लॉग इन

ब्लोटिंग और गैस का आजमाया हुआ नुस्खा है घरेलू मसालों से तैयार पेय, जानिए इसके फायदे और बनाने का तरीका

खान-पान में गड़बड़ी और लगातार बैठकर काम करने से भी ब्लोटिंग की समस्या हो सकती है। कई मसाले जैसे कि सौंफ, मेथी और सूखे अदरक के पाउडर इससे राहत दिला सकते हैं। ये बिना साइड इफेक्ट के ब्लोटिंग की समस्या को दूर करने में मदद कर सकते हैं।
हींग का पानी आपके मेटाबॉलिज्म को बढ़ावा देने के लिए जाना जाता है। चित्र : अडोबी स्टॉक
स्मिता सिंह Published: 14 Nov 2023, 07:41 pm IST
मेडिकली रिव्यूड
ऐप खोलें

खान-पान और लाइफस्टाइल में गड़बड़ी के कारण ब्लोटिंग की समस्या आम है। इसके कारण पेट दर्द और सूजन की समस्या होती है। इसके पीछे आंतों में गैस की अधिकता हो सकती है। यदि खाने के बाद पेट फूल जाता है, तो यह पाचन संबंधी समस्या हो सकती है। कुछ खाद्य पदार्थ ब्लोटिंग की समस्या को कम करने में मदद कर सकते हैं। मेथी, सौंफ और अदरक पाउडर ब्लोटिंग की समस्या को कम करने में मदद (Methi powder, saunf powder and ginger powder for bloating) कर सकते हैं।

इन कारणों से हो सकती है ब्लोटिंग (Bloating causes)

हम लंबे समय तक लगातार बैठ कर काम करते हैं। इसका असर पाचन तंत्र पर पड़ सकता है। इसके कारण ब्लोटिंग की समस्या हो सकती है। इसके अलावा, कई लोगों को कार्बोहाइड्रेट खासकर शुगर को पचाने में कठिनाई होती है।

कुछ खाद्य पदार्थों में मौजूद लैक्टोज, फ्रुक्टोज और गेहूं तथा फलियों में मौजूद कार्बोहाइड्रेट को पचाने में भी दिक्कत होती है। लैक्टोज इंटोलीरेंस के कारण भी दिक्कत हो सकती है। छोटी आंत में बैक्टीरिया के बहुत अधिक बढ़ने पर भी यह समस्या हो जाती है। इररेगुलर बोवेल सिंड्रोम के कारण पाचन संबंधी समस्या हो सकती है। इसके कारण उल्टी या कब्ज, बुखार, रक्तस्राव, एनीमिया और वजन घटने जैसी समस्या भी हो सकती है।

खाद्य पदार्थ कैसे कम करते हैं (How Food reduces Bloating)

ऐसे कई खाद्य पदार्थ, हर्ब, स्पाइस और उनसे तैयार ड्रिंक हैं, जो डायजेशन की प्रक्रिया में मदद कर सकते हैं। एंटीऑक्सिडेंट प्रोपर्टी वाले मेथी, सौंफ और अदरक को पाचन में सुधार करने में मदद करने वाले खाद्य पदार्थ के रूप में जाना जाता है। सौंफ, मेथी और अदरक मेटाबोलिज्म को सक्रिय करने में मदद करते हैं। इन तीनों में हाई डायटरी फाइबर होता है। यह बोवेल मूवमेंट में मदद कर कब्ज को दूर करने में मदद कर सकता है।

 

सूजन और गैस को कम करने में मदद

मेथी, सौंफ और अदरक में मौजूद कंपाउंड डायजेस्टिव एंजाइमों के प्रोडक्शन को प्रोत्साहित करने में मदद करते हैं। ये भोजन को पचाने में मदद कर सूजन और गैस को कम करने में मदद कर सकते हैं। विशेषज्ञ बताते हैं कि मेथी, सौंफ और अदरक के पाउडर ब्लोटिंग कम करने में मदद करते हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि इन तीनों पाउडर से तैयार ड्रिंक को बनाना काफी आसान है। इसे आप केवल 5 मिनट में तैयार कर सकती हैं।

मेथी, सौंफ और अदरक में मौजूद कंपाउंड डायजेस्टिव एंजाइमों के प्रोडक्शन को प्रोत्साहित करने में मदद करते हैं। चित्र : अडोबी स्टॉक

कैसे तैयार करें (How to prepare fenugreek, fennel and dry ginger powder drink)

सबसे पहले एक चौथाई टी स्पून मेथी बीज पाउडर, एक चौथाई टी स्पून सौंफ पाउडर और एक चौथाई टी स्पून ड्राई अदरक पाउडर लें। तीनों को 1 ग्लास गुनगुने पानी के साथ मिक्स करें। स्वाद बढ़ाने के लिए एक चुटकी काला नमक और आधा स्पून नींबू का रस भी मिला सकती हैं। सुबह के नाश्ते या दोपहर के भोजन से पहले इसे ले सकती हैं।

यदि आप पर ऑफिस और घर के काम का दवाब है और आप इसे रोज-रोज तैयार नहीं करना चाहती हैं। तो इसके लिए भी उपाय किया जा सकता है। मेथी, सौंफ को ग्राइंड कर पाउडर बना लें। इसमें बराबर मात्रा में सूखे अदरक का पाउडर मिक्स कर लें। इस मिश्रण से आधा स्पून पावडर लेकर पानी में मिक्स कर पीयें। दोपहर के भोजन से पहले इस पाउडर का सेवन करना चाहिए।

और भी हैं फायदे (fenugreek, fennel and dry ginger powder drink benefits)

यदि इस पेय का नियमित रूप से सेवन किया जाये, तो यह वजन घटाने में मदद करता है।
यह पेय प्री डायबिटिक के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। यह इंसुलिन रेसिस्टेंस से निपटने में मदद करता है।

मेथी के पेय का नियमित रूप से सेवन किया जाये, तो यह वजन घटाने में मदद करता है। चित्र शटरस्टॉक।

यह टोक्सिन बाहर निकालकर शरीर को डिटॉक्सीफाई करने में मदद कर सकता है।
यह ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है।
सूजन और इरिटेबल बोवेल सिंड्रोम से राहत दिला सकता है।
स्किन चमकदार हो सकती है। यह स्किन को फ्री रेडिकल्स के कारण होने वाले नुकसान से बचाता है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

यह भी पढ़ें :- बढ़ते पॉल्यूशन और ठंड में आपका रक्षा कवच बन सकती है अजवाइन, जानिए इसे आहार में शामिल करने के 4 स्वादिष्ट तरीके

स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है। ...और पढ़ें

अगला लेख