फैट और वेट दोनों बढ़ा देती हैं, सर्दी में नॉर्मल लगने वाली आपके ये 4 लापरवाहियां

सर्द रातें और कोहरे से भरे दिन हमें सुस्त कर देने के लिए काफी है। ऐसे में अगर आप खुद को फैट फ्री रखना चाहते है, तो नीचे दी गई डेली रूटीन मिस्टेक्स को करने से बचें। आइए जानते हैं, ऐसी सिचुएशन से निपटने के लिए क्या क्या सावधानी बरतें।
weight loss ke exercise karein
जानते हैं शरीर के लिए किस प्रकार फायदेमंद है कुछ देर की एक्सरसाइज़ । चित्र: शटर स्टॉक
ज्योति सोही Published: 15 Jan 2023, 11:00 am IST
  • 141

सर्दियों में देर तक बिस्तर पर रहना( laziness in winter), गर्मागर्म खाना खाना और उसके बाद गजक या मूंगफली(peanuts)  को देर तक चबाना। सुनने में बहुत अच्छा लगता है। लेकिन अगर आप भी इन चीजों को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बना चुके हैं। तो ज़रा सतर्क हो जाएं। क्यों की सालभर की ढ़ेर सारी मेहनत और पसीने के बाद फिट एंड फाइन(fit and fine body) दिखने वाली बॉडी अब धीरे धीरे वेट गेन(weight gain) की ओर बढ़ रही है। अगर आप अपने शरीर को स्लिम और फिट रखना चाहते हैं, तो इन गलतियों को करने से बचें(causes of weight gain in winter) ।

इस बारे में शोध क्या कहता है

एक्सेटर विश्वविद्यालय के शोध के मुताबिक सर्दियों के महीनों में अधिक खाने की इच्छा करने का जिक्र बायोलॉजी में मिलता है। शोधकर्ताओं का सुझाव है कि हमारे पास सर्दियों में अधिक खाने की प्राकृतिक प्रवृत्ति है।

ला साले विश्वविद्यालय में पोषण कार्यक्रम के निदेशक आरडी जूल ऐनी हेनस्टेनबर्ग कि मानें, तो हमें किसी पार्टी में जाने से पहले उच्च फाइबर(fiber rich) से भरपूर फलों और सब्जियों का सेवन करना चाहिए। इसमें गाजर, सेब और सलाद ले सकते हैं।

रिसर्च में पाया गया है कि जब हम घर से बाहर कहीं जाते हैं, तो ज्यादा खाते हैं। अध्ययनों से पता चलता है कि हम ऐसे में रोज़ाना की तुलना में 40 फीसदी अधिक कैलोरी ले सकते हैं। रिसर्च कहता है कि हमारे खाने का संबध भूख से नहीं है।दरअसल, भोजन में जितनी अधिक विविधता में खाद्य पदार्थ उपलब्ध होते हैं। उतना ही ज्यादा खाने की संभावना बढ़़ जाती है।

slim rehne ke liye in galatiyon se bachein
अपने शरीर को स्लिम और फिट रखना चाहते हैं, तो इन गलतियों को करने से बचें। चित्र शटर स्टॉक

यहां हैं वे कारण जो आपका वेट और फैट दोनों बढ़ा देती हैं

1 बहुत लंबे समय तक बिस्तर पर रहना

सर्दियों के दौरान रातें लंबी और दिन छोटे हो जाते हैं। ऐसे में हम गर्मी की बजाय सर्दी के मौसम में देर तक सोते हैं। ज्याया देर तक सोना भी वज़न बढ़ने का एक मुख्य कारण है। खासतौर से खाना खाने के बाद एकदम बेड पर लेटने से शरीर में फैट्स जमा होने लगते हैं। इसमें कोई दोराय नहीं कि कड़कड़ाती ठंड कहीं न कहीं हमें बिस्तर से बाहर निकलने से रोकती है।

रिसर्च में पाया गया है कि ज्यादा देर तक बिस्तर में रहने से शरीर में स्लीपिंग हार्मोन और मेलाटोनिनं बढ़ने लगते है। इससे आपके सोने और जागने की साईकिल पूरी तरह से गड़बड़ा जाती है। कोशिश करें कि जल्दी सोएं और सुबह भी जल्दी उठ सके।

2 त्योहार और वेडिंग सीज़न

सर्दी के मौसम में एक के बाद एक कई त्योहार आने लगते हैं। इसके अलावा विटर को अगर वेडिंग सीज़न कहे, तो किसी भी मायने में गलत नहीं होगा। जहां खान पान पर बिल्कुल राक नही लगाते हैं। बिना सोचे समझे मन मुताबिक खाते हैं। त्योहार हो या शादी दोनों ही सूरत में वज़न का बढ़ना लाज़मी है। ऐसे में डाइट पर काबू पाना चाहिए। ताकि आपके शरीर का वज़न नियंत्रित रहे।

3 वर्कआउट न कर पाना

ठंड के चलते लोग वर्कआउट करने और जिम जाने से कतराते हैं। इससे हमारे शरीर के अंदर सुस्ती बढ़ने लगती है। साथ ही कैलोरीज बर्न नहीं होती, जो मोटापे का कारण सिद्ध होती है। अगर आप ऐसे मौसम में जमा कैलोरीज़ को अपने शरीर से बाहर करना चाहते हैं, तो सुबह और शाम दो वक्त सैर के लिए निकलें। इससे शरीर का ब्लड सर्कुलेशन नियमित होता है।

साथ ही हमें दिनभर ताज़गी का एहसास रहता है। इसके अलावा शरीर में एक्‍स्‍ट्रा फैट जमा नहीं हो पाते हैं। अगर आप घर से बाहर नहीं निकलना चाहते, घर के अंदर ही कुछ देर चलें। साथ सीढ़ियां चढ़े और उतरें, ताकि आपके शरीर में एनर्जी का विकास हो।

4 कैलोरी इनटेक बढ़ना

सर्दी में घर पर बनने वाले लड्डू, गजक, चिक्की और कई तरह के परांठे हम रोज़ाना खाने लगते हैं। जो वज़न बढ़ने का सबसे महत्वपूर्ण कारण साबित होता है। ऐसे में अपने वज़न को बढ़ने से रोकने के लिए मौसमी फलों और सब्जियों का सेवन करें। साथ ही ज्यादा मीठा खाने से भी बचें। जो शरीर में कैलोरीज को बढ़ाने में मददगार है।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें
weight-loss ke liye yoga jaruri hai
रोज़ाना कुछ देर योग या एरोबिक्स के लिए ज़रूर निकालें। इससे शरीर में तंदरूस्ती बनी रहती है। चित्र शटर स्टॉक

इन बातों का रखें ख्याल

छोटी मील्स लें

एक साथ बिग प्लैटर के स्थान पर हर दो घंटे में छोटी मील्स लें। इससे आप एक साथ ज्यादा खाने से बचेंगे। तला हुआ खाना खाने से भी परहेज़ करें। जो कैलोरी बढ़ाने में सहायक होता है।

ज्यादा पानी पीएं

सर्दी में अक्सर हम लोग कम पानी पीने लगते हैं। इससे कई बार सिरदर्द, पेटदर्द और सुस्ती जैसी शिकायत होने लगती है। ऐसे में ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं, ताकि बॉडी डिटॉक्स हो सके। नियमित पानी के सवन से बार बार भूख लगने की परेशानी से राहत मिल जाती है।

रूटीन एक्सरसाइज करें

रोज़ाना कुछ देर योग या एरोबिक्स के लिए ज़रूर निकालें। इससे शरीर में तंदरूस्ती बनी रहती है। सर्दी के दिनों में आप अपने घर में ही एक कोने में मैट बिछाकर कुछ देर एक्सरसाइज कर सकते हैं। इसके अलावा आप कुछ डांस स्टेप्स को भी वर्कआउट का हिस्सा बना सकते हैं। वहीं कुछ समय बच्चों के साथ स्पोर्टस एक्टिविटीज़ के लिए भी निकालें।

वज़न को जांचे

आपका वज़न पहले से कितना बए़ चुका है। इसके लिए अपने वज़न की समय समय पर जांच करते रहें। इस बात का भी ख्याल रखें कि आपके कपड़े आपको ढ़ीले हो रहे हैं या टाइट।

ये भी पढ़ें- बिना जिम जाए कैलोरी बर्न करनी है, तो जमकर करें भंगड़ा , फायदे हम बता देते हैं

  • 141
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख