पेट साफ करने में हो रही है दिक्कत, तो अपनाएं ये 4 आसान घरेलू उपाय

2018 में किए गए सर्वेक्षण के अनुसार, 22% भारतीय वयस्क कब्ज से पीड़ित हैं। ऐसे में अपने मल त्याग को आसान बनाने के लिए अपनाएं ये उपाय।
तनाव और बार-बार मोशन होना दोनों एक-दूसरे से जुडे हैं।चित्र : शटरस्टॉक
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ Published on: 25 January 2022, 08:00 am IST
ऐप खोलें

कब्ज (Constipation) एक साधारण समस्या लगती है, लेकिन अगर इस पर ध्यान न दिया जाए तो यह आपके जीवन की गुणवत्ता को प्रभावित कर सकती है। इसके अलावा, कब्ज के कभी-कभी गंभीर अंतर्निहित कारण हो सकते हैं जैसे बोवेल रुकावट (bowel obstructions), चयापचय संबंधी विकार (metabolic disorders), पेल्विक प्रोलैप्स (pelvic prolapse) या यहां तक ​​कि कोलन कैंसर (colon cancer)।

इसे किसी भी सूरत में नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए। इसलिए आज हम आपके लिए लाए हैं कुछ घरेलू उपाय जो आपको जल्दी मल त्याग करने में मदद करेंगे। तो चलिये जानते हैं इनके बारे में –

1. गुनगुना पानी पिएं

पानी हमारी कई बीमारियों के लिए सरल उपचारों में से एक है। अपनी गट को ठीक से चलाने के लिए नियमित रूप से पानी पीना चाहिए। पानी उचित पाचन प्रक्रिया में मदद करता है और मांसपेशियों की गति में भी मदद करता है।

सर्दियों के मौसम में आपके शरीर को पानी की अधिक जरूरत होती है। चित्र: शटरस्टॉक

कई बार मौसम में बदलाव के कारण डिहाइड्रेशन हो सकता है। यह कब्ज (Constipation) के प्रमुख कारणों में से एक है। गुनगुना पानी पीने से मल त्याग में आपको कोई परेशानी नहीं आएगी। इसलिए यदि आपको कब्ज़ की समस्या है, तो हर रोज़ सुबह खाली पेट गुनगुना पानी पिएं।

2. कॉफी

कब्ज होने पर एक कप कॉफी पिएं। कॉफी (Coffee) आपके कोलन को उत्तेजित करती है और माल त्याग में मदद करती है। सुबह की एक कप कॉफी प्रैशर को दूर करने में मदद कर सकती है। कॉफी एक मूत्रवर्धक भी है, इसलिए इसका ज़्यादा सेवन न करें और पर्याप्त पानी पिएं।

3. अदरक

2018 की एक शोध समीक्षा से पता चला है कि अदरक (Ginger) कब्ज़ को दूर करने और पाचन को सुचारू रूप से चलाने में सक्षम है। अदरक आपकी निचली आंतों पर दबाव को कम करती है, जिससे आपको जल्दी मल त्याग करने में मदद मिल सकती है। इसलिए अदरक की चाय का सेवन करें। पानी में एक छोटा टुकड़ा अदरक उबालें और पिएं।

अदरक का सेवन एक बेहतरीन घरेलू उपचार है। चित्र: शटरस्टॉक

4. दूध और घी

घी, भारतीय खानपान का एक अहम हिस्सा है और कई तरह के आयुर्वेदिक घरेलू उपचार में भी लोकप्रिय है। कई अध्ययनों में सामने आया है कि घी आंतों में रुकावट और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल संकट के लक्षण, जैसे ऐंठन को कम करता है। इसलिए कब्ज के लक्षणों से राहत पाने के लिए गर्म दूध में एक चम्मच घी मिलाकर सोने से पहले पिएं।

इसके अलावा मल त्याग को आसान बनाने और कब्ज को दूर करने के लिए इन टिप्स को अपनाएं

खूब सारा पानी पिएं।
डेयरी उत्पादों को अपने आहार में शामिल करें।
नियमित एक्सरसाइज़ या योग करें। जॉगिंग के लिए जाएं या कोई अन्य हल्का व्यायाम करें।
फाइबर युक्त भोजन खाएं, जो कब्ज को दूर करने में मदद करता है, जैसे कि आलूबुखारा, सेब, अंजीर या पालक।

चलते-चलते

कब्ज एक साधारण समस्या लगती है, लेकिन अगर इस पर ध्यान न दिया जाए तो यह आपके जीवन की गुणवत्ता को प्रभावित कर सकती है। अपने परिवार या डॉक्टर के मार्गदर्शन में इन घरेलू उपचारों का पालन करें और अपने आप को कब्ज से मुक्त करें। समस्या अगर गंभीर है, तो डॉक्टर से संपर्क करना न भूलें।

यह भी पढ़ें : Covid-19 नेगेटिव होने के बाद अपना टूथब्रश बदलना न भूलें, हम बता रहे हैं क्यों

लेखक के बारे में
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
Next Story