लीची के ठंडे-मीठे मौसम में इस रेसिपी से तैयार करें लीची का शरबत 

लीची की नेचुरल मिठास के सामने रसगुल्ला भी फीका है। तो क्यों न आज लीची शरबत के साथ इस मिठास का आनंद लिया जाए। 
लीची के फायदे बहुत हैं और लीची शरबत रेसिपी बनाना भी आसान है। चित्र : शटरस्टॉक
स्मिता सिंह Published on: 6 June 2022, 11:00 am IST
ऐप खोलें

गर्मियों के दिनों में लीची को सभी खाना पसंद करते हैं। लीची को 3-4 घंटे तक पानी में डुबोकर खाने से इसका फायदा कई गुणा बढ़ जाता है। यह न सिर्फ पाचन तंत्र को ठीक करता है, बल्कि इसके कई और फायदे भी हैं। लीची से बना शरबत इन गर्म दिनों में मिठास और ठंडक घोल सकता है। तो आइए इस आसान रेसिपी (Litchi sharbat recipe) के साथ घर पर ही तैयार करें अपने लिए ठंडा, मीठा और हेल्दी लीचीका शरबत। 

पहले जान लेते हैं सेहत के लिए लीची के फायदे 

1 लीची एंटी ऑक्सिडेंट, एंटी डायबिटिक और इम्यूनोमॉड्यूलेटरी गुणों वाला होता है।

2 सैच्युरेटेड फैट नहीं होने के कारण इसे खाने से वजन नहीं बढ़ता है।

3 विटामिन बी, विटामिन सी, नियासिन, राइबोफ्लेमिन, मैग्नीशियम, पोटैशियम, फास्फोरस मिनरल्स का बढ़िया स्रोत है लीची। लीची में विटामिन सी होने के कारण इम्यून सिस्टम मजबूत होता है।

4 इसमें फाइबर की मात्रा भरपूर होने के कारण यह पाचन तंत्र को ठीक करता है। यह गैस्ट्रिक सिस्टम को ठीक करता है, जिससे पोषक तत्वों का अवशोषण अच्छी तरह से हो पाता है।

लीची में बहुत अधिक फाइबर होता है, इसलिए पाचन तंत्र को दुरुस्त रखता है। चित्र : शटरस्टॉक

5 लीची से व्हाइट ब्लड सेल्स यानी आरबीसी भी प्रभावित होता है, जो इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में अहम भूमिका निभाता है।

6 लीची में प्रोएथोकेनडिंस पोलीफेनॉल्स पाया जाता है। स्टडी के अनुसार, यह पोलीफिनॉल एंटीवायरल बीमारियों से मुकाबला करती है। लीची में लाइचीटैनिन ए 2 कंपाउंड पाया जाता है, जो शरीर में वायरस के फैलाव को रोकता है।

7 स्किन पर दाग-धब्बों को दूर करने के लिए लीची के जूस को लगाया जाता है। यह सनबर्न और स्किन इरिटेशन को भी दूर करने में मदद करती है। बालों पर लीची के गूदे को लगाने से यह कंडीशनर का काम करता है।

8 लीची में पोटैशियम मौजूद होने के कारण यह हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है। यह जानना जरूरी है कि ताजी लीची के बजाय सूखी लीची में तीन गुना अधिक पोटेशियम पाया जाता है।

तो अब तैयार करते हैं लीची का शरबत 

लीची का शरबत बेहद लजीज होता है। इसे घर पर बनाना भी काफी आसान है। इसे 5 स्टेप में किया जा सकता है।

1 लीची का चुनाव: 

कुछ लीची को चुन लें। शुरुआत में टेस्ट करने के ख्याल से सिर्फ ढाई सौ ग्राम लीची भी ले सकती हैं। ऐसी लीची चुनें, जो ज्यादा पकी या कच्ची न हों। ताजी लीची का चुनाव करें।

2 गूदे को निकाल लें : 

लीची को छीलकर धो लें। छीली हुई लीचियों को एक कंटेनर में रख लें। लीची के गूदे को आराम से चाकू से काट लें। चाकू से चीरा लगाने के बाद गूदा आराम से हाथ से भी निकल आता है। लीची के छोटे-छोटे टुकड़े काटें, बड़े नहीं। बीज को फेंक दें।

3 लीची के गूदे को जूसर में डालें: 

अब लीची के गूदे को जूसर में डाल दें। पानी की मात्रा लीची की मात्रा पर निर्भर करती है। यदि ढाई सौ ग्राम लीची है, तो बड़ा गिलास ठंडा पानी डाला जा सकता है।

4 अच्छी तरह पीसें गूदे को : 

अच्छी तरह पिस जाने के बाद इसे जूसर से निकाल लें। यदि जूसर में इसे तैयार किया है, तो फिर इसे छानने की जरूरत नहीं है। यदि आपने पीसने का काम मिक्सर में किया है, तो इसे छाना जा सकता है।

5 तैयार है शरबत : 

यदि आपको लग रहा है कि लीची अच्छी तरह नहीं पिस पाई है, तो एक बार और जूसर चला लें। लीची का टेस्टी और न्यूट्रीशियस शरबत तैयार है। खुद भी पिएं और परिवारजनों- दोस्तों को भी पिलाएं।

यहां पढ़ें:-मिठास भरा जूसी फ्रूट है लीची, पर जानिए क्यों जरूरी है इसे खाने से पहले पानी में डुबोना 

लेखक के बारे में
स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी,
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें
Next Story