लॉग इन

आपकी सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है खाली पेट कॉफी पीना, यहां जानिए इसके 5 साइड इफेक्ट

कुछ लोगो को सुबह बिस्तर पर उठते ही कॉफी पीने की आदत होती है पर क्या आपको पता है ये आदत आपके लिए कितनी नुकसानदायक हो सकती है।
ऑक्सीजन, नमी और रोशनी कॉफी की ताजगी के दुश्मन हैं, इसलिए आपको कॉफी को इन तत्वों से दूर रखना चाहिए। चित्र : शटरस्टॉक
संध्या सिंह Updated: 8 Jan 2023, 04:16 pm IST
ऐप खोलें

कुछ लोगो को चाय या कॉफी की लत इतनी बूरी तरह होती है कि बिना इसके वो अपना दिन भी शूरू नहीं कर पाते है। जब तक उन्हे चाय या कॉफी न मिले वो कोई काम नहीं कर पाते है। कुछ लोगो को तो इतनी बूरी तरह ये आदत जकड़ लेती है कि बिना कॉफी के उनका सर दर्द होने लगता है।

कॉफी को खाली पेट पीने से पाचन तंत्र में हाइड्रोक्लोरिक एसिड रिलीज हो सकता है। जो आपको नुकसान पहुंचा सकता है। यह आपके शरीर और पाचन तंत्र को खराब कर सकता है। इसलिए आपको कॉफी के फायदों के साथ उसके नुकसान के बारे में भी जानना बहुत जरूरी है।

मायो क्लिनिक के अनुसार कॉफी में कैफीन के कारण इसके कई स्वास्थ्य जोखिम हो सकते है। उदाहरण के लिए, यह अस्थायी रूप से रक्तचाप (BLOOD PRESSURE) बढ़ा सकता है। जो महिलाएं गर्भवती हैं, कंसीव करने की सोच रही है या स्तनपान करा रही हैं, उन्हें कैफीन से सावधान रहने की जरूरत है। उबली हुई, अनफ़िल्टर्ड कॉफ़ी के अधिक सेवन को कोलेस्ट्रॉल के स्तर में मामूली वृद्धि हो सकती है।

ये भी पढ़ेडायबिटीज करनी है कंट्रोल तो ट्राई करें डाइटिशियन का सुझाया ये हेल्दी वेजिटेबल जूस

खली पेट कॉफी पीना हमारे शरीर को कितना नुकसान पहुंचाता है ये जानने के लिए हमने बात की डाइट और न्यूट्रिशन स्पेशलिस्ट शीनम नारंग (dietbysheenam) से।

शीनम बताती हैं कि कॉफी पीना आपकी सेहत के लिए अच्छा है, लेकिन सुबह खाली पेट इसे सबसे पहले पीना खतरनाक हो सकता है। जब खाली पेट कॉफी पी जाती है तो कॉफी आपके पाचन तंत्र में हाइड्रोक्लोरिक एसिड को उत्तेजित कर सकती है। यदि किसी को गैस्ट्र्रिटिस की समस्या है तो उन्हे पता होगा की ये कितना असहज हो सकता है।

वे आगे बताती हैं एसिड पेट में भोजन को पचाने में समस्या पैदा करता है। जब आप बड़ी मात्रा में ऐसे भोजन का सेवन करते हैं, जो पचने में भी कठिन होता है, तो पाचन संबंधी समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। असल में प्रोटीन को डीकंपोज करना मुश्किल हो सकता है।
कॉफी पेट में एसिड को बढ़ा सकती है, जिससे अपच, सूजन, नॉज़िया जैसे लक्षण दिखाई देते हैं।

ये भी देखेंघी से भी ज्यादा खतरनाक है शक्कर, एक्सपर्ट बता रहीं हैं 7 कारण

खाली पेट कॉफी पीने से आपको घबराहट, कंपकंपी और मूड बदलने जैसी समस्याएं हो सकती हैं। कैफीन आपको बहुत जल्दी चिड़चिड़ा बना सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

यहां हैं खाली पेट कॉफी पीने के नुकसान

1 इससे सूजन और अपच की समस्या हो सकती है

खाली पेट कॉफी पीना सूजन, नॉजिया, अपच का कारण बन सकता है। कॉफी पेट के एसिड के उत्पादन को बढ़ा सकती है या उत्तेजित कर सकती है। यह पेट में हानिकारक एसिड के उत्पादन को बढ़ा देती है, जिससे पाचन संबंधी समस्या हो सकती है।

2 बढ़ सकता है ब्लड शुगर लेवल

सुबह खाली पेट कॉफी पीने से ब्लड शूगर लेवल भी बढ़ सकता है। जिससे डायबटिज का खतरा बढ़ सकता है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

3 हार्मोनल परेशानी

खाली पेट कॉफी पीना लेवोथायरोक्सिन (सिंथेटिक थायराइड हार्मोन) के अवशोषण को प्रभावित करता है। जिससे T4 से T3 हार्मोन के परिवर्तन पर प्रभाव पड़ता है।

4 आप चिड़चिड़ा महसूस कर सकती हैं

खाली पेट कॉफी पीने से आपको घबराहट, कंपकंपी और मूड बदलने जैसी समस्याएं हो सकती हैं। कैफीन आपको बहुत जल्दी चिड़चिड़ा बना सकता है। हार्वर्ड टी.एच.चैन स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के अनुसार कैफीन 45 मिनट के अंदर शरीर में अवशोषित हो जाता है। जिससे कॉफी पीने के 15 मिनट से दो घंटे के अंदर आप चिड़चिड़ापन महसूस कर सकती हैं।

क्या है कॉफी पीने का सही समय

अगर आपको कॉफी पीने का शौक सुबह-सुबह है तो आप एक काम कर सकते है कि आप कॉफी के साथ कुछ खा लें या फिर कुछ खाने के एक घंटे बाद ही कॉफी पीए। इसके हानिकारक प्रभाव से बचने के लिए कॉफी में थोड़ा सा दुध मिला सकते है।

आप चाहे तो कॉफी में दालचीनी मिला सकता है। अगर आपको दालचीनी का स्वाद पसंद है तो आप इसका इस्तेमाल कर सकते है।

ये भी पढ़े पुराने कब्ज की समस्या से राहत दिला सकता है गर्म दूध के साथ घी, जानें क्या कहते हैं शोध

संध्या सिंह

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख