ये 3 संकेत बताते हैं कि आपका रिश्ता ज्यादा दिन नहीं चल पाएगा, समझिए इसे कैसे बचाना है  

अगर रिश्ते की शुरुआत से जुड़ी कोई मीठी याद साझा करने के लिए आपके पास नहीं है तो ये मान लीजिए कि आपके रिश्ते की नींव में ही कुछ गड़बड़ है।
अगर रिश्ते में दिखें ये संकेत तो नींव में है गड़बड़ी, चित्र: शटरस्टॉक
शालिनी पाण्डेय Updated on: 1 July 2022, 20:54 pm IST
ऐप खोलें

भारतीय परम्परा और मूल्यों की बात करें तो शादी महज़ दो लोगों का नहीं दो परिवारों का गठबंधन है। जिसे आपसी समझौते, एडजस्टमेंट और साझेदारी के साथ निभाया जाता है, पर पिछले कुछ सालों में तलाक की संख्या दिन पर दिन बढ़ी है। हम भले ही इसे परिस्थितियों का नतीजा कहें पर मनोवैज्ञानिकों का मानना है कि किसी रिश्ते की शुरुआत में ही उसके टूटने के कारण भी छुपे होते हैं। यहां उन 3 संकेतों के बारे में बात की जा रही है, जो रिश्ते के टूटने (signs of weak relationship) का जोखिम बढ़ा सकते हैं। 

आपसी रिश्ते के बारे में क्या कहते हैं विशेषज्ञ 

अमेरिकन साइकोलॉजिकल एसोसिएशन द्वारा हाल ही में की गई एक रिसर्च के अनुसार, “एक जोड़ा अपनी शादी के शुरुआती समय को किस तरह से देखता है, यह उनकी शादी के चलने और तलाक की संभावना को प्रभावित करने वाले बड़े कारणों में से एक है।”

2009 में ऑस्टिन के टेक्सास विश्वविद्यालय के टेड हस्टन द्वारा किए गए एक अध्ययन के अनुसार कपल के लिए शादी के शुरुआती साल बेहद महत्वपूर्ण होते हैं। तलाक के लिए आए हुए जोड़ों पर हुए इस एक्सपेरिमेंट में यह देखा गया कि किस तरह कपल एक-दूसरे से जुड़ी पुरानी बातों को याद करता है। यदि अपने साथ के शुरुआती समय के बारे में बताते हुए वह सकारात्मक है, तो तलाक की संभावना को कम किया जा सकता है। जबकि रिश्ते की शुरूआत को याद करते हुए तल्खी आ जाने वाले जोड़ों के रिश्ते के टूटने की संभावना ज्यादा होती है। 

अगर आप भी अपने रिश्ते के खूबसूरत पल तलाशने में हैं असफल तो पड़ सकती है रिश्ते में दरार। चित्र: शटरस्टॉक

चलिए जानें कि शादी के इन शुरुआती सालों की वे कौन सी बातें हैं जो आपकी शादी के न चलने के लिए ज़िम्मेदार हो सकती हैं। अगर आप भी किसी के साथ रिश्ते की शुरुआत करने वाली हैं, तो इन चीजों से बचकर रहें। 

यहां हैं वे 3 संकेत जो बताते हैं कि आपका रिश्ता ज्यादा दिन नहीं चल पाएगा 

1 पार्टनर को लेकर नकारात्मकता

रिश्ते को गो विद द फ्लो के नियम के तहत जीना सबसे खूबसूरत एहसास है। किसी भी तरह का पूर्वाग्रह आपके रिश्ते को दीमक की तरह चाटते हुए ख़त्म कर सकता है। शादी के शुरुआती साल एडजस्टमेंट के लिहाज से सबसे महत्वपूर्ण साल हैं। इसलिए उस समय में इम्पर्फेक्शन बेहद स्वाभाविक हो जाती है।

तो जब आप अतीत के पन्ने पलटें और उस समय को याद करें तो यह ज़रूरी है कि उसे लेकर सकारात्मक रहें। अपने पार्टनर से की गई अनरियलिस्टिक उम्मीदों के पूरे न होने का मलाल पालने के बजाए उसके किए एफर्ट्स को सराहें। अरेंज मैरिज में खास तौर पर यह स्थिति हो सकती है कि आपका पार्टनर रोमांटिक न हो। ऐसे में हर बात पर लेकिन कहना आपके पार्टनर को हतोत्साहित कर सकता है।

2 विवाह से निराशा

अपने शुरुआती वर्षों को उबाऊ बताने का मतलब है कि रिश्ते में कुछ हद तक वैवाहिक निराशा घिर चुकी है। अपनी पहली मुलाक़ात के बारे में याद करते हुए बताने के लिए अगर आप अपने रिश्ते से जुड़ी एक भी अच्छी याद नहीं जुटा पाती हैं, तो यह बताता है कि आपके रिश्ते की नींव में ही गड़बड़ी है।

यदि आप अपनी शादी को याद करके दुखी हो जाती हैं, तो ये एक निगेटिव साइन है। चित्र: शटरस्टॉक

ऐसा अक्सर रिश्ते के भीतर अनकही अपेक्षाओं के कारण होता है। सुधार करने के लिए, एक-दूसरे से की जाने वाली अपेक्षाएं रीसेट की जानी चाहिए और उनके बारे में अपने पार्टनर से खुल कर बात की जानी चाहिए।

3 फ्लडिंग यानी भावनात्मक संघर्ष 

वे जोड़े जो अपने रिश्ते में वैवाहिक जीवन में निराशा और नकारात्मकता का सामना कर रहे होते हैं वे न सिर्फ मानसिक बल्कि शारीरिक संघर्ष से भी जूझ रहे होते हैं। यह स्थिति  मनोविज्ञान की भाषा में फ्लडिंग कहलाती है। यदि आपकी ह्रदय गति तेज़ है, और आप अपना संतुलन खो रहे हैं तो ये फ्लडिंग की निशानी है, जिसकी वजह से आप चिड़चिड़ापन या खुद को पूरी तरह ड्रेन और सोचने समझने में असमर्थ महसूस करते हैं। 

ऐसे में ज़रुरत है खुद को रिलैक्स करने और ज़रूरी हो तो ब्रेक लेने की। ब्रेक लेना इसलिए भी ज़रूरी है कि आप अपनी सोचने समझने की क्षमता रीगेन कर सकें।

यह भी पढ़ें:मम्मी कहती हैं बरसात के मौसम में सिर्फ भाप लेकर किया जा सकता है कई समस्याओं का समाधान

लेखक के बारे में
शालिनी पाण्डेय

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी,
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें
Next Story