है। अगर आपका जिम में पहला दिन है लैग का तो ये और ज्यादा दर्द भरा हो सकता है। जिम में हाई इंटेंसिटी वाली एक्सरसाइज करने से आपके मांसपेशियों में चोटें आती है जिसके कारण उसमें सोरनेस आती है। इसे आप कुछ उपायों से घर पर ठीक कर सकते है।

लेग डे वाले दिन आमतौर पर स्क्वैट्स, डेडलिफ्ट्स, सीटेड लेग प्रेस और हिप थ्रस्ट जैसी कुछ एक्सरसाइज की जाती है।

इनमें से स्क्वैट्स सबसे लोकप्रिय पैरों के व्यायामों में से एक है। यह लोकप्रिय है क्योंकि यह पैरों, पीठ के निचले हिस्से और कोर की मांसपेशियों को लक्षित करता है इसलिए स्क्वैट्स आसानी से मांसपेशियों में दर्द पैदा कर सकता है। यदि आपके लेग डे में स्क्वैट्स शामिल हैं और इसके साथ और भी एक्सरसाइज है जो पैरों में दर्द का कारण बन रही है तो चलिए जानते है उसे कैसे ठीक करना है।

leg day ke baad leg mei pain
कहीं भी दर्द हो उसके लिए सबसे पूराने तरीको में से एक है हीट कंप्रेस करना। चित्र- पीनट्रस्ट

फिटनेस और लाइफस्टाइल एक्सपर्ट यश अग्रवाल बताते है कि एक्सरसाइज के बाद आपकी मांसपेशियों में तुरंत दर्द हो सकता है। इसे एक्युट सोरनेस के रूप में जाना जाता है। व्यायाम करने के लगभग 12 घंटे बाद आप दर्द या जकड़न महसूस कर सकते हैं। कुछ मामलों में, में ये दर्द 48 से 72 घंटों के बाद यह और अधिक हो सकता है। इस दौरान आपकी मांसपेशियां खुद को दुरुस्त और मजबूत बनाती हैं।

लेग डे के बाद पैरों में दर्द से राहत पाने के उपाय

1 हाइड्रेटेड रहना है बहुत जरूरी

लेग डे के बाद के दर्द से बचने का उपाय सबसे पहले है कि आप हाइड्रेटेड रहें। मांसपेशियों की रिकवरी में हाइड्रेशन एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। हाइड्रेट होने के लिए पानी पिएं या बेहतर होगा कि भरपूर मात्रा में इलेक्ट्रोलाइट्स से भरपूर स्पोर्ट्स ड्रिंक लें। पानी और इलेक्ट्रोलाइट्स मांसपेशियों की मरम्मत और ग्लाइकोजन के उत्पादन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

2 आराम करें और रिकवरी होने के लिए समय दें

लेग डे के बाद पैरों के दर्द को कम करने का सबसे आसान तरीका यह है कि आप अपने शरीर को ठीक होने के लिए समय दें। लेग डे के बाद जिम से एक दिन की छुट्टी लेने से आपके शरीर को ठीक होने में, मरम्मत और पुनर्प्राप्ति के लिए आवश्यक समय मिलेगा।

3 हीट थेरेपी का इस्तेमाल करें

कहीं भी दर्द हो उसके लिए सबसे पूराने तरीको में से एक है हीट कंप्रेस करना। हीट थेरेपी आपकी मांसपेशियों में रक्त के प्रवाह को उत्तेजित कर सकती है, जिससे उनमें सूजन और जकड़न कम हो सकती है। दर्द वाली मांसपेशियों पर हीट थेरेपी की जा सकती है। इससे लेग डे के बाद मांसपेशियों का दर्द कम हो जाएगा। हीट थेरेपी को हीटिंग पैड, स्टीम्ड तौलिए या यहां तक कि सॉना में जाकर भी किया जा सकता है।

leg pain after leg day
लेग डे के बाद पैरों के दर्द को कम करने का सबसे आसान तरीका यह है कि आप अपने शरीर को ठीक होने के लिए समय दें। चित्र- अडोबी स्टॉक

4 स्ट्रेचिंग और मोबेलिटी वाली एक्सरसाइज करें

जब स्ट्रेच की बात आती है तो क्वाड्रिसेप्स और हैमस्ट्रिंग विशेष रूप से महत्वपूर्ण होते हैं। जब बात दर्द को कम करने की आती है तो इन मांसपेशियों को लक्षित करने वाले स्ट्रेच को कूलडाउन रूटीन में शामिल करने से आपको काफी फायदा होगा। इसके लिए आप योगा भी कर सकते है। योगा में कई ऐसे पोज़ होते है जो आपके शरीर की अलग अलग मांसपेशियों को स्ट्रेच करने में मदद करता है।

ये भी- पढ़े- शरीर के इम्यून सिस्टम को मज़बूत बनाने के लिए इन 4 योगासनों को करें अपने रूटीन में शामिल

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें
  • 145
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख