चेस्ट फैट आपका लुक खराब कर रहा है, तो इन 4 एक्सरसाइज़ से करें इसे कम

चेस्ट वर्कआउट शरीर के उपर हिस्से में जमा फैट्स को बर्न करने में मदद करते हैं, जिससे शरीर स्लिम और टोन लगने लगता है। जानते हैं चेस्ट फैट का कम करने वाली कुछ आसान एक्सरसाइज़
Pushups ke fayde
कुछ महिलाओं में हॉर्मोन परिवर्तन के कारण ब्रेस्ट के ऊपर और गर्दन के नीचे वाले हिस्से में फैट जमना शुरू हो जाता है। चित्र- शटरस्टॉक
ज्योति सोही Updated: 23 Apr 2024, 14:10 pm IST
  • 140

वेटलॉस को लेकर लोगों में दिनों दिन जागरूकता बढ़ रही है। दरअसल, शरीर में जमा चर्बी कई समस्याओं का कारण बनने लगी है। ऐसे में चेस्ट वर्कआउट शरीर के उपर हिस्से में जमा फैट्स को बर्न करने में मदद करते हैं, जिससे शरीर स्लिम और टोन लगने लगता है। चेस्ट फैट्स को कम करने के लिए कुछ आसान एक्सरसाइज़ मददगार साबित होती है। जानते हैं चेस्ट फैट का कम करने वाली कुछ आसान एक्सरसाइज़।

जब आप ओवरवेट होती हैं और पूरे शरीर में फैट्स बढ़ने लगते हैं, तो उससे आपके शरीर का यह हिस्सा भी अछूता नहीं रहता। जबकि कुछ लोगों का बॉडी स्ट्रक्चर आनुवांशिक तौर पर ऐसा होता है कि छाती पर फैट ज्यादा जमता है और ज्यादा नजर आता है।

कुछ महिलाओं में हॉर्मोन परिवर्तन के कारण ब्रेस्ट के ऊपर और गर्दन के नीचे वाले हिस्से में फैट जमना शुरू हो जाता है। हॉर्मोन में बदलाव के कारण यह फैट मेनोपॉज में भी नजर आ सकता है। अनियमित खानपान और लंबे वक्त तक बैठने से शरीर में फैट्स बढ़ने लगते हैं। इससे चेस्ट में फैट्स का सामना करना पड़ता है।

क्या है चेस्ट फैट और क्यों बढ़ता है 

इस बारे में बातचीत करते हुए वेलनेस कोच पूजा मलिक का कहना है कि शरीर के उपरी हिस्से पर जमा होने वाले फैट्स को चेस्ट फैट कहा जाता है। ये फैट्स कंधे, गर्दन और छाती पर जमा होते हैं। खासतौर से हार्मोन असतुंलन इस समस्या का मुख्य कारण साबित होता है। अनहेल्दी लाइफस्टाइल के चलते कम उम्र की लड़कियां चेस्ट फैट से ग्रस्त हो जाती है।

इसका असर ओवरऑल शरीर पर दिखने लगता है। इन फैट्स को बर्न करने के लिए नियमित रूप से पुशअप्स, प्लैक और वॉल स्क्वॉट मददगार साबित होते हैं। इससे न केवन फैट बर्न होते हैं बल्कि कंधों की मांसपेशियो को मज़बूती मिलती है।

ये 4 एक्सरसाइज आपके चेस्ट एरिया पर फोकस कर वहां का फैट कम करती हैं (Exercises to reduce chest fat)

1. पुशअप्स (Pushups)

नियमित तौर पर पुशअप्स करने से कोर मसल्स को मज़बूती मिलती है और शरीर के उपरी हिस्से में जमा फैट्स की समस्या भी हल हो जाती है। वर्कआउट रूटीन में इसे शामिल करने से मांसपेशियों की मज़बूती बढ़ती है और शरीर के पोष्चर में सुधार आने लगता है।

जानें इसे करने की विधि

इसे करने के लिए पेट के बल जमीन पर लेट जाएं। अब शरीर को उपर की ओर उठाएं। दोनों बाजूओं को कंधे की चौड़ाई के अनुसार जमीन पर टिका लें और फिर कोहनियों को मोड़ते हुए नीचे झुकें और उपर आएं। इस दौरान टांगों और कमर को एकदम सीधा रखें।

Chest fat ko iss tarah burn karein
इस एक्सरसाइज़ से ग्लूट्स के अलावा अपर बॉडी को टोन रखने में मदद मिलती है। चित्र:शटरस्टॉक

2. वॉल स्क्वॉट (Wall squats)

दीवार के सहारे की जाने वाली इस एक्सरसाइज़ से ग्लूट्स के अलावा अपर बॉडी को टोन रखने में मदद मिलती है। इसके निरंतर अभ्यास से कंधों और गर्दन के नज़दीक चर्बी कसे बर्न करना आसान है।

कैसे करें वॉल स्क्वॉट

इसे करने के लिए अपनी पीठ को दीवार से मज़बूती से चिपका लें। ध्यान रखें की दोनों हाथों के मध्य गैप रहें। पैरों में भी दूरी बनाकर रखें। अब शरीर को नीचे की ओर झुकाएं और कुर्सी के आकार में बैठने का प्रयास करें। दोनों हाथों को आगे बढ़ाएं और स्क्वॉट करें। इसे 20 बार 4 से 5 सेट्स में करने का प्रयास करें।

3. आर्म स्लाइड (Arm slide)

जमीन पर बैठकर आर्म स्लाइडस को करने से चेस्ट फैट को रिडयूज़ करने में मदद मिलती है। इसके अलावा बाजूओं पर जमा चर्बी भी बर्न हो जाती है। वे महिलाएं, जो चेस्ट और गर्दन पर जमा फैट्स को दूर करना चाहती है, उन्हें 3 से 4 सेट्स में इस एक्सरसाइज़ को 25 बार दोहराना चाहिए।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

जानें इसे करने की विधि

इसे करने के लिए मैट पर घुटनों के बल बैठ जाएं। अब घुटनों के बल खड़े होकर दोनों बाजूओं को ज़मीन पर टिकाएं। इसके बाद दोनों हाथों को आगे से पीछे लेकर आएं। इसे स्लाइड्स, तौलिए और पेपर प्लेट्स की मदद से किया जा सकता है।

arm slide ke fayde
जमीन पर बैठकर आर्म स्लाइडस को करने से चेस्ट फैट को रिडयूज़ करने में मदद मिलती है। चित्र : अडोबी स्टॉक

4. बॉल स्लैम्स (Ball slams)

चेस्ट पर जमा फैट्स को बर्न करने के लिए बॉल स्लैम्स का निरंतर अभ्यास करना चाहिए। इससे छाती पर जमा चर्बी को बर्न कर स्टेमिना बूस्ट करने में मदद मिलती है। इस फुल बॉडी मूवमेंट से शरीर में कैलोरीज़ स्टोर नहीं हो पाती है, जिससे वेटलॉस जर्नी आसान होने लगती है।

जानें इसे करने की विधि

इसे करने के लिए सीधे खड़े हो जाएं। दोनों टांगों के मध्य दूरी बनाकर रखें। उसके बाद हाथ में बॉल को लेकर नीचे फेकें और उठाएं। इस दौरान घुटनों को बैण्ड करने से ओवरऑल शरीर को फायदा मिलता है।

ये भी पढ़ें- पैरों को सुडौल और मजबूत बनाए रखने में मदद करती हैं ये 5 एक्सरसाइज, जानिए इनके फायदे

  • 140
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख