लॉग इन

Sexual Frustration : आपकी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को भी नुकसान पहुंचा सकती हैं यौन कुंठा, जरूरी है इस पर ध्यान देना

एक समय के बाद ज्यादातर जोड़े अपनी सेक्स लाइफ को पिछली पंक्ति में धकेल देते हैं। जबकि प्राथमिकता पर आ जाते हैं कॅरियर गोल्स और फाइनेंशियल ग्रोथ। यही गलती उन्हें कई स्तरों पर पछाड़ देती है।
सेक्सुअल अराउज़ल में आने वाली कमी महिला की उम्र, खानपान, मेंटल हेल्थ और रिलेशनशिप की समय अवधि पर निर्भर करता है। चित्र : अडोबी स्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published: 17 Apr 2024, 21:00 pm IST
इनपुट फ्राॅम
ऐप खोलें

अकसर हमें किसी न किसी कारणवश कुंठा होती है और हम उसे समझ नहीं पाते हैं। कुंठा की वजह सेक्स भी हो सकता है। हम इसे अनदेखा कर देते हैं। यह रिश्ते को गहराई से प्रभावित करता है। साथ ही यह ओवरऑल हेल्थ को भी प्रभावित करता है। एक्सपर्ट बताते हैं कि यदि इसका इलाज नहीं किया जाए, तो यह मेंटल हेल्थ को भी प्रभावित कर सकता है। इससे निपटने के लिए हेल्थ केयर प्रोवाइडर या चिकित्स्क से सलाह लेना जरूरी है। लेकिन सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि सेक्सुअल फ़्रस्टेशन (sexual frustration) क्या है? इसके लक्षण क्या हो सकते हैं?

क्या है सेक्सुअल फ़्रस्टेशन या यौन कुंठा (sexual frustration) 

यौन कुंठा एक जटिल और अक्सर अनदेखा किया जाने वाला मानसिक स्वास्थ्य पहलू है। यौन कुंठा से यहां मतलब अधूरी यौन इच्छाओं या जरूरतों से उत्पन्न होने वाले भावनात्मक या मनोवैज्ञानिक तनाव और असंतोष है।
यह तब सामने आता है जब व्यक्ति सेक्स में बाधा का अनुभव करता है। यौन गतिविधि में कमी, यौन संतुष्टि प्राप्त करने में कठिनाई, पार्टनर के साथ यौन इच्छाओं में असमानता भी इसका कारण बन सकता है। यह एंग्जायटी, इरिटेशन और लालसा को जन्म दे सकती है। यह किसी व्यक्ति के वेलनेस और रिश्तों को गहराई से प्रभावित कर सकता है।

प्रमुख लक्षण ये हो सकते हैं (sexual frustration symptoms) 

• चिड़चिड़ापन बढ़ जाना
• एकाग्रता में कमी
• आत्मसम्मान में कमी
• एंग्जायटी और तनाव में वृद्धि
• नींद संबंधी परेशानियां
• तनावपूर्ण अंतरंग रिश्ते
• शारीरिक लक्षण जैसे सिरदर्द या यौन रोग

हार्मोनल इम्बैलेंस बन सकते हैं वजह (sexual frustration cause) 

अधूरी यौन इच्छाओं या जरूरतों के कारण भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक तनाव उत्पन्न होता है। इसका किसी के ओवरऑल वेलनेस पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ सकता है।
• पार्टनर के बीच बेमेल सेक्सुअल डिजायर
• शारीरिक स्वास्थ्य समस्याएं जैसे इरेक्टाइल डिस्फंक्शन या हार्मोनल इम्बैलेंस
• दवाएं जो लीबिडो पर प्रतिकूल प्रभाव डालती हैं
• मानसिक स्वास्थ्य चुनौतियां जैसे अवसाद या एंग्जायटी
• रिश्ते की समस्याएं जैसे भावनात्मक अंतरंगता की कमी या अन्य मुद्दे
• सेक्सुअल परफॉर्मेंस पर समाज या खुद का लगाया गया दबाव

हो सकते हैं साइड इफेक्ट (sexual frustration side effect) 

जब इस पर ध्यान नहीं दिया जाता है, तो यह निराशा पार्टनर के साथ रिश्तों को खराब कर सकता है। आत्म-सम्मान को कम कर सकता है। और पारस्परिक संबंधों को तनावपूर्ण बना सकता है। इससे मानसिक स्वास्थ्य के साथ-साथ जीवन की गुणवत्ता भी प्रभावित हो सकती है।

 यौन कुंठा पर काबू पाने में  5 उपाय मदद कर सकते हैं (how to deal with sexual frustration) 

1 पार्टनर के साथ कम्युनिकेशन  communication with partner

यौन कुंठा पर काबू पाने के लिए सबसे पहले कम्युनिकेशन जरूरी है। चाहे वह पार्टनर के साथ हो या फिर सेक्स थेरेपिस्ट के साथ। साथी से अपनी इच्छाओं, जरूरतों और चिंताओं के बारे में खुलकर और ईमानदारी से बात करें। उन्हें भी ऐसा करने के लिए प्रोत्साहित करें। प्रभावी कम्युनिकेशन से बेहतर समझ पैदा हो सकती है। साथ मिलकर समाधान खोजा जा सकता है।
सेल्फ केयर भी जरूरी है। यौन कुंठा को दूर करने के विभिन्न तरीके यहां दिए गए हैं:

2 थेरेपिस्ट से मदद therapist help 

एक योग्य चिकित्सक या सेक्स थेरेपिस्ट की मदद लेने पर विचार करें। दोनों पार्टनर मिलकर इस विषय पर बात करें। चिकित्सक रिश्ते और यौन समस्याओं के समाधान के लिए स्थाई समाधान बता सकते हैं। यदि इरेक्टाइल डिस्फंक्शन या हार्मोनल असंतुलन जैसी शारीरिक समस्याएं हैं, तो मूल्यांकन और संभावित उपचार विकल्प के लिए डॉक्टर से परामर्श लें। जहां दवा जरूरी है, उसे लेने से नहीं हिचकिचाएं।

3 सेल्फ केयर को प्रायोरिटी  (self care priority) 

अपने शरीर को समझें। सेल्फ केयर को प्रायोरिटी दें। जो आपको प्रसन्न करता है, उसे सेक्स लाइफ में अप्लाई करें। मास्टुबरेशन इच्छाओं का पता लगाने और यौन तनाव को कम करने का एक स्वस्थ तरीका हो सकता है।

4 तनाव को प्रबंधित करें (stress management) 

हाई स्ट्रेस लेवल यौन निराशा में योगदान कर सकता है। ध्यान, योग, ब्रीदिंग एक्सरसाइज, नियमित शारीरिक गतिविधि जैसी तनाव कम करने वाली तकनीकों का अभ्यास करें। यदि मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं यौन कुंठा में योगदान करती हैं, तो इन चिंताओं को दूर करने के लिए चिकित्सा या परामर्श लें।

5 स्वस्थ जीवन शैली (healthy lifestyle) 

संतुलित आहार और नियमित व्यायाम सहित स्वस्थ जीवन शैली अपनाने से समग्र स्वास्थ्य में सुधार हो सकता है। इससे संभावित रूप से कामेच्छा में वृद्धि हो सकती है।

6 यौन शिक्षा (Sexual education) 

यौन स्वास्थ्य और अंतरंगता बढ़ाने की तकनीकों के बारे में और जानें। सेक्सुअल एजुकेशन से अधिक संतुष्टिदायक यौन अनुभव प्राप्त हो सकता है।

7 नए प्रयोग (new experiment

अपने यौन जीवन में उत्साह और विविधता लाने के लिए बैडरूम में नई चीज़ें आज़माएं। सेक्स खिलौनों को शामिल करना और अलग ढंग से सेक्स करना भी इसमें शामिल हो सकता है। यौन फैंटेसी की खोज करना या कामुक साहित्य पढ़ना इच्छा को फिर से जगाने और उत्तेजना को उत्तेजित करने में मदद कर सकता है।

यह भी पढ़ें :- Vaginal Ring : क्या अनचाहे गर्भ से बचा सकती हैं वेजाइनल रिंग? एक्सपर्ट से जानते हैं इनके बारे में सब कुछ

टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख