केल को हटाकर अपनी फूड टेबल में शामिल करें ये 5 देसी और पौष्टिक सब्जियां

केल अपने पौष्टिक गुणों के कारण पूरी दुनिया में बेहद लोकप्रिय हो गया है, लेकिन क्या आप जानती हैं कि हमारी कुछ देसी सब्जियां केल के बराबर ही पौष्टिक तत्वों से भरी हैं।
केल की जगह आप इन भारतीय सब्जियों से भी पोषण प्राप्‍त कर सकती हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Updated on: 26 April 2022, 10:42 am IST
ऐप खोलें

पिछले कुछ सालों में, स्वास्थ्य और फिटनेस सबसे ज्‍यादा चर्चा का विषय बना हुआ है। जो सही दिशा में एक कदम है, हम एवोकाडो और केल (Kale) जैसे खाद्य पदार्थों के बारे में जानते हैं। हमें इस बात से इंकार नहीं है कि ये पोषण से भरपूर हैं, लेकिन केल स्मूदी और सलाद पर एक भारतीय आखिर कितने दिन तक निर्भर रह सकता है?

हमारी भारतीय रसोई स्वास्थ्य और पोषण का खजाना है, तो चलिए इस खजाने से हम 5 देसी सब्जियों का चुनाव करते हैं और उस पर बात करते हैं। यहां पांच देसी सब्जियों के बारे में लिखा जा रहा है, जो केल के समान ही पौष्टिक हैं। जानने के लिए उत्साहित हैं? तो चलिए चर्चा करते हैं!

1. पालक

ये हरी पत्तेदार सब्जी सबसे अधिक पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थों में से एक है। ये न सिर्फ हेल्दी है, बल्कि सुपर टेस्टी भी है। ज़रा पालक पनीर या पालक के परांठे के बारे में सोचिए – ये खाने में टेस्टी और विटामिन के, सी और डी से समृद्ध होता है। इसमें आहार फाइबर, लोहा, पोटेशियम, कैल्शियम और मैग्नीशियम भी शामिल हैं।

पालक आयरन का जरूरी स्रोत है। चित्र: शटरस्‍टॉक

इस सब्जी को नियमित रूप से खाएं और अपने शरीर को एनीमिया, हृदय संबंधी बीमारियों से बचाएं। पालक आपकी आंखों की रोशनी, त्वचा और बालों की गुणवत्ता में सुधार करने में भी मदद करता है।

2. सरसों का साग

सरसों के साग के साथ मक्की की रोटी खाए बिना कोई सर्दी नहीं बीतती! ये उत्तर भारत में लोकप्रिय बात है और ठीक भी है। ये न केवल स्वादिष्ट है, बल्कि ये विटामिन ए, सी, ई और के सहित कई पोषक तत्व भी प्रदान करता है। इसके अलावा, इसमें कैल्शियम, मैग्नीशियम, जस्ता, पोटेशियम और आहार फाइबर की उच्च मात्रा होती है। ये आपके कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रण में रखने में भी मदद करता है!

3. मेथी

मेथी का सेवन कई तरह से किया जा सकता है। कुछ लोग बीज रखना पसंद करते हैं, जबकि अन्य पत्ते पसंद करते हैं। हम दोनों चीजें खाने का सुझाव देते हैं, क्योंकि ये पोषण से भरे होते हैं। दरअसल, मेथी के पत्तों में आयरन, डाइटरी फाइबर, प्रोटीन के साथ-साथ एंटीऑक्सीडेंट के अलावा सभी तरह के विटामिन और मिनरल होते हैं।

मेथी की रोटी मेथी के सेवन का सबसे आसान तरीका है। चित्र: शटरस्‍टॉक

ये सब्जी नई मांओं के लिए दूध के उत्पादन में मदद कर सकती है। ये आपकी भूख और शरीर में सूजन को नियंत्रित करने में भी मदद करता है।

4. बथुआ

इस हरी पत्तेदार सब्जी के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं- जी हां हम बात कर रहे हैं बथुआ की। ये राजस्थान, बंगाल और बिहार राज्यों का एक मुख्य भोजन है। इसमें विटामिन ए, सी और बी कॉम्प्लेक्स होते हैं और इसमें उच्च स्तर के अमीनो एसिड, लोहा, पोटेशियम, फास्फोरस और कैल्शियम भी होते हैं। ये कब्ज से निपटने में मदद करता है और आपके लीवर के स्वास्थ्य में भी सुधार करता है।

5. अरबी

कोलोकेशिया या अरबी भारत के सभी भागों में एक आम भोजन है। इसकी जड़ को बहुत से लोग खाते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि आप इसके पत्तों का भी सेवन कर सकते हैं। उनमें न केवल विटामिन ए और सी प्रचुर मात्रा में होता है, बल्कि आयरन, फाइबर और फोलिक एसिड भी होता है।

तो, इस सब्जी का आनंद लें, क्योंकि ये आपकी दृष्टि में सुधार करने में मदद करती है, और आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर का ख्याल रखती है। और अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं, तो अरबी पर भरोसा कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें – क्‍या हल्‍दी की गोली खाना आपकी सेहत को ज्‍यादा फायदा पहुंचा सकता है? जानिये क्या है सच्चाई

लेखक के बारे में
टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
Next Story