लॉग इन

शुगर पेशेंट हैं और रात को भूख लगती है, तो नाइट क्रेविंग कंट्रोल करने के लिए इन 3 चीजों का रखें ध्यान

सोने के समय भारी भोजन करने से नींद पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है, लेकिन खाली पेट बिस्तर पर नहीं जाना चाहिए। इसलिए आपको कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में पता होना चाहिए जो आपके पेट को भी भर दे और आपकी नींद भी खराब न करें।
पाचन तंत्र को बेहतर रखने के लिए आपको फाइबर की मात्रा लेना वैसे भी बहुत जरूरी होता है। । चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Published: 24 Mar 2024, 06:30 pm IST
ऐप खोलें

नाइट क्रेविंग का अक्सर बुरा प्रभाव पड़ता है, लेकिन स्वस्थ विकल्प निश्चित रूप से मौजूद हैं। लेकिन सबसे जरूरी उस चीज़ की तलाश करना है जो सोने से ठीक पहले आपके रक्त शर्करा को नहीं बढ़ाएगा और आपकी नींद को बाधित नहीं करेगा। इसलिए आपको ऐसे खाद्य पदार्थों को चुनने की सलाह दी जाती हैं जो आपकी भूख को संतुष्ट करेंगे, रक्त शर्करा के स्तर को स्थिर रखेंगे और कुछ आरामदायक लाभ प्रदान करेंगे।

सोने के समय भारी भोजन करने से नींद पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है, लेकिन खाली पेट बिस्तर पर नहीं जाना चाहिए। इसलिए आपको कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में पता होना चाहिए जो आपके पेट को भी भर दे और आपकी नींद भी खराब न करें। आपको इस बात का ध्यान रखना है कि आपको बेडटाइम स्नैक्स को पहले से ही आपको अलग करके रखना है ताकि आपको जब इसकी क्रेविंग हो तो आपको ये आसानी से मिल जाएं।

सोने के समय भारी भोजन करने से नींद पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

बेडटाइम स्नैक्स में आपको क्या चीज खानी चाहिए

मैग्नीशियम (Magnesium) 

मैग्नीशियम एक आवश्यक खनिज है जिसकी हमारे शरीर को आवश्यकता होती है, फिर भी हममें से कई लोग इसे अपनी रोज की जरूरतों के हिसाब से पूरा नहीं कर पाते है। यह मस्तिष्क कार्य, हृदय स्वास्थ्य, मांसपेशी, हड्डियों के स्वास्थ्य और नींद की गुणवत्ता सहित स्वास्थ्य को विभिन्न रूप से स्वस्थ बनाता है।

इसलिए, अपने बैडटाइम स्नैक्स में मैग्नीशियम युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करना फायदेमंद होता है। उदाहरण के लिए, बादाम न केवल मैग्नीशियम से भरपूर होते हैं बल्कि इसमें रक्त शर्करा के अनुकूल फाइबर भी होते हैं। इसके अतिरिक्त, सोने से पहले मैग्नीशियम युक्त स्लीप सप्लीमेंट लेने से आपको गहरी नींद लेने में मदद मिलती है। इसके लिए आप मुट्ठी भर बादाम या बिना चीनी वाला आल्मंड बटर ले सकते है।

फाइबर का सेवन (Fiber)

पाचन तंत्र को बेहतर रखने के लिए आपको फाइबर की मात्रा लेना वैसे भी बहुत जरूरी होता है। कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि जिन खाद्य पदार्थों में फाइबर की मात्रा अधिक होती है, वे गहरी नींद में मदद कर सकते हैं। लेकिन मीठे व्यंजन रक्त शर्करा को बढ़ाते है और गहरी नींद में भी बाधा बन सकते है। ऐसे खाद्य पदार्थ जिनमें फाइबर है और बहुत कम प्रोसेस्ड है वे रक्त शर्करा को स्थिर करने में मदद करते है। ड्राई फ्रूट्स, सीड्स, और कुछ फल, सब्जियां सभी सोते समय खाएं जा सकते है। इसके लिए आप गाजर और एक चम्मच ह्यूमस या एक नाशपाती खा सकते है।

मैग्नीशियम युक्त स्लीप सप्लीमेंट लेने से आपको गहरी नींद लेने में मदद मिलती है। चित्र:शटरस्टॉक

ट्रिप्टोफैन युक्त दुध पी सकते हैं (Tryptophan)

आपने देखा होगा की गर्म दूध पीने से बहुत जल्दी नींद आ जाती है। दूध में मौजूद ट्रिप्टोफैन और कुछ गैर-डेयरी विकल्प जैसे ओट्स या बादाम का दूध में आराम देने वाला प्रभाव होते हैं और हमें सोने में लगने वाले समय को कम कर सकते हैं। दूध को और टेस्टी बनाने के लिए दूध में हल्दी, लौंग, जायफल और दालचीनी जैसे मसाले मिला सकते हैं।

गर्मागर्म दूध को पीने से आपके शरीर और दिमाग को दिन भर की थकान से राहत पाने में मदद मिल सकती है और यह आपको शांत करने में मदद करता है। रात में बहुत अधिक तरल पदार्थ भी न लें क्योंकि इससे आपको नींद के बीच में बाथरूम जाना पड़ सकता है। इसलिए शरीर की जरूरत के हिसाब से इसे लें।

ये भी पढ़े- एसी या कूलर नहीं इन 5 हाइड्रेटिंग फलों के साथ करें गर्मी का स्वागत, जानें क्या है इनकी खासियत

संध्या सिंह

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख