चर्बी को कम कर अपनी पीठ को टोन करने के लिए ट्राई करें ये 5 योगा स्ट्रेच

अपनी पीठ को टोन करने के लिए अब आपको उन भारी डंबल्स को उठाने या पुश-अप करने की जरूरत नहीं है। बस इन पांच योगा स्ट्रेच का रोजाना अभ्यास करती रहें।
योगा स्ट्रेच आपकी पीठ और निचले हिस्से को टोन कर सकते हैं। चित्र: शटरस्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published on: 13 July 2021, 11:13 am IST
ऐप खोलें

स्ट्रेचिंग सिर्फ आपकी मांसपेशियों को आराम देने के बारे में ही नहीं है, बल्कि उन्हें पूरी तरह से खोलने के बारे में भी है। ताकि वे आकार में आ सकें। बैक स्ट्रेच सिर्फ आपके ऊपरी शरीर की मांसपेशियों को फ्लेक्स नहीं करेगा, बल्कि उन्हें टोन भी करेगा। सच कहा जाए, तो योगाभ्यास पीठ को स्ट्रैच करने सबसे प्रभावी और समग्र तरीकों में से एक है।

योग में कई सूक्ष्म पोज़ हैं, जो आपको वसा से छुटकारा पाने में मदद कर सकते हैं। आज, हम उन के बारे में बात करने वाले हैं जो सबसे ज्यादा प्रभावी हैं। तो आइए एक नजर डालते हैं। 

बैक बल्ज को कम करने के लिए यहां पांच प्रभावी योग स्ट्रेच दिए गए हैं:

स्ट्रेच 1  मार्जरी आसन

योगालैंड इंडिया की योग विशेषज्ञ अलीशा नेतालकर सुझाव देती हैं, “यह रीढ़ की हड्डी को वॉर्म अप और डिकंप्रेस करने के लिए एक बेहतरीन स्ट्रैच है।  इसे 10 बार दोहराएं और टेलबोन से रीढ़ की हड्डी को रिलीज करने पर ध्यान केंद्रित करें। छाती को फैलाते और नीचे झुकने के दौरान सांस लेती रहें।“ 

मार्जरी आसन आपकी पीठ और छाती को रिलैक्स करेगा।

स्ट्रेच 2 — भुजंगसाना

यह आसन रीढ़ की हड्डी को सपोर्ट करने वाली मांसपेशियों को मजबूत करने और शरीर को मजबूत बनाने में मदद करता है। आप भुजंगासन के नियमित अभ्यास से पीठ के निचले और ऊपरी हिस्से को टोन और मजबूत कर सकती हैं। इसे 5 बार दोहराएं, जैसे ही आप जमीन से ऊपर उठते हैं, तो सांस छोड़ते हुए आसन से बाहर निकलें। जब आप इस मुद्रा में सहज हो जाएं तो 5 से 7 ब्रीदिंग तक अंतिम मुद्रा को होल्ड कर सकती हैं। 

जब आप उस जौलाइन को प्राप्त करते हैं तो अपनी गर्दन और रीढ़ की हड्डी को फैलाएं। छवि सौजन्य: शटरस्टॉक

स्ट्रेच 3 — शलभासन

यह एक आसन है जो शरीर के पिछले हिस्से पर काम करता है। शलभासन में आने के लिए, श्वास लेते समय अपने शरीर को ऊपर उठाएं और जब आप सांस छोड़ती हैं तो जमीन पर वापस आएं। ताकत और सहनशक्ति बनाने के लिए 5 से 7 श्वास तक इस आसन में होल्ड करें। 

शलभासन। छवि सौजन्य: अलीशा नेतालकर

स्ट्रेच 4 — धनुरासन

धनुरासन पूरी रीढ़ को फैलाने और मजबूत करने में मदद करता है। यह पेट की मांसपेशियों और आंतरिक अंगों को टोनिंग करने पर भी काम करता है। स्ट्रेच की तीव्रता को आपके आराम के स्तर के अनुरूप बदला जा सकता है।

“एक बैठक में तीन बार इसका अभ्यास करें। जब आप जमीन पर वापस आती हैं, तो आपको ऊपर उठने और सांस छोड़ते समय श्वास लेना चाहिए। अलीशा नेतालकर सुझाव देती हैं कि जब तक आप आसन में आरामदायक मुद्रा में न आ जाएं, तब तक गहरी सांस लेती रहें।

धनुरासन। चित्र: शिक्षा शेट्टी

स्ट्रेच 5 — शशांकासन

शरीर के निचले हिस्से में तनाव और कठोरता से राहत देने के लिए यह एक बेहतरीन आसन है। इसके साथ ही यह अपके तंत्रिका तंत्र को भी आराम देता है। आसन का प्रभाव और आराम पेट से लंबी और गहरी सांस लेने के साथ बढ़ाया जा सकता है। 

अपने शरीर के निचले हिस्से को तनाव मुक्त करने के लिए इस आसन को आजमाएं। चित्र: शटरस्टॉक

आप अपनी वेट ट्रेनिंग एक्सरसाइज और डाइट के साथ इन योगासनों का अभ्यास कर सकती हैं। ये इफेक्टिव पोस्ट वर्कआउट अभ्यास हो सकते हैं और आपके वर्कआउट सेशन के परिणाम को काफी बढ़ा सकते हैं।

तो, लेडीज, क्या आप इसे फॉलो करने के लिए तैयार हैं?

यह भी पढ़ें – ये 3 तरीके हैं अपना फैट और वेट नापने के, जानिए कहीं आप भी तो नहीं ओवर वेट

लेखक के बारे में
टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
Next Story