वेट लॉस फ्रेंडली फूड है मोरिंगा, आज ही शामिल करें इसे अपनी डाइट में

हमें यकीन है कि आपने कई बार मोरिंगा (Moringa) यानी ड्रमस्टिक (Drumstick) साउथ इंडियन डिश में ज़रूर खाया होगा। ये दिखने में किसी गोल डंडी के आकार की दिखती हैं और इनका स्वाद लाजवाब होता है।
मोरिंगा विटामिन्स का खजाना है। चित्र: शटरस्टॉक
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ Updated on: 9 September 2021, 10:13 am IST
ऐप खोलें

मोरिंगा विटामिन और खनिजों से भरपूर होते हैं। इसके अलावा ये स्वस्थ एंटीऑक्सीडेंट और बायोएक्टिव प्लांट कंपाउंड से भी भरपूर होते हैं। कैल्शियम और फास्फोरस से भरपूर मोरिंगा, गठिया और जोड़ों के दर्द से पीड़ित लोगों के लिए अच्छे होते हैं।

इतना ही नहीं, ड्रमस्टिक में पाए जाने वाले आइसोथियोसाइनेट और नियाज़िमिनिन यौगिक धमनियों को मोटा होने से रोक सकते हैं और स्ट्रोक और दिल के दौरे के जोखिम को रोक सकते हैं।

एक कप या 21 ग्राम मोरिंगा (Moringa) में शामिल हैं:

प्रोटीन: 2 ग्राम
विटामिन B6: 20%
विटामिन C: 11%
आयरन: 10%
राइबोफ्लेविन (B2): 11%
विटामिन A (बीटा-कैरोटीन से): 9%
मैग्नीशियम: 8%

ड्रमस्टिक को अपनी डाइट में शामिल करें और इसके स्वास्थ्य लाभों का आनंद लें। चित्र-शटरस्टॉक।

हमें यह तो पता चल गया कि मोरिंगा स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है, मगर क्या आप जानती हैं कि यह आपकी वेट लॉस जर्नी में भी फायदेमंद साबित होता है? है न अच्छी खबर! चालिए पता करते हैं कैसे –

जानिए वज़न घटाने में कैसे मददगार है मोरिंगा

वजन कम करने की कोशिश कर रहे लोगों के लिए मोरिंगा फायदेमंद है। जानवरों पर किए गए विभिन्न अध्ययनों से पता चलता है कि मोरिंगा शरीर में वसा के गठन को कम कर सकता है और फैट ब्रेकडाउन में सुधार कर सकता है। यहाँ तक कि मोरिंगा के पत्तों में भी एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद हैं।

पबमेड सेंट्रल द्वारा किए गए एक अध्ययन के अनुसार – मोरिंगा, हल्दी और करी युक्त सप्लिमेंट के 900 मिलीग्राम लेने वाले लोगों ने 10.6 पाउंड तक लूज किए। कुछ शोधकर्ताओं के अनुसार, मोरिंगा के पत्तों, फली और बीजों में पाए जाने वाले मुख्य एंटी-इंफ्लेमेटरी यौगिक आइसोथियोसाइनेट्स, भी वजन घटाने में मुख्य भूमिका निभाते हैं।

ये ड्रमस्टिक सूप रेसिपी। चित्र : शटरस्टॉक

वज़न घटाने के लिए कैसे इस्तेमाल करें मोरिंगा

मोरिंगा की चाय

ड्रमस्टिक का सेवन चाय के रूप में भी किया जा सकता है। आप मोरिंगा की पत्तियों को जड़ी-बूटियों – जैसे कि दालचीनी या तुलसी के साथ उबाल सकती हैं। यह स्वाभाविक रूप से कैफीन मुक्त है, इसलिए आप इसे सोने से पहले या सुबह पी सकती हैं।

पाउडर के रूप में

मोरिंगा लीफ पाउडर एक लोकप्रिय विकल्प है। कहा जाता है कि इसका स्वाद कड़वा और थोड़ा मीठा होता है। आप अपने पोषण सेवन को बढ़ावा देने के लिए आसानी से पाउडर को शेक, स्मूदी और दही में मिला सकती हैं।

यह भी पढ़ें : शराब में कॉफी मिलाकर पीना आपकी सेहत पर पड़ सकता है भारी! जानिए इसके दुष्प्रभाव

लेखक के बारे में
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
Next Story