लॉग इन

Swallowing Sperm : स्पर्म कोई सुपरफूड नहीं हैं, जल्द से जल्द दूर कर लें इसके बारे में प्रचलित ये 4 मिथ्स

ओरल सेक्स और स्पर्म के बारे में प्रचलित ऐसी ही कुछ फैंटेसीज ने बहुत सारे मिथ्स को जन्म दिया है। आइए आज स्पर्म यानी सीमन के बारे में प्रचलित कुछ मिथ्स और उनकी सच्चाई को एक्सप्लोर करते हैं।
जानें स्पर्म निगलने के बारे में कुछ मिथ्स और उनकी सच्चाई। चित्र : एडॉबीस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 9 May 2024, 09:00 pm IST
ऐप खोलें

सेक्स के बारे में हम अब भी खुल कर बात नहीं करते। इसी अधूरे ज्ञान ने लड़कों और लड़कियों में सेक्स को लेकर अलग-अलग फैंटेसीज को जन्म दिया है। फिर चाहें वह सेक्स करने के तरीके के बारे में हों या फिर उसके प्रभावों के बारे में। ओरल सेक्स और स्पर्म के बारे में प्रचलित ऐसी ही कुछ फैंटेसीज ने बहुत सारे मिथ्स को जन्म दिया है। आइए आज स्पर्म यानी सीमन के बारे में प्रचलित कुछ मिथ्स और उनकी सच्चाई को एक्सप्लोर करते हैं।

स्पर्म (semen) को लेकर अलग-अलग तरह की बातें कही जाती हैं। बहुत से लोग इसे न्यूट्रीशियस बताते हैं, और इसे मुंह के माध्यम से लेने की सलाह देते हैं। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि स्पर्म को निगलने से आप प्रेग्नेंट हो सकती हैं। आखिर इन बातों में कितनी सच्चाई है! क्या सच में स्पर्म को निगलना उचित है, क्या ये सच में फायदेमंद होता है? आज हम स्पर्म को मुंह के माध्यम से लेने से जुड़े कुछ सामान्य मिथ पर बात करेंगे। साथ ही जानेंगे इनसे जुड़ी सच्चाई।

गाइनीकोलॉजिस्ट और इनफर्टिलिटी एक्सपर्ट डॉ तनुश्री पांडे ने स्पर्म गल्प (Swallowing Sperm) करने से जुड़ी कई जरूरी जानकारी दी है। उन्होंने इसके मिथ बताने के साथ ही उनके फैक्ट्स भी बताए हैं। तो चलिए जानते हैं, इस बारे में अधिक विस्तार से।

ओरल सेक्स में भी जरूरी है कंडोम

डॉ तनुश्री कहती हैं, “स्पर्म अगर किसी भी वजह से मुंह में चला जाता है, तो इसका न तो कोई फायदा है और न ही नुकसान। यह एक पर्सनल चॉइस है कि आप स्पर्म को बहार स्प्लिट करना चाहती हैं या उसे गल्प करना चाहती हैं। परन्तु अगर आपका पार्टनर हाइजीन का ध्यान नहीं रखता है, तो इस स्थिति में स्पर्म को गल्प करना आपके लिए नुकसानदेह हो सकता है। ऐसा करने से एसटीआई का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए ओरल सेक्स में भी कंंडोम और डेंटल डेम के उपयोग की सलाह दी जाती है। ताकि अनिच्छा से आपके साथ ऐसा न हो।”

ओरल सेक्स में भी कंंडोम और डेंटल डेम के उपयोग की सलाह दी जाती है। चित्र-अडोबीस्टॉक

यहां जानें स्पर्म निगलने के बारे में प्रचलित कुछ मिथ्स और उनकी सच्चाई (Swallowing Sperm myth)

1 मिथ : क्या स्पर्म गल्प करने से प्रेगनेंट हो सकते हैं?

फैक्ट : यदि आपके मन में ऐसा कोई भी सवाल है, तो इसका जबाब पूरी तरह से न है। स्पर्म गल्प करने से कोई भी महिला प्रेगनेंट नहीं होती। सबसे जरुरी बात आपमें से किसी को भी बिना प्रोटेक्शन के इस्तेमाल के ब्लो जॉब नहीं देनी चाहिए। वहीं यदि आप स्पर्म को किसी मिथ के कारण गल्प कर रही हैं, तो पहले इसकी पूरी सच्चाई समझना जरुरी है।

डाइजेस्टिव सिस्टम और रिप्रोडक्टिव सिस्टम का आपस में डायरेक्ट कनेक्शन नहीं होता, इसलिए जब आप स्पर्म गल्प करती हैं, तो ये डाइजेस्टिव प्रोसेस के तहत बाहर निकल आता है।

2 मिथ : स्पर्म बॉडी को नुट्रिशन देता है

फैक्ट : स्पर्म बनाने वाले तत्व पूरी तरह से सुरक्षित हैं। वहीं आपने भी सुना होगा की स्पर्म में जरुरी पोषक तत्व होते हैं खासकर इनमें प्रोटीन की मात्रा पाई जाती है। यदि आप यह सोचकर इसे गल्प करती हो तो आपको सावधान होने की जरुरत है। क्योंकि इनमें मिनिमम क्वांटिटी में नुट्रिशन पाया जाता है, जो आपके शरीर की आवश्यकता को पूरा करने के लिए बेहद कम हैं।

यह भी पढ़ें : क्रैनबेरी जूस कम कर सकता है यूटीआई का जोखिम, जानिए यह कैसे काम करता है

हालांकि, कुछ लोगों को इससे गंभीर एलर्जी प्रतिक्रिया हुई है, लेकिन यह रेयर है। स्पर्म निगलने पर होने वाला सबसे बड़ा जोखिम एसटीआई होता है। अनप्रोटेक्टेड ओरल सेक्स करने से आप आसानी से हर्पीस, सिफलिस और गोनोरिया की चपेट में आ सकती हैं। सावधान और सुरक्षित रहें।

3 मिथ : स्पर्म स्किन और बालों के लिए फायदेमंद होता है

फैक्ट : इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है कि स्पर्म आपकी त्वचा और बालों के लिए अच्छा है। यदि आप अपने स्किन और बालों की सेहत में सुधर करने के लिए इसे गल्प कर रही हैं, तो यह फायदे की जगह आपको एलर्जीक प्रतिक्रियाएं और एसटीआई का शिकार बना सकता है। हेल्दी स्किन के लिए आपके पास अन्य कई हेल्दी ऑप्शंस हैं, जैसे की फल, सब्जियां, बीज, फलियां आदि इन्हे अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं।

तनाव कम करने से भी कम होती है ‘लो स्पर्म काउंट’ की समस्या। चित्र: शटरस्टॉक

4 मिथ : स्पर्म डिप्रेशन को कम करता है

फैक्ट : स्पर्म को मूड बूस्टर कहा जाता है और बहुत से लोग इसे स्ट्रेस रिलीज करनी के लिए गल्प करते हैं जो पूरी तरह से अनहेल्दी है। स्पर्म निगलने से अवसाद से निपटने, मूड अच्छा करने, तनाव और चिंता कम करने और नींद नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है, इन सभी के कोई भी साइंटिफिक प्रूफ नहीं हैं।

ऐसा करने से आप खुद को संक्रमित कर सकती हैं। संक्रमण की स्थिति में व्यक्ति का मूड काफी ज्यादा लो हो जाता है, इसलिए स्पर्म गल्प करने की गलती न करें, और डिप्रेशन से डील करने के लिए हेल्दी और सुरक्षित गतिविधियां अपनाएं।

यह भी पढ़ें : फैट लॉस भी हो सकता है पीरियड फ्लो में कमी का कारण, जानिए क्यों जरूरी है इसमें डॉक्टर से बात करना

अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख