सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है गर्म मौसम में हाई इंटेसिटी एक्सरसाइज करना, इन 5 चीजों का जरूर रखें ध्यान

तापमान के बढ़ते स्तर के साथ हाई इटैसिटी एक्सरसाइज को करने से पहले कुछ डूज़ और डोंटस का ख्याल रखना बेहद ज़रूरी है। जानते हैं गर्मी में हाई इंटैसिटी एक्सरसाइज़ करने से पहले रखें किन बातों का ख्याल और किन चीजों से बचे।
Summers mei exercise ke dauran rakhein in baaton ka khayal
शरीर में जमा कैलोरीज़ को बर्न करने और मसल्स को बिल्ड करने के लिए हाई इंटैसिअी एक्सरसाइज़ की मदद ली जाती है। चित्र : शटरस्टॉक
ज्योति सोही Published: 12 May 2024, 02:00 pm IST
  • 140

तापमान दिनों दिन बढ़ रहा है, जिसका असर वर्कआउट रूटीन पर भी नज़र आने लगता है। वॉकिंग, हाई इटैसिटी एक्सरसाइज़ और अन्य आउटडोर एक्टीविटीज़ का समय जहां सर्दियों में स्ट्रेच होने लगता है। वहीं गर्मियों में समय सीमा कम होती चला जाती है। दरअसल, सन एक्सपोज़र से स्किन के साथ आवरऑल हेल्थ पर भी प्रभाव नज़र आने लगता है। ऐसे में तापमान के बढ़ते स्तर के साथ हाई इटैसिटी एक्सरसाइज को करने से पहले कुछ डूज़ और डोंटस का ख्याल रखना बेहद ज़रूरी है। जानते हैं गर्मी में हाई इंटैसिटी एक्सरसाइज़ करने से पहले रखें किन बातों का ख्याल और किन चीजों से बचे।

इस बारे में लाइफस्टाइल कोच पूजा मलिक बताती हैं कि शरीर में जमा कैलोरीज़ को बर्न करने और मसल्स को बिल्ड करने के लिए हाई इंटैसिअी एक्सरसाइज़ की मदद ली जाती है। इन वर्कआउट्स को एचआईआईटी भी कहा जाता है। 15 सेकण्ड से 2 मिनट की अवधि के लिए आमतौर पर किए जाने वाले एक्टीविटीज़ में जंपरोप, डंबबैल, तबाता, कैटलबैल, स्टेशनरी बाईक और टरेड मिल समेत कई एक्सरसाइज़ शामिल होती हैं। शरीर को एक्टिव रखने के लिए की जाने वाली इन एक्सरसाइज़ को करने से पहले इन बातों का ख्याल रखें।

जानें हाई इंटैसिटी एक्सरसाइज़ के दौरान किन टिप्स को फॉलो करें

1 खुद को हाइड्रेट रखें

समर्स में अधिक समय तक एक्सरसाइज़ करने के लिए पानी अवश्य पीएं। इसके अलावा अगर आपका वर्कआउट सेशन 60 मिनट से ज्यादा है, तो अपने साथ स्पोर्ट्स ड्रिंक अवश्य रखें। इससे शरीर में एनर्जी का लेवल बना रहता है। तरल पदार्थों के सेवन से शरीर में पोटेशियम, सोडियम और इलेक्ट्रोलाइट्स की मात्रा बनी रहती है। मगर सेशन से 30 मिनट पहले या सेशन खत्म होने के कुछ देर बार पानी पीएं।

Workout se pehle water intake zaruri hai
आपको वर्कआउट शुरू करने से पहले तरल पदार्थ पीना चाहिए, खासकर यदि आप कुछ ऐसा कर रहे हैं जिसके लिए बहुत अधिक ताकत की आवश्यकता होती है। चित्र : अडॉबी स्टॉक

2 आउटडोर एक्सरसाइज से बचें

गर्मी के मौसम में तेज़ धूप में आउटडोर एक्सरसाइज़ करना स्वास्थ्य के लिए जोखिम भरा साबित हे सकता है। एक्सपर्ट के अनुसार एक्सरसाइज़ के मध्य में पानी पीना स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाता है। ऐसे में आउटडोर एक्सरसाइज़ करने से डिहाइड्रेशन, बार बार स्वैटिंग और सांस फूलने की समस्या का सामना करना पड़ता है। इसके अलावा यूवी रेज़ स्किन के लिए भी नुकसानदायक साबित होती है। इससे त्वचा पर रैशेज, इचिंग औश्र टैनिंग का खतरा बना रहता है।

3 ढीले और हल्के रंग के कपड़े पहनें

एक्सरसाइज़ करने के दौरान ब्रीथएबल और लाइट कलर के कपड़े पहनें। इससे शरीर में बार बार स्वैटिंग की परेशानी से राहत मिल जाती है। साथ ही शरीर हेल्दी एक्टिव बना रहता है। दरअसल, हल्के रंग के कपड़ों को पहनने से शरीर में एयर सर्कुलेशन बना रहा है, जिससे शरीर का तापमान सामान्य बना रहता है। साथ ही बैक्टीरियल इंफे्क्शन का खतरा भी कम होने लगता है।

4 उम्र और स्टेमिना का रखें ख्याल

हाई इटैसिटी एक्सरसाइज़ के लिए एज फैक्टर बेहद मैटर करता है। ट्रेनर की देखरेख में ही हाई इंटैसिटी एक्सरसाइज़ करें। इसके अलावा वे लोग जो बिगनर्स है, उन्हें अपने स्टेमिना और फिज़िकल हेल्थ के अनुसार ही एक्सरसाइज़ का चुनाव करना चाहिए। देर तक एक्सरसाइज़ करने से उसका प्रभाव हार्टबीट पर नज़र आता है।

Arms ko tone karti hai yeh exercise
फिज़िकल हेल्थ के अनुसार ही एक्सरसाइज़ का चुनाव करना चाहिए। देर तक एक्सरसाइज़ करने से उसका प्रभाव हार्टबीट पर नज़र आता है। चित्र:शटरस्टॉक

5 वॉर्निंग साइन्स को पहचानें

व्यायाम के दौरान बार बार प्सास लगने, थकान महसूस होने और सांस फूलने पर ब्रेक लें और कुछ देर आराम करें।

अपनी उम्र के हिसाब से एक्सरसाइज़ का चुनाव करें। इससे शरीर को मांसपेशियों की ऐंठन का सामना नहीं करना पड़ता है।

एक्सरसाइज़ करने से 30 मिनट पहले पानी पीएं। इससे शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स का स्तर उचित बना रहता है।
नियमित रूप से हेल्दी डाइट लें। आहार में प्रोटीन, कैल्शियम और फाइबर को शामिल करें।

लगातार एक्सरसाइज़ करने से बचें। धीरे धीरे समय की अवधि को बढ़ाएं और तेज़ धूप में आउटडोर एक्सरसाइज़ को अवॉइड करें।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

अपनी हेल्थ कंडीशंस को ध्यान में रखकर ही एक्सरसाइज़ का चुनाव करें और किसी के प्रशिक्षण ही व्यायाम करें।

ये भी पढ़ें- बहुत पतले हैं, तो भी आपके लिए जरूरी है सही एक्सरसाइज, जानिए कौन सी

  • 140
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख