एक फूडी वीक के बाद शरीर को डिटॉक्स करना है, तो एक्सपर्ट से जानिए कुछ बेस्ट डिटॉक्स ड्रिंक्स

डिटॉक्स करने का चलन तेजी से फिटनेस सर्किट में तूफान ला रहा है। अगर आप भी कुछ बेस्ट डिटॉक्स ड्रिंक्स की तलाश में हैं तो एक्सपर्ट से लीजिए राय।
डिटॉक्स ड्रिंक। चित्र:शटरस्टॉक
अदिति तिवारी Published on: 20 February 2022, 20:30 pm IST
ऐप खोलें

डिटॉक्स शब्द तेजी से हर क्षेत्र में सुनने को मिल रहा है। मेंटल डिटॉक्स हो, डिजिटल डिटॉक्स या बॉडी डिटॉक्स, यह आपके जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुका है। यह ठीक भी तो है! जिस भारी अर्बन माहौल और टॉक्सिक दुनिया में हम निवास कर रहे हैं, उसका वजन हमारे स्वास्थ्य पर पड़ रहा है।

मानव शरीर में लीवर, पसीना, यूरीन और मल के माध्यम से डिटॉक्स होने की अनुमति होती है। लेकिन प्रिजर्वेटिव और पेस्टीसाइड के भारी संपर्क में आने से टॉक्सिन की औसत खपत अब तक सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गई है। इसलिए आपके शरीर को लगातार डिटॉक्स करने की आवश्यकता है।

इसके अलावा अगर आप खाने के शौकीन हैं और आपने पूरे हफ्ते ऑफिस कैंटीन में स्वादिष्ट भोजन का मजा उठाया है, तो वजन बढ़ना स्वाभाविक है। ऐसे में आप वीकेंड आने तक भारी महसूस करते होंगे और पाचन भी साथ नहीं दे रहा होगा। डिटॉक्स के इस प्रक्रिया में मदद करने के लिए आहार में कुछ बदलाव करना आवश्यक है। इसलिए हम विशेषज्ञ द्वारा बताए गए कुछ बेस्ट डिटॉक्स ड्रिंक की सलाह दे रहें हैं।

शरीर को करना चाहती हैं डिटॉक्स, तो इन ड्रिंक्स का सेवन करें

आपके शरीर को बेहतर तरह से डिटॉक्स करने के लिए हेल्थशॉट्स ने फोर्टिस मेमोरियल रिसर्च इंस्टीट्यूट, गुड़गांव की हेड क्लीनिकल न्यूट्रिशनिस्ट, दीप्ति खटूजा कुछ बेहतरीन ड्रिंक्स की सलाह दे रहीं हैं।

दीप्ति मानती हैं कि सबसे बढ़िया डिटॉक्स एजेंट पानी होता है। वह कहती हैं, “गर्मियों में शरीर को डिटॉक्स करना आवश्यक है। सबसे आम और सरल डिटॉक्स एजेंट है पानी। अगर आप सादे पानी का सेवन सही मात्रा में करते हैं, तो आपका शरीर स्वयं ही डिटॉक्स होता रहेगा।”
डिटॉक्स जूस

1. तरबूज और पुदीना का जूस (Watermelon Mint Juice)

तरबूज पानी का महत्वपूर्ण स्रोत है। यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो वेट लॉस और डाइजेशन में मदद करता है। दीप्ति इस जूस को बनाने के लिए तरबूज, अदरक, नींबू का रस, पुदीना और नमक का इस्तेमाल करने के कहती हैं। इन सभी सामग्री को मिक्सर में पीस कर जूस छान लें। अदरक पाचन, सूजन, पेट में ऐंठन और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुणों से भरपूर एक पुराना घरेलू उपचार है।साथ ही पुदीना पेट को ठंडा रखने और नींबू इम्युनिटी को बढ़ाने में कारगर है। इस जूस के लगभग सभी सामग्री ठंडे तासीर की है।

डिटॉक्स प्लान आपकी वेट लॉस जर्नी को आसान बनाता हैं। चित्र:शटरस्टॉक

2. खीरा का जूस (Cucumber Juice) 

दीप्ति कहती है, “आप स्वाद या ड्रिंक्स में चेंज लाने के लिए तरबूज को खीरे से बदल सकते हैं। खीरा भी उतकृष डिटॉक्स एजेंट का काम करता है। इस जूस के लिए आप खीरा और पुदीना को मिक्सर में पीस लें। इनके रस को छानने के बाद आप नींबू और स्वादानुसार नामक मिलकर पीयें।”

इनफ्यूजन वॉटर (Infusion water for detox)

तो लेडिज, केवल एक तरह का डिटॉक्स तरीका आपको बोर कर सकता है। इसलिए हमारे विशेषज्ञ इनफ्यूजन वॉटर के विकल्प का सुझाव दे रहें हैं। खाटूजा कहती हैं, “इनफ्यूजन वॉटर का मतलब है जब आप रात भर या 2 से 3 घंटे के लिए डिटॉक्स इंग्रिडिएंट को पानी में भिगाकर रखते हैं। ऐसा करने से उस सामग्री के आवश्यक विटामिन और मिनेरल पानी में आ जाते हैं।”

1. रेड रेडिएंट वॉटर (Red radiant water)

इस ड्रिंक को बनाने के लिए आप 1 लीटर पानी में चुकंदर और सेब काटकर रात भर या कम से कम 2 से 3 घंटे के लिए छोड़ दें। इससे पानी का रंग लाल हो जाएगा और आप अगले दिन सुबह-सुबह इसका सेवन करें। ये डिटॉक्स ड्रिंक आपको आयरन रिच चुकंदर के गुणों के साथ सेब का स्वाद भी देगा।

2. अदरक वाला पानी (Ginger water)

दीप्ति कहती हैं, “रात में आप खीरा, अदरक, पुदीने की पत्तियों को 1 लीटर पानी में रखें। सुबह खाली पेट इस पानी का सेवन करें। यह आपके पाचन को स्वस्थ करने से शरीर से हानिकारक टॉक्सिन को फ्लश करने में मदद करता है।”

अदरक के चाय का सेवन डिटॉक्स के लिए बेहतरीन है। चित्र: शटरस्टॉक

डिटॉक्स स्मूदी और चाय (Detox smoothies and teas)

अब हम जानते हैं कि कैसे स्मूदी और चाय भी बन सकते है डिटॉक्स का एक महत्वपूर्ण तरीका।

1. अदरक नींबू चाय (Ginger lemon tea)

लेडिज अगर आप वेट लॉस के लिए लेमन टी का सेवन करती हैं, तो उसमें अदरक का हल्का ट्विस्ट डालें। जी हां, हमारी विशेषज्ञ भी इस बात से सहमत है। यह जिन्जर लेमन टी एक उत्कृष्ट डिटॉक्स टी का काम करता है। स्वाद के लिए आप इस चाय में शहद और पुदीना भी मिल सकते हैं।

2. ग्रीन स्मूदी (Green smoothie) 

हरी सब्जियों का कोई मुकाबला नहीं होता है। यह जरूरी विटामिन, मिनेरल, फाइबर, आदि प्रदान करने के साथ शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालने में भी मदद करता है। आहार विशेषज्ञ खाटूजा लहती हैं, “ग्रीन स्मूदी बनाने के लिए आप पालक, दही, चिया सीड्स या फ्लैक्स सीड और केला डालकर मिक्सर में पीस लें। इससे आपको केवल केले की प्राकृतिक मिठास ही नहीं, बल्कि पालक के पोषण तत्व भी मिलेंगे। चिया सीड्स और फ्लैक्स सीड की मदद से आप शरीर को ओमेगा-3 फैटी ऐसिड दे सकते हैं। स्मूदी में मौजूद दही आपके लिए हेल्दी प्रोबायोटिक के रूप में काम करता है।”

3. हल्दी चाय (Turmeric tea)

हल्दी के एंटीसेप्टिक गुण केवल चोट को ठीक नहीं करते, या आपके शरीर से हानिकारक पदार्थों को बाहर निकालते हैं। हल्दी चाय बनाने के लिए आप पानी में हल्दी, नींबू का रस और शहद मिलाकर उबालें। यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है और शरीर के फ्री रैडिकल्स को कम करता है। साथ ही हल्दी आपकी इम्यूनिटी को मजबूत करने में मदद करता है।

बॉडी डिटॉक्सिफिकेशन के लिए डिटॉक्स प्लान हैं जरूरी। चित्र- शटरस्टॉक

सारांश

दीप्ति अंत में कहती हैं, “खूब सारा पानी और इन चीजों का सेवन आपको वेट लॉस और डिटॉक्स करने में मदद कर सकता है। इसके अलावा हर हेवी मील के बाद पानी में नींबू का रस और वैकल्पिक रूप से पुदीना मिलकर पीने से भी आपको मदद मिलेगी। आपको यह ध्यान रखना है कि इन ड्रिंक्स की मात्रा सही हो। स्वयं इनका पोर्शन और समय तय करने से पहले आप अपने हेल्थ कोच या डॉक्टर से सलाह लें।”

यह भी पढ़ें:क्या एक लो कार्ब डाइट वज़न कम करने में कर सकती है आपकी मदद? जानिए इसके बारे में सब कुछ

लेखक के बारे में
अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
Next Story